Create

भारत को अंडर-19 वर्ल्ड कप जिताने वाले 4 दिग्गज कप्तान अब क्या कर रहे हैं?

विराट कोहली और अपनी टीम के साथ उन्मुक्त चंद
विराट कोहली और अपनी टीम के साथ उन्मुक्त चंद

भारत में जूनियर लेवल पर भी क्रिकेट का उतना ही महत्व है, जितना कि हमारी राष्ट्रीय टीम का है। यही वजह है कि भारत की अंडर-19 टीम विश्व की अन्य टीमों के मुकाबले अभी तक सबसे ज्यादा 4 बार अंडर-19 वर्ल्ड कप पर कब्जा कर चुकी है।

अपनी कप्तानी में भारत को अंडर-19 विश्व कप दिलाने वाले कई खिलाड़ी अपने शानदार प्रदर्शन के दम पर भारतीय टीम में शामिल हुए और लाजवाब प्रदर्शन किया। इस लिस्ट में कई खिलाड़ियों का नाम शामिल है। आज हम आपको भारतीय अंडर-19 क्रिकेट टीम के चार ऐसे कप्तानों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने भारत को विश्व कप जिताया और अब वह क्या कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें : आईपीएल 2008 की नीलामी में सबसे महंगे बिकने वाले 5 खिलाड़ी आज क्या कर रहे हैं?

जानिए उन चार अंडर-19 टीम के कप्तानों के बारे में :-

#4 पृथ्वी शॉ (2018)

पृथ्वी शॉ
पृथ्वी शॉ

पृथ्वी शॉ का नाम भारत के उभरते हुए खिलाड़ियों में शुमार होता है। उन्होंने अपनी कप्तानी में भारतीय अंडर-19 टीम को 2018 का विश्व कप खिताब दिलाया था। यही नहीं उनकी कप्तानी में भारत का यह रिकॉर्ड चौथा वर्ल्ड कप खिताब था। शॉ उस टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ियों की लिस्ट में शुमार थे। उन्होंने 65.25 की औसत से कुल 261 रन बनाए थे।

इस बेहतरीन प्रदर्शन के कारण ही उन्हें भारतीय टेस्ट टीम में जगह मिली और 2018 में उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेली। उन्होंने अपनी पहली ही इनिंग में शतक जड़ दिया। शॉ ने उस सीरीज में 237 रन बनाए। इसके बाद उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी ओपनिंग बल्लेबाजी की। इसके बाद चोट और 8 महीने के डोपिंग प्रतिबंध के कारण वह क्रिकेट से दूर हो गए। हालांकि अब उन्होंने फिर से वापसी कर ली है।

#3 उन्मुक्त चंद (2012)

भारतीय अंडर-19 टीम को 2012 में वर्ल्डकप जिताने वाले उन्मुक्त चंद
भारतीय अंडर-19 टीम को 2012 में वर्ल्डकप जिताने वाले उन्मुक्त चंद

भारत को तीसरा अंडर-19 विश्व कप जिताने वाले कप्तान हैं, उन्मुक्त चंद। हालांकि वह एकमात्र ऐसे दुर्भाग्यशाली खिलाड़ी हैं, जिन्हें अंडर-19 विश्वकप जिताने के बाद भी भारतीय टीम की ओर से खेलने का मौका नहीं मिला। 2012 के अंडर-19 विश्व कप फाइनल में उन्मुक्त चंद ने 130 गेदों पर 111 रनों की शानदार पारी खेलकर भारत को तीसरी बार चैंपियन बनाया था।

उन्मुक्त चंद का फर्स्ट क्लास करियर बेहद शानदार रहा है। उन्होंने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 62 मैचों में 33.35 के औसत से 3235 रन बनाए हैं, जिसमें आठ शतक भी शामिल हैं। दिल्ली की ओर से अपने करियर की शुरुआत करने वाले उन्मुक्त चंद फिलहाल उत्तराखंड की टीम के कप्तान हैं और रणजी क्रिकेट खेल रहे हैं।

#2 विराट कोहली (2008)

विराट कोहली
विराट कोहली

वर्तमान समय में भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली भी अपनी कप्तानी में भारत को अंडर-19 वर्ल्ड कप खिताब जितवा चुके हैं। उन्होंने अपनी कप्तानी में साल 2008 में भारतीय टीम को चैंपियन बनाया था। उस टूर्नामेंट में विराट कोहली ने महज 6 मैचों में 94.75 के स्ट्राइक रेट और 47.00 की औसत से कुल 235 रन बनाए थे।

इसके कुछ समय बाद ही उन्हें भारत की सीनियर टीम की ओर से बुलावा आ गया। इसके बाद कोहली ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। वर्तमान समय में विराट कोहली भारतीय टीम के सफल कप्तान होने के साथ-साथ दुनिया के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज भी हैं।

#1 मोहम्मद कैफ (2000)

मोहम्मद कैफ
मोहम्मद कैफ

भारतीय अंडर-19 टीम ने पहली बार मोहम्मद कैफ की कप्तानी में वर्ल्ड कप जीता था। उन्होंने साल 2000 में श्रीलंका में हुए टूर्नामेंट में भारतीय टीम को चैंपियन बनाया था। यह पहला मौका था, जब भारतीय जूनियर टीम विश्व विजेता बनी थी। उनके इस बेहतरीन प्रदर्शन का परिणाम रहा कि जल्द ही उन्हें सीनियर टीम से बुलावा आ गया।

कैफ ने 2002 से 2006 के दौरान वनडे क्रिकेट में बेहतरीन प्रदर्शन किया, हालांकि टेस्ट क्रिकेट में उनका प्रदर्शन शानदार नहीं रहा। साल 2002 में नेटवेस्ट सीरीज के फाइनल मैच में इंग्लैंड के खिलाफ उनकी 87 रनों की पारी को आज भी शान से याद किया जाता है। कैफ ने अपने करियर में कुल 125 वनडे मैच खेले, जिसमें उन्होंने 2753 रन बनाए। फिलहाल वह वर्तमान समय में क्रिकेट कमेंट्री के साथ-साथ आईपीएल फ्रेंचाइजी दिल्ली कैपिटल्स के असिस्टेंट कोच के पद पर भी तैनात हैं।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment