Create
Notifications

3 कारण क्यों टी20 वर्ल्ड कप की जगह इस साल आईपीएल का आयोजन होना चाहिए

आईपीएल
आईपीएल
सावन गुप्ता

कोरोना वायरस के कारण पूरी दुनिया में क्रिकेट गतिविधियां बंद हैं। 3 महीने से ज्यादा का वक्त हो गया है, जब आखिरी बार कोई अंतर्राष्ट्रीय मुकाबला खेला गया था। टी20 वर्ल्ड कप और आईपीएल समेत बड़े टूर्नामेंट्स को रद्द करना पड़ा। सारी क्रिकेट सीरीज भी रद्द करनी पड़ी थी। हालांकि अब कुछ देशों में धीरे-धीरे हालात में सुधार हो रहा है और वहां पर क्रिकेट वापस लौटने की उम्मीद है।

उदाहरण के लिए वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच 8 जुलाई से टेस्ट सीरीज की शुरुआत होगी। वेस्टइंडीज की टीम इंग्लैंड पहुंच भी गई है और 14 दिनों के लिए क्वांरटीन में है। अगर ये सीरीज सफल रहती है तो फिर आगे की क्रिकेट के लिए रास्ता खुल जाएगा।

ये भी पढ़ें: आईपीएल में जबरदस्त प्रदर्शन करने वाले 4 ऐसे खिलाड़ी जिन्हें अब भुला दिया गया है

हालांकि सबसे बड़ा सवाल ये है कि इस साल आईपीएल और टी20 वर्ल्ड कप में से किसका आयोजन हो पाएगा। पहले ये कयास लगाए जा रहे थे कि ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन इस साल नहीं हो पाएगा। ऐसे में आईपीएल उसी विंडो पर कराए जाने की कोशिश की जा रही थी। लेकिन हाल ही में ऑस्ट्रेलियाई सरकार द्वारा जो बयान आया है, उसे देखते हुए टी20 वर्ल्ड कप के चासेंस बढ़ गए हैं। हालांकि अगर टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन हुआ तो फिर आईपीएल का आयोजन मुश्किल में पड़ सकता है, क्योंकि तब बीसीसीआई को विंडो नहीं मिल पाएगा।

टी20 वर्ल्ड कप और आईपीएल में से किसका आयोजन इस साल होगा, इस पर अभी स्थिति पूरी तरह से स्पष्ट नहीं है। बीसीसीआई प्रेसिडेंट सौरव गांगुली कह चुके हैं कि वो इस साल आईपीएल का आयोजन कराने के लिए हर संभव विकल्प की तलाश कर रहे हैं।

ये भी पढ़ें: अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में 50 हजार से ज्यादा गेंद फेंकने वाले 3 गेंदबाज

वैसे देखा जाए तो वर्ल्ड कप की जगह आईपीएल का आयोजन कराना ज्यादा सही रहेगा। ऐसा क्यों है, इसका कारण हम आपको बताते हैं।

टी20 वर्ल्ड कप की जगह आईपीएल कराना क्यों सही फैसला रहेगा

3. बिना क्राउड के वर्ल्ड कप के मैचों में वो मजा नहीं रह जाएगा

खाली स्टेडियम
खाली स्टेडियम

आईपीएल एक टी20 लीग है जो हर साल आता है लेकिन टी20 वर्ल्ड कप हर 2 साल में आयोजित होता है और इस बार इसका आयोजन 4 साल बाद होगा। अगर टी20 वर्ल्ड कप इस साल कराया गया तो जाहिर सी बात है ये बिना क्राउड के होगा। इस दौरान फैंस को स्टेडियम में जाने की अनुमति नहीं होगी। वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में अगर फैंस स्टेडियम में नहीं जाएंगे तो फिर उसका मजा उतना नहीं रह जाएगा।

आईपीएल बिना फैंस के कराया जा सकता है क्योंकि उसका आयोजन हर साल होता है और उसमें पैसे आने के कई सारे माध्यम होते हैं लेकिन वर्ल्ड कप में गेट मनी काफी बड़ा रोल अदा करती है। ऐसे में उसका घाटा भी ऑस्ट्रेलिया को उठाना पड़ेगा।

2.बिना प्रैक्टिस के टी20 वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट में खेलने में खिलाड़ियों को दिक्कत

ट्रेनिंग के दौरान भारतीय खिलाड़ी
ट्रेनिंग के दौरान भारतीय खिलाड़ी

3 महीने से ज्यादा का वक्त हो गया है जबसे खिलाड़ियों ने कोई भी प्रतिस्पर्धी मुकाबला नहीं खेला है। यहां तक कि इस दौरान उन्हें नेट्स में अभ्यास का मौका तक नहीं मिला है। ऐसे में बिना अभ्यास और तैयारी के खिलाड़ी अचानक से टी20 वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट्स में खेलने कैसे जा सकते हैं।

कई खिलाड़ी खुद भी कह चुके हैं कि उन्हें तैयारी के लिए मौका चाहिए होगा और उसके लिए आईपीएल बेस्ट है। आईपीएल में दुनिया के दिग्गज खिलाड़ी खेलते हैं और अगर प्लेयर उसमें खेलेंगे तो उनकी तैयारी काफी अच्छी तरह से हो जाएगी।

1.एक साथ 16 टीमों के इकट्ठे होने से कोरोना वायरस का खतरा

ऑस्ट्रेलिया vs न्यूजीलैंड
ऑस्ट्रेलिया vs न्यूजीलैंड

जब टी20 वर्ल्ड कप का आयोजन होगा तो उसमें एक साथ कुल 16 टीमें इकट्ठा होंगी। खिलाड़ियों के अलावा उनके सपोर्ट स्टाफ, डॉक्टर और उस देश की मीडिया भी आएगी। ऐसे में काफी लोगों का जमावड़ा एक ही जगह हो जाएगा। भारत समेत कई ऐसे देश हैं जहां पर कोरोना वायरस का प्रकोप काफी ज्यादा है, ऐसे में अगर सभी टीमें इकट्ठी हुईं तो इस वायरस के फैलने का खतरा भी रहेगा।

इन सभी चीजों को देखते हुए आईपीएल का आयोजन कराना ज्यादा सही रहेगा।

Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...