Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

IND vs AUS: वनडे सीरीज़ में भारतीय टीम के लिए 4 सबसे बड़ी सकारात्मक बातें 

टॉप 5 / टॉप 10
978   //    21 Jan 2019, 10:55 IST

Australia v India - ODI

भारत का ऑस्ट्रेलिया दौरा आखिरकार मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में ऐतिहासिक जीत के साथ समाप्त हुआ। भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराकर वनडे सीरीज़ जीती है। यह किसी भी भारतीय क्रिकेट टीम द्वारा ऑस्ट्रेलिया का अब तक का सबसे सफल दौरा रहा।

पहले भारत ने मेजबान टीम को 4 मैचों की टेस्ट श्रृंखला में 2-1 से हराया और उसके बाद वनडे सीरीज़ में भी शानदार प्रदर्शन करते हुए ट्रॉफी जीती। हालाँकि, भारतीय टीम टी-20 सीरीज भी जीत सकती थी लेकिन बारिश की वजह से यह सीरीज़ 1-1 से बराबर रही थी। 

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ इस सीरीज़ में टीम इंडिया के पास खिलाड़ियों को आज़माने का सही मौका था और जो खिलाड़ी पिछले कुछ समय से फॉर्म में नहीं थे, उनके पास अपने प्रदर्शन से टीम में जगह पक्की करने का मौका था। 

इस सीरीज़ में, टीम इंडिया के लिए कुछ सकारात्मक बातें रहीं हैं जिन्हें जानना बहुत दिलचस्प होगा। तो आइये एक नज़र डालते हैंं उन 4 सकारात्मक पहलुओं पर:

#4. केदार जाधव 

Kedar Jadhav played a match-winning 61* at the MCG.

इस वनडे सीरीज़ के शुरू होने से पहले ऐसा नहीं लग रहा था कि केदार जाधव को टीम इंडिया के लिए प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने का मौका मिलेगा, लेकिन हार्दिक पांड्या के इस सीरीज़ से बाहर होने के बाद इस हरफनमौला खिलाड़ी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले तीसरे और अंतिम वनडे में वापसी की। 

केदार जाधव सीरीज़ के पहले दो मैचों में नहीं खेले थे क्योंकि भारतीय टीम प्रबंधन रविन्द्र जडेजा को ऑलराउंडर के रूप में और अंबाती रायडू को नंबर 4 पर बल्लेबाज़ी कराने की नीति पर चल रहा था। चूंकि,रायडू पहले दो मैचों में प्रभाव छोड़ने में नाकाम रहे, इसलिए जाधव को एमसीजी में खेले गए आख़िरी वनडे में वापसी करने का मौका मिला। 

जाधव, जिन्होंने भारतीय उपमहाद्वीप के बाहर ज्यादा क्रिकेट नहीं खेला है, अपने पहले ही मैच में ज़बरदस्त प्रदर्शन कर सुर्खियों में आ गए। तीसरे वनडे में मिले सिर्फ 231 रनों का पीछा करते हुए, विराट कोहली का विकेट खोने के बाद, भारतीय टीम संकट में थी जब जाधव बल्लेबाज़ी करने के लिए मैदान पर उतरे। उन्होंने एमएस धोनी के साथ मिलकर 121 रनों की शानदार साझेदारी की और विजयी चौका लगाकर भारत को मैच और सीरीज़ दोनों जिता दी। 

जाधव की वापसी की सबसे खास बात उनकी फिटनेस थी क्यूंकि विकेटों के बीच उनकी दौड़ शानदार थी। इस तथ्य को देखते हुए कि पिछले कुछ समय से वह हैमस्ट्रिंग की समस्या से दो-चार होते रहे हैं, जाधव का ऐसा प्रदर्शन निश्चित रूप से भारतीय टीम के लिए एक सकारात्मक बात है।

1 / 4 NEXT
Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...