5 महान गेंदबाज़ जो वर्ल्ड कप 2019 के बाद क्रिकेट से ले सकते हैं संन्यास

Enter caption

क्रिकेट इतिहास में सभी दिग्गज खिलाड़ी ज़्यादातर वर्ल्ड कप जैसे बड़े टूर्नामेंट के बाद ही संन्यास लेना पसंद करते हैं।

श्रीलंकाई बल्लेबाज़ी महेला जयवर्धने और कुमार संगाकारा; भारत के विस्फोटक सलामी बल्लेबाज वीरेंदर सहवाग और तेज गेंदबाज जहीर खान; पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क - इन सभी खिलाड़ियों ने विश्व कप 2015 के समापन के बाद ही क्रिकेट को अलविदा कहा था। अब देखना यह होगा कि आगामी विश्व कप के समापन के बाद कौन से खिलाड़ी क्रिकेट से संन्यास लेते हैं।

इंग्लैंड में होने वाले इस विश्व कप के लिए सभी टीमें अपनी-अपनी रणनीति बनाने में जुटी हैं और इस टूर्नामेंट के शुरू होने में अब सिर्फ चार महीने का समय ही बचा है। कई अनुभवी गेंदबाज भी विश्व कप में हिस्सा लेंगे। इस लेख में, हम विशेष रूप से उन 5 गेंदबाजों पर एक नज़र डालेंगे जिनके विश्व कप 2019 के बाद रिटायर होने की संभावना है:

#5 स्टुअर्ट ब्रॉड

Image result for stuart broad bowling odi

इंग्लैंड के तेज़ गेंदबाज़ स्टुअर्ट ब्रॉड ने अपना आखिरी एकदिवसीय मैच 14 फरवरी 2016 को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेला था। हालाँकि, 32 वर्षीय गेंदबाज़ अभी भी इंग्लैंड की टेस्ट टीम का नियमित हिस्सा हैं।

दाएं हाथ के इस गेंदबाज ने इंग्लैंड के लिए शानदार प्रदर्शन किया है। ब्रॉड ने अपने करियर में खेले 121 एकदिवसीय मैचों में 178 विकेट लिए हैं। जबकि, 124 टेस्ट मैचों में उनके नाम 433 विकेट हैं जो उन्हें एक बेहतरीन टेस्ट गेंदबाज़ बनाते हैं।

नॉटिंघम में जन्मे यह खिलाड़ी वर्तमान में टेस्ट क्रिकेट में सर्वकालिक सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले खिलाड़ियों की सूची में 8 वें (रंगना हेराथ और डेल स्टेन के साथ संयुक्त रूप से) नंबर पर हैं। वहीं, एकदिवसीय मैचों में 178 विकेट लेकर वह इंग्लैंड के सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ों की सूची में (जेम्स एंडरसन और डेरेन गफ के बाद ) तीसरे नंबर पर हैं।

इसके अलावा, ब्रॉड के नाम एक टेस्ट शतक भी है जो उन्होंने 2010 में पाकिस्तान के खिलाफ बनाया था। जोनाथन ट्रॉट और स्टुअर्ट ब्रॉड ने लॉर्ड्स में उस मैच के दौरान इतिहास रचा था जब दोनों ने आठवें विकेट के लिए 332 रनों की रिकॉर्ड-तोड़ साझेदारी की थी। लेकिन फिलहाल वह एकदिवसीय टीम से बाहर हैं और इस बात की संभावना है कि वह आगामी विश्व कप के बाद क्रिकेट से संन्यास की घोषणा कर सकते हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाईलाइटस और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#4. मशरफे मुर्तजा

Mortaza celebrates after taking a wicket

'नारेल एक्सप्रेस', के नाम से मशहूर बांग्लादेश के तेज़ गेंदबाज़ मशरफे मुर्तजा विश्व कप 2019 के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं।

इस बॉलिंग ऑलराउंडर ने अपनी टीम के लिए बेहतरीन प्रदर्शन किया है और उनका अंतर्राष्ट्रीय करियर शानदार रहा है। वह एकदिवसीय मैचों में बांग्लादेश के सर्वकालिक सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाले, टी-20 में सर्वकालिक तीसरे सबसे अधिक विकेट लेने वाले और टेस्ट में सर्वकालिक 5 वें सबसे अधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं।

उनके गेंदबाज़ी आंकड़े भी असाधारण रहे हैं: 202 वनडे में 258 विकेट और 1728 रन, 78 टेस्ट में 78 विकेट और 797 रन, 54 टी-20 मैचों में 42 विकेट और 377 रन। मुर्तजा अभी भी एकदिवसीय टीम का हिस्सा हैं और संभावना है कि वह आगामी विश्व कप खेलने के बाद क्रिकेट से संन्यास ले लेंगे।

मुर्तजा वर्तमान में बांग्लादेश प्रीमियर लीग में रंगपुर राइडर्स के लिए खेल रहे हैं। उन्होंने राइडर्स के लिए शानदार प्रदर्शन करते हुए पिछले 7 मैचों में 12 विकेट लिए हैं।

#3. लसिथ मलिंगा

Lasith Malinga also has the ability to make a few useful runs with the bat

35 वर्षीय लसिथ मलिंगा ने अपना आखिरी टेस्ट अगस्त 2010 में खेला था लेकिन वह अभी भी श्रीलंका की एकदिवसीय और टी-20 टीमों का अभिन्न हिस्सा हैं। गाले में जन्मे यह तेज़ गेंदबाज़ अपने सटीक यार्कर्स के लिए मशहूर हैं।

श्रीलंका को 2019 विश्व कप में मलिंगा के अनुभव की बहुत आवश्यकता होगी। स्पीडस्टर ने भी अपनी फिटनेस पर बहुत काम किया है और वह श्रीलंका की विश्व कप टीम का हिस्सा बनने को लेकर आशावान हैं। मलिंगा ने हाल ही में न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए 3 वनडे मैचों में 7 विकेट झटके हैं। उत्कृष्ट बाउंसर और धीमी गेंदें उनके शस्त्रागार का हिस्सा हैं।

सीमित ओवर स्पेशलिस्ट के नाम कुछ अनोखे रिकॉर्ड भी दर्ज हैं। ऐसा ही एक रिकॉर्ड मार्च 2007 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ लगातार 4 गेंदों में 4 विकेट लेने का है। मलिंगा आईपीएल के इतिहास में 154 विकेट के साथ सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज भी हैं। लेकिन इस बात की पूरी संभावना है कि वह विश्व कप 2019 के बाद अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह सकते हैं।

#2. जेम्स एंडरसन

James Anderson

2019 में क्रिकेट से संन्यास लेने वाले दूसरे इंग्लिश स्पीडस्टर जेम्स एंडरसन हो सकते हैं। वह एकदिवसीय मैचों में इंग्लैंड के सर्वकालिक सर्वाधिक विकेट लेने वाले गेंदबाज़ हैं। उन्होंने 194 एकदिवसीय मैचों में 269 विकेट अपने नाम किए हैं।

एंडरसन टेस्ट क्रिकेट के इतिहास के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाज भी हैं, जिन्होंने 145 मैचों में 565 विकेट लिए हैं। उन्होंने 2018 में ग्लेन मैक्ग्रा के सर्वाधिक टेस्ट विकेटों के रिकॉर्ड को तोड़ दिया था।

36 वर्षीय गेंदबाज़, टेस्ट क्रिकेट के सर्वकालिक सर्वाधिक विकेट लेने वाले खिलाड़ियों की सूची में (स्पिन के बादशाह मुरलीधरन, शेन वार्न और अनिल कुंबले के बाद) चौथे स्थान पर हैं। उनकी पूरे करियर की उपलब्धियां बिल्कुल आश्चर्यजनक हैं और वह अब तक के सर्वश्रेष्ठ स्विंग गेंदबाजों में से एक हैं।

उनके नाम लॉर्ड्स में कुल 100 से अधिक विकेट लेने का अनूठा रिकॉर्ड भी है। लेकिन इन सबके बीच बढ़ती उम्र और गिरती फिटनेस के साथ इस बात की संभावना है कि एंडरसन विश्व कप 2019 के बाद क्रिकेट को अलविदा कह देंगे।

#1. डेल स्टेन

Dale Steyn

डेल स्टेन दक्षिण अफ्रीका के अब तक के सबसे बेहतरीन तेज़ गेंदबाज है। 35 वर्षीय गेंदबाज़ अपनी स्विंग और गति के लिए जाने जाते हैं।

दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज़ ने 91 टेस्ट मैचों में 22.82 की शानदार औसत से 433 विकेट लिए हैं। वह टेस्ट में अपनी टीम के लिए सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं। स्टेन ने 121 वनडे मैचों में 192 विकेट और 42 टी-20 मैचों में 58 विकेट भी अपने नाम किए हैं।

स्टेन 150 से किमी/घंटा से अधिक की तेज़ी से गेंदबाज़ी कर सकते हैं। वह 2008 और 2014 के बीच आश्चर्यजनक रूप से 263 सप्ताह तक विश्व के नंबर 1 गेंदबाज (ICC रैंकिंग के अनुसार) थे। चोट से उबर कर वह वापसी कर चुके हैं। स्टेन ने पिछले साल शानदार वापसी करते हुए ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बेहतरीन प्रदर्शन किया था। निःसंदेह अपने करियर के आख़िरी विश्व कप में स्टेन कोई कसर नहीं छोड़ना चाहेंगे।

Get Cricket News In Hindi Here.

Quick Links

App download animated image Get the free App now