Create

IND vs SA: भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में दक्षिण अफ्रीका की हार के 3 प्रमुख कारण

दक्षिण अफ्रीका को  3-0 से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा
दक्षिण अफ्रीका को 3-0 से शर्मनाक हार का सामना करना पड़ा
सावन गुप्ता

भारतीय टीम ने दक्षिण अफ्रीका को रांची टेस्ट मैच में एकतरफा मुकाबले में हरा दिया। भारतीय टीम ने इस मैच में एक पारी और 202 रनों के विशाल अंतर से जीत हासिल की। इसके साथ ही 3 मैचों की टेस्ट सीरीज 3-0 से भारत के नाम रही। वैसे देखा जाए तो तीनों ही मैचों में दक्षिण अफ्रीका को एकतरफा हार मिली। केवल विशाखापट्टनम में हुए पहले टेस्ट मैच की पहली पारी को छोड़ दें तो बाकी समय प्रोटियाज टीम के खिलाड़ी जूझते नजर आए।

दक्षिण अफ्रीका के लिए ये सीरीज बेहद निराशाजनक रही है और वे इसे जल्द से जल्द भूलना चाहेंगे। किसी भी डिपार्टमेंट में टीम ने अच्छा प्रदर्शन नहीं किया। क्विंटन डी कॉक, फाफ डू प्लेसी और डीन एल्गर जैसे सीनियर खिलाड़ी भी अपनी छाप छोड़ने में नाकाम रहे। इसके अलावा भी टीम में कई कमियां और दिखीं।

आइए जानते हैं वो 3 कारण क्या हैं जिससे दक्षिण अफ्रीका को इतनी बड़ी शिकस्त का सामना करना पड़ा।

बल्लेबाजों का खराब प्रदर्शन

कप्तान फाफ डू प्लेसी भी फ्लॉप रहे
कप्तान फाफ डू प्लेसी भी फ्लॉप रहे

दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाजों ने इस सीरीज में बहुत ही खराब प्रदर्शन किया। पुणे टेस्ट मैच की पहली पारी को छोड़ दें तो उसके बाद किसी भी पारी में कोई भी बल्लेबाज टिककर नहीं खेल सका। 6 में से 4 पारियों में पूरी टीम 200 रन भी नहीं बना पाई। डीन एल्गर दक्षिण अफ्रीका की तरफ से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे। उन्होंने 3 मैचों की 6 पारियों में 232 रन बनाए। उसके बाद किसी भी बल्लेबाज के पूरी सीरीज को मिलाकर 200 रन नहीं हैं।

ये भी पढें: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज जीतने के बाद कप्तान विराट कोहली का बड़ा बयान

क्विंटन डी कॉक 3 मैच में 156 रन ही बना सके, वहीं कप्तान फाफ डू प्लेसी भी बुरी तरह फ्लॉप रहे। उन्होंने 3 मैचों में 23.66 की औसत से सिर्फ 142 रन बनाए। एडेन मार्करम भी 2 मैचों की 4 पारियों में 11 की औसत से सिर्फ 44 रन ही बना सके। सीनियर खिलाड़ी बल्लेबाजी में पूरी तरह असफल रहे और यही कारण रहा कि दक्षिण अफ्रीका को दो बार फॉलोआन खेलना पड़ा और उन्हें सीरीज में बुरी तरह शिकस्त मिली।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

भारतीय परिस्थितियों में बेहद खराब गेंदबाजी

दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज एक बार भी भारतीय टीम को ऑल आउट नहीं कर सके
दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज एक बार भी भारतीय टीम को ऑल आउट नहीं कर सके

एक तरफ जहां भारतीय गेंदबाज प्रोटियाज टीम को 200 रन तक नहीं बनाने दे रहे थे, वहीं दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाज विकेट के लिए तरस रहे थे। आलम ये था कि 3 मैचों में एक बार भी दक्षिण अफ्रीका की टीम भारत को ऑल आउट नहीं कर पाई।

वर्नेन फिलेंडर जैसे गेंदबाज 2 मैचों में सिर्फ 2 ही विकेट चटका पाए। इसके अलावा कगिसो रबाडा भी 3 मैच में सिर्फ 7 विकेट ही ले सके। दक्षिण अफ्रीका को इस सीरीज में एक बेहतरीन स्पिनर की कमी खली। केशव महाराज ने 2 मैचों में जरुर 6 विकेट लिए लेकिन वे एक मैच जिताने वाली गेंदबाजी नहीं कर सके। गेंदबाजों का खराब प्रदर्शन भी दक्षिण अफ्रीका के हार की एक मुख्य वजह रही।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

अनुभवी खिलाड़ियों की कमी

दक्षिण अफ्रीका की टीम में कई सारे नए खिलाड़ी थे
दक्षिण अफ्रीका की टीम में कई सारे नए खिलाड़ी थे

दक्षिण अफ्रीका को इस सीरीज में अनुभवी खिलाड़ियों की कमी साफ तौर पर दिखी। भारतीय टीम अपने घर में लगातार 11 टेस्ट सीरीज जीत चुकी है और अगर ऐसी टीम को हराना है तो उसके लिए बेहद अनुभवी खिलाड़ियों की जरुरत होती है, जो यहां की परिस्थितियों से अच्छी तरह वाकिफ हों।

दक्षिण अफ्रीका की टीम बिल्कुल नई थी। कई खिलाड़ियों ने पहली बार भारत का दौरा किया था। यहां तक कि कप्तान फाफ डू प्लेसी ने भी इस बात को माना था कि उनकी टीम में अनुभव की काफी कमी है और इसका असर मैच में दिख रहा है। उन्होंने कहा था कि डेल स्टेन, एबी डीविलियर्स और हाशिम अमला जैसे खिलाड़ियों की कमी इतनी जल्दी नहीं पूरी की जा सकती है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...