Create
Notifications

3 कारण क्यों वनडे टीम में संजू सैमसन की जगह ईशान किशन को मौका मिलना चाहिए था

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL
सावन गुप्ता

आईपीएल (IPL) के बाद भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया का दौरा करेगी। भारतीय खिलाड़ी दुबई से सीधे ऑस्ट्रेलिया के लिए रवाना हो जाएंगे। इस दौरे के लिए भारतीय टीम का ऐलान कुछ दिनों पहले ही कर दिया गया था। हालांकि अब इसमें कई बदलाव हुए हैं। वरुण चक्रवर्ती के चोटिल होने की वजह से टी नटराजन को टी20 टीम में जगह दी गई है। वहीं विराट कोहली के आखिरी 3 टेस्ट मैचों के लिए अनुपलब्ध रहने के कारण रोहित शर्मा को टीम में शामिल कर लिया गया है।

इसी कड़ी में एक अहम बदलाव वनडे टीम में भी हुआ है। ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारतीय वनडे टीम में अतिरिक्त विकेटकीपर के तौर पर संजू सैमसन को जगह दी गई है। केएल राहुल भारतीय टीम में पहले विकेटकीपर हैं और संजू सैमसन को भी अब शामिल कर लिया गया है। बीसीसीआई ने अपनी वेबसाइट पर इसकी जानकारी दी है।

ये भी पढ़ें: 3 खिलाड़ी जिन्हें आरसीबी को कभी रिलीज नहीं करना चाहिए था

बीसीसीआई ने बताया है कि भारतीय वनडे टीम में संजू सैमसन को चयन समिति ने अतिरिक्त विकेटकीपर के रूप में शामिल किया गया है। उल्लेखनीय है कि केएल राहुल के अलावा कोई दूसरा विकेटकीपर टीम में शामिल नहीं किया गया था लेकिन अब सैमसन एक बैकअप के रूप में साथ में जाएंगे।

हालांकि अगर चयनकर्ता संजू सैमसन की जगह ईशान किशन को मौका देते तो शायद ये ज्यादा अच्छा फैसला होता। ऐसा क्यों है हम आपको इसके 3 कारण बताते हैं।

3 कारण क्यों संजू सैमसन की जगह ईशान किशन को वनडे टीम में मौका मिलना चाहिए था

3.आईपीएल में ईशान किशन का जबरदस्त प्रदर्शन

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL

ईशान किशन ने आईपीएल में अभी तक जबरदस्त प्रदर्शन किया है। उन्होंने 13 मैचों में अभी तक 53.66 की शानदार औसत और 144 से ज्यादा की स्ट्राइक रेट से 483 रन बनाए हैं। सबसे खास बात ये है कि ईशान किशन ने कई मैचों में मिडिल ऑर्डर में भी बैटिंग की है और उस पोजिशन पर भी उन्होंने जबरदस्त प्रदर्शन किया है।

दूसरी तरफ संजू सैमसन आईपीएल में फ्लॉप रहे हैं। अगर 2-3 पारियों को छोड़ दें तो बाकी मैचों मे वो रन नहीं बना पाए हैं। इसलिए अगर संजू सैमसन की जगह वनडे टीम में ईशान किशन को मौका दिया जाता तो वो ज्यादा बेहतर विकल्प साबित हो सकते थे।

ये भी पढ़ें: 3 युवा खिलाड़ी जिनसे काफी उम्मीदें थीं लेकिन वो पूरी तरह फ्लॉप रहे

2.संजू सैमसन के अंदर निरंतरता की कमी

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL

संजू सैमसन निश्चित तौर पर एक बहुत ही जबरदस्त बल्लेबाज हैं। अपना दिन होने पर वो अकेले मैच जिताने की क्षमता रखते हैं। हालांकि सैमसन के अंदर एक बड़ी कमी भी है। वो लगातार अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाते हैं। आईपीएल के इस सीजन भी कुछ मैचों में जबरदस्त धुआंधार पारी के बाद वो आगे के मैचों में पूरी तरह फ्लॉप रहे। यही वजह है कि सैमसन को शायद वनडे टीम में जगह देना सही फैसला नहीं है। दूसरी तरफ ईशान किशन लगातार अच्छी पारियां खेलने में सक्षम हैं।

1.ईशान किशन कई तरह के रोल निभाने में सक्षम

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL

ईशान किशन एक ऐसे खिलाड़ी हैं जो कई तरह की भूमिका टीम में निभा सकते हैं। वो टीम के लिए ओपनिंग भी कर सकते हैं और जरुरत पड़ने पर मिडिल ऑर्डर में भी खेल सकते हैं। इसके अलावा ईशान किशन फिनिशर की भी भूमिका निभा सकते हैं, क्योंकि वो आते ही चौके-छक्के लगाने में सक्षम हैं। वहीं वो विकेटकीपिंग भी कर सकते हैं और मैदान में फील्डिंग भी कर सकते हैं।

संजू सैमसन भी विकेटकीपिंग और मैदीन में फील्डिंग कर सकते हैं लेकिन शायद उनके पास आते ही बड़े शॉट खेलने की क्षमता ईशान किशन जितनी नहीं है। उन्हें क्रीज पर जमने के लिए थोड़ा समय जरुर लगता है।

Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...