Create

3 कारण जिनकी वजह से चेतेश्वर पुजारा को इंग्लैंड के खिलाफ प्लेइंग XI से ड्रॉप किया जा सकता है 

चेतेश्वर पुजारा
चेतेश्वर पुजारा

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का समापन हो चुका है और अब भारतीय टीम ब्रेक के बाद अगस्त में इंग्लैंड के खिलाफ पांच टेस्ट मैचों की सीरीज खेलेगी। यह सीरीज भारतीय दृष्टिकोण से महत्वपूर्ण है और कई खिलाड़ियों के भविष्य का फैसला भी इस सीरीज के माध्यम से किया जा सकता है और इन्हीं में से एक खिलाड़ी हैं, चेतेश्वर पुजारा। पुजारा काफी सालों से टेस्ट में भारतीय टीम का महत्वपूर्ण हिस्सा बने हुए हैं लेकिन पिछले कुछ समय से उनके बल्ले से रन नहीं निकल रहे हैं और फाइनल में भी उन्होंने बतौर बल्लेबाज निराश ही किया। पुजारा ने पहली पारी में 8 और दूसरी पारी में 15 रन बनाये।

यह भी पढ़ें : 3 खिलाड़ी जो भारतीय टीम के मध्यक्रम में अजिंक्य रहाणे की जगह ले सकते हैं

लम्बे समय से खराब प्रदर्शन के कारण प्लेइंग XI में अब पुजारा की जगह को लेकर सवाल उठना शुरू हो गए हैं। हालांकि कुछ पूर्व खिलाड़ी जरूर पुजारा के बचाव में उतर आये हैं लेकिन कप्तान विराट कोहली जरूर पुजारा को लेकर इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के लिए अपना निर्णय ले चुके होंगे। हालांकि पुजारा को शुरूआती मैचों में शायद ना बाहर किया जाये लेकिन पांच मैचों की सीरीज के दौरान किसी ना किसी मैच में उन्हें अपने खराब प्रदर्शन का खामियाजा भुगतना पड़ सकता है। ऐसे में हम इस आर्टिकल में उन 3 कारणों का जिक्र करने जा रहे हैं, जिनकी वजह से पुजारा को इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के दौरान ड्रॉप किया जा सकता है।

3 कारण जिनकी वजह से चेतेश्वर पुजारा को इंग्लैंड के खिलाफ सीरीज के दौरान प्लेइंग XI से ड्रॉप किया जा सकता है

#3 पुजारा को ब्रेक देकर उन्हें गलतियों में सुधर का मौका देना

पाई चार्ट की मदद से पुजारा का इंग्लैंड के खिलाफ आउट होने के आंकड़े
पाई चार्ट की मदद से पुजारा का इंग्लैंड के खिलाफ आउट होने के आंकड़े

चेतेश्वर पुजारा ने 39 पारियां इंग्लैंड के खिलाफ खेली हैं। इस दौरान उनका बल्लेबाजी औसत 40 से भी ज्यादा का है। हालांकि यह बल्लेबाज इंग्लैंड के खिलाफ कैच आउट सर्वाधिक बार हुआ है, जो यह साफ़ तौर पर दर्शाता है कि पुजारा इंग्लैंड के खिलाफ अपने शॉट्स के कारण कैच आउट होते हैं। ऐसे में उन्हें ब्रेक देकर खुद की बल्लेबाजी पर काम करने का मौका दिया जा सकता है।

#2 अन्य बल्लेबाजों को मौका देने के लिए

मयंक अग्रवाल और केएल राहुल
मयंक अग्रवाल और केएल राहुल

पुजारा के लगातार खराब प्रदर्शन के कारण कप्तान विराट कोहली पर स्क्वॉड में मौजूद अन्य खिलाड़ियों को प्लेइंग XI में मौका देने का दवाब बढ़ रहा है। ऐसे में पुजारा को अगर इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज के कुछ मैचों में बाहर किया जाता है तो केएल राहुल, हनुमा विहारी और मयंक अग्रवाल में से किसी एक को खेलने का मौका मिल सकता है। ये सभी खिलाड़ी प्रतिभाशाली हैं और पुजारा के खराब प्रदर्शन के बाद विराट जरूर इनमें से किसी ना किसी को आजमाना चाहेंगे।

#1 चेतेश्वर पुजारा की खराब फॉर्म

चेतेश्वर पुजारा
चेतेश्वर पुजारा

चेतेश्वर पुजारा को टेस्ट प्रारूप में बड़ी पारियां खेलने के लिए जाता है लेकिन इस बल्लेबाज ने पिछले दो सालों में एक भी शतक नहीं बनाया है। इसके अलावा अहम मैचों में पुजारा बल्लेबाजी में फ्लॉप भी साबित हुए हैं। पुजारा का 2020 में टेस्ट औसत 20.38 का था और इस साल 30.33 का है। पिछली 12 पारियों में उनके बल्ले से 4 अर्धशतक आये हैं लेकिन एक भी शतकीय पारी नहीं देखने को मिली। ऐसे में पुजारा के ज्यादा रन ना होने के कारण उन्हें बाहर बिठाया जा सकता है।

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment