3 कारण क्यों भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरा टेस्ट मैच जीत सकती है

शुभमन गिल और अजिंक्य रहाणे
शुभमन गिल और अजिंक्य रहाणे

भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच 4 मैचों की टेस्ट सीरीज जारी है। दोनों ही टीमें 1-1 मुकाबला इस सीरीज में जीत चुकी हैं। एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट मैच में जहां ऑस्ट्रेलिया ने जीत हासिल की थी तो वहीं मेलबर्न में हुए मुकाबले में भारतीय टीम ने वापसी करते हुए ऑस्ट्रेलिया को हराया।

भारतीय टीम एडिलेड टेस्ट मैच की दूसरी पारी में सिर्फ 36 रनों पर ऑल आउट हो गई थी। इसके बाद कई दिग्गजों का मानना था कि भारतीय टीम को सीरीज के सभी मैचों में हार झेलनी पड़ेगी। सबका यही मानना था कि इंडियन बैटिंग काफी कमजोर हो गई है और वो ऑस्ट्रेलिया तेज गेंदबाजों का सामना नहीं कर पाएंगे। कप्तान विराट कोहली के वापस लौटने के बाद भारतीय बैटिंग को लेकर लोगों की चिंताएं और भी बढ़ गई थीं।

ये भी पढ़ें: भारतीय टीम टेस्ट क्रिकेट में कैसे नंबर एक टीम बन सकती है ?

हालांकि भारतीय टीम ने जिस तरह से वापसी की उसने सबको चौंका दिया। विराट कोहली, रोहित शर्मा, इशांत शर्मा और मोहम्मद शमी की अनुपस्थिति में जिस तरह भारत ने जीत हासिल की उससे उनके हौसले बुलंद हो गए हैं। अब भारत का कॉन्फिडेंस काफी बढ़ गया है जिससे वो तीसरे टेस्ट मुकाबले में भी जीत हासिल कर सकते हैं।

आइए आपको बताते हैं कि क्यों भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरा टेस्ट मुकाबला जीत सकती है।

3 कारण क्यों भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरा टेस्ट मैच जीत सकती है

1.टीम का बेहतरीन कॉन्फिडेंस

भारतीय क्रिकेट टीम
भारतीय क्रिकेट टीम

36 रनों पर ऑलआउट होने के बाद भारतीय टीम ने जिस तरह की वापसी की उससे उनका कॉन्फिडेंस काफी बढ़ गया है। यही वजह है कि सभी खिलाड़ियों के हौंसले काफी बुलंद होंगे और इसका असर उनके परफॉर्मेंस में भी देखने को मिल सकता है। भारतीय टीम के सभी खिलाड़ी इस वक्त काफी अच्छे मूड में हैं और वो तीसरे टेस्ट मैच में भी जबरदस्त प्रदर्शन कर सकते हैं। यही वजह है कि भारतीय टीम तीसरा टेस्ट मुकाबला भी अपने नाम कर सकती है।

ये भी पढ़ें: 4 ऐसे मौके जब ऑस्ट्रेलियाई टीम को करारी शिकस्त के बाद शर्मिंदगी झेलनी पड़ी

2.गेंदबाजों का लय में होना

Aभ
भारतीय क्रिकेट टीम

भारतीय टीम की गेंदबाजी इस सीरीज में काफी जबरदस्त रही है। टीम के सभी गेंदबाजों ने बेहतरीन प्रदर्शन किया है। ईशांत शर्मा, मोहम्मद शमी और उमेश यादव जैसे दिग्गज गेंदबाजों के ना होने के बावजूद बाकी गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया है। यही वजह है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम भारत के खिलाफ अभी तक मुश्किल से एक बार ही 200 रन बना पाई है। भारतीय गेंदबाजों ने किसी भी ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज को खुलकर खेलने का मौका नहीं दिया है। यही वजह है कि भारतीय टीम के जीत के आसार ज्यादा हैं।

3.भारतीय बल्लेबाजों का फॉर्म में वापस आना

अजिंक्य रहाणे
अजिंक्य रहाणे

भारतीय टीम के बल्लेबाज भी धीरे-धीरे फॉर्म में वापस आ गए हैं। शुभमन गिल ने जहां सलामी बल्लेबाज के तौर पर अच्छा प्रदर्शन किया है तो वहीं अजिंक्य रहाणे के शतक से टीम का भरोसा और बढ़ गया होगा। रोहित शर्मा भी टीम के साथ जुड़ गए हैं। ऐसे में टीम की बल्लेबाजी और ज्यादा मजबूत हो गई है। भारत ने पिछले मुकाबले में 300 से ज्यादा रन बनाए थे, जबकि कंगारू टीम अभी तक सिर्फ एक ही बार 200 रनों के आंकड़े को हासिल कर पाई है।

Quick Links