Create
Notifications

आईपीएल 2019: 5 विदेशी खिलाड़ी जिनका प्रदर्शन अबतक खराब रहा है

आईपीएल 2019 की शुरुआत 23 मार्च 2019 से हुई
Rahul Pandey
visit

आईपीएल की टीमें हमेशा अच्छे विदेशी खिलाड़ियों की तलाश में रहती हैं। हर टीम में अधिकतम 4 विदेशी खिलाड़ियों को एक मैच में खिलाया जा सकता है।

डेविड वॉर्नर, जोस बटलर, आंद्रे रसेल और जॉनी बेयरस्टो जैसे खिलाड़ी पहले ही अपने प्रदर्शन से इस सीज़न में सभी की नज़रों में आ चुके हैं। असल में इन जैसे खिलाड़ी ही अपने-अपने फ्रेंचाइजी के भाग्य का फैसला करने में बड़ी भूमिका निभाएंगे, क्योंकि ये खिलाडी न सिर्फ प्रतिभा बल्कि अन्तराष्ट्रीय स्तर पर अपने अनुभव को भी साथ लाते हैं ।

लेकिन इन खिलाड़ियों का प्रदर्शन जब अच्छा नही होता तो ये अपनी टीमों के प्रदर्शन पर भी असर डालते हैं और टीम को जीत के लिए संघर्ष भी करते हुए देखा गया है। आइए एक नज़र डालें ऐसे ही 5 विदेशी खिलाड़ियों पर, जिन्होंने आईपीएल में इस साल में अब तक खराब प्रदर्शन किया है।


# 1 क्रिस लिन

क्रिस लिन

कोलकाता नाइट राइडर्स की टीम अपने सलामी बल्लेबाजों क्रिस लिन और सुनील नारेन के अच्छे प्रदर्शन के चलते पिछले कुछ समय से लगातार पावरप्ले में रनों का अम्बार लगते आई है। शुरूआती ओवरों में सुनील नारेन के साथ, क्रिस लिन की सलामी जोड़ी एक अच्छी शुरुआत देने के लिए और भी महत्वपूर्ण हो जाती है और लिन ने यह भूमिका आईपीएल के पिछले दो वर्षो से अच्छी तरह से निभाई भी है।

लेकिन इस साल अब तक वह पूरी तरह से फॉर्म के बाहर दिख रहे हैं। टीमें जल्दी विकेट निकालने के लिए और उनकी कमी को उजागर करते हुए, उनके सामने शुरुआत में ही स्पिन गेंदबाज को सामने ले आती हैं और लिन अक्सर आउट हो जा रहे हैं। वह अब तक 12.33 के औसत से 20 के उच्चतम स्कोर के साथ केवल 37 रन बनाने में सफल रहे हैं।

ऐसे में अब अंतिम एकादश में अपना स्थान बरकरार रखने के लिए उन्हें बहुत जल्द अपनी फॉर्म तलाशने की जरूरत है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

#2 किरोन पोलार्ड

केरोन पोलार्ड अब तक पूरी तरह बेरंग नज़र आये हैं

किरोन पोलार्ड वर्षों से मुंबई इंडियंस का अभिन्न अंग रहे हैं। वह आईपीएल के इतिहास के सर्वश्रेष्ठ ऑलराउंडरों में से एक रहे हैं। लेकिन पिछले सीज़न से ही हमने देखा है कि उनका फॉर्म लगातार ख़राब ही होता जा रहा है और यह सिलसिला इस सीज़न में भी अब तक जारी रहा है।

अब तक के 4 मैचों में वह बल्ले से केवल 50 रन बनाने में सफल रहे हैं। उन्हें अभी तक आईपीएल के इस सीज़न में उन्होंने गेंदबाजी भी नही की है। ऐसे में जबकि मुंबई इंडियंस के पास बेन कटिंग जैसा हरफनमौला खिलाड़ी या इशान किशन जैसा बल्लेबाज़ मौजूद है, पोलार्ड का प्रदर्शन नही अच्छा हुआ तो पिछले सीज़न की तरह ही उन्हें एक बार फिर से अंतिम एकादश में जगह मिलना मुश्किल हो जायेगा।


# 3 शिमरोन हेटमायर

शिमरोन हेटमेयर

पिछले साल अक्टूबर में जब हेटमायर भारत के खिलाफ खेले थे, तब उन्होंने अपनी आक्रमक और तेज़ पारी के चलते सभी का ध्यान आकर्षित किया था। यही वजह रही कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने खिलाड़ियों की नीलामी में उनके स्पिन खेलने और आसानी से गेंदों को सीमा रेखा के पार पहुँचाने की क्षमता के लिए 4.2 करोड़ में खरीदा।

आरसीबी अभी तक अपनी टीम के साथ सही संयोजन खोजने में कामयाब नहीं हुई है। बल्लेबाजी उनकी मुख्य चिंता है। ऐसे में हेटमायर के प्रदर्शन ने भी टीम की मदद नहीं की है। उन्होंने हर मैच में अपना विकेट फेंका है।

चार मैचों में 0, 5, 9 और 1 के स्कोर के साथ, वह इस साल अब तक रन बनाने में नाकाम रहे हैं। आरसीबी अभी भी सही संयोजन की तलाश में है, उसके लिए आने वाले मैचों में हेटमायर का जगह पाना कठिन होगा।

# 4 कॉलिन डी ग्रैंडहोम

कोलिन डी ग्रैंडहोम

कॉलिन डी ग्रैंडहोम अभी तक आईपीएल में कोई विशेष प्रदर्शन कर पाने में नकाम रहे हैं। वह पहले 3 मैच में मार्कस स्टोइनिस की अनुपस्थिति के कारण रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की अंतिम एकादश में स्थान पाने में भाग्यशाली रहे हैं, लेकिन अब जबकि स्टोइनिस वापस आ गये हैं ऐसे में ग्रैंडहोम का टीम में जगह पाना बेहद मुश्किल दिख रहा है।

ग्रैंडहोम ने 3 मैचों में केवल 43 रनों के निराशाजनक प्रदर्शन के साथ अंतिम एकादश में अपनी जगह पक्की करने का एक बेहतरीन मौका भी गवा दिया और सबसे बुरी बात यह रही कि उन्होंने कोई भी विकेट नहीं लिया।


# 5 स्टीव स्मिथ

स्टीवन स्मिथ

1 साल के प्रतिबंध के कारण आईपीएल से बाहर होने के बाद स्टीवन स्मिथ इस साल वापसी कर रहे हैं। जहाँ एक ओर उनके ऑस्ट्रेलियाई सहयोगी डेविड वॉर्नर पहले ही धमाकेदार शुरुआत कर चुके हैं, वहीं स्मिथ अभी भी अपनी फॉर्म तलाश रहे हैं।

स्मिथ तीन पारियों में 20, 28 और एक मैच में 38 रन बनाने में सफल रहे हैं जिसमें उन्होंने अभी तक बल्लेबाजी की है। वह किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ राजस्थान रॉयल्स के लिए मैच खत्म करने में असफल रहे और वह सैम करन के शिकार बने और अंततः राजस्थान रॉयल्स मैच भी हार गया।

स्मिथ जैसे बेहतरीन खिलाड़ी से यह उम्मीद की जा सकती है कि वह अधिक समय तक फॉर्म से बाहर नहीं रहेंगे। रॉयल्स के प्रशंसक उनसे आगामी मैचों में फॉर्म में आने और दुनिया को यह दिखाने की उम्मीद करेंगे कि पुराने स्मिथ वापस आ गए हैं।

Edited by मयंक मेहता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now