Create

5 ओवररेटेड खिलाड़ी जिन्हें आईपीएल नीलामी में मिली ज़रूरत से ज़्यादा कीमत 

Image result for unadkat

आईपीएल दुनिया की सबसे लोकप्रिय फ्रेंचाइज़ी आधारित टी -20 लीग्स में से एक है। यह टूर्नामेंट हर सीज़न के साथ और ज़्यादा लोकप्रिय होता जा रहा है। इसके साथ ही इस लीग से खिलाड़ियों की माली हालत भी सुधरी है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में बड़े नाम वाले खिलाड़ियों के साथ ही जिन खिलाड़ियों के पास कोई अंतरराष्ट्रीय अनुभव नहीं होता, वह भी इससे भारी मात्रा में पैसा कमाते हैं।

मुरुगन अश्विन, टायमल मिल्स, क्रुणाल पांड्या जैसे खिलाड़ी इसका एक प्रमुख उदाहरण हैं। इसके अलावा, कुछ अंतरराष्ट्रीय दिग्गज खिलाड़ी अपने प्रदर्शन और प्रतिष्ठा के आधार पर ऊँचे दामों में बिकते हैं।

हालांकि इनमें से कुछ ही खिलाड़ी हैं जो अपने मूल्य टैग के साथ न्याय कर पाते हैं जबकि अन्य खिलाड़ी अपने मूल्य टैग को उचित ठहराने में नाकाम रहते हैं।

इस बार की आईपीएल नीलामी में कुछ खिलाड़ी ऐसे भी थे जिन्हें ज़रूरत से ज़्यादा कीमत पर खरीदा गया। तो आइये जानते हैं ऐसे 5 खिलाड़ियों के बारे में:

#5. बरिंदर सरान - 3.4 करोड़ (मुंबई इंडियंस)

Sran drops a catch in the outfield

पिछले सीज़न में मुंबई इंडियंस के गेंदबाजी विभाग में कमज़ोरी देखी गई जिसकी वजह से वे अपने ख़िताब का बचाव करने में नाकाम रहे थे। इंडियंस पिछले सीज़न में बेहतरीन तेज़ गेंदबाज़ों की कमी के चलते जसप्रीत बुमराह पर अधिक निर्भर रहे।

लेकिन इस बार अपनी ग़लती सुधारते हुए उन्होंने कई तेज़ गेंदबाज़ों को खरीदा है। इन गेंदबाज़ों में एक नाम बारिंदर सरान का है जिन्होंने 2015 में राजस्थान रॉयल्स की तरफ़ से अपने आईपीएल करियर की शुरुआत की थी। इसके एक साल बाद, उन्होंने भारतीय टीम के लिए अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में अपना पर्दापण किया। आईपीएल सीज़न 2016 में उन्होंने सनराइज़र्स हैदराबाद के लिए 14 विकेट लेकर सबका ध्यान अपनी ओर खींचा था।

2018 में सरान किंग्स इलेवन पंजाब में चले गए लेकिन कुछ खास नहीं कर पाए। उन्होंने किंग्स इलेवन के लिए खेले छह मैचों में, 10.40 की महंगी इकोनॉमी रेट के साथ केवल 4 विकेट लिए थे। इस तरह के प्रदर्शन के बावजूद बरिंदर सरन खुद को भाग्यशाली मानेंगे कि उन्हें मुंबई इंडियंस द्वारा 3.4 करोड़ रूपए में खरीदा गया।

#4. मोहित शर्मा - 5 करोड़ (चेन्नई सुपरकिंग्स)

Sharma failed to impress in IPL 2018

मोहित शर्मा ने आईपीएल नीलामी में अपनी पुरानी टीम चेन्नई सुपरकिंग्स में फिर से वापसी की है। आईपीएल में एमएस धोनी की कप्तानी में ही उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया और इस लीग के प्रमुख गेंदबाज़ बन गए। हरियाणा के इस तेज गेंदबाज ने अपने शानदार आईपीएल रिकॉर्ड के कारण राष्ट्रीय टीम में भी जगह बनाई।

2015 में चेन्नई सुपरकिंग्स पर लगे दो साल के प्रतिबंध के बाद, मोहित किंग्स इलेवन पंजाब में चले गए। उन्होंने किंग्स इलेवन की तरफ से सीज़न 2016 और 2017 में 14 मैचों में 13 विकेट लिए थे। लेकिन पिछले सीजन में वह उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाए। आईपीएल 2018 में खेले 9 मैचों में मोहित ने 10.85 की महंगी इकोनॉमी रेट के साथ केवल सात विकेट हासिल किये थे।

इसके अलावा, चेन्नई सुपरकिंग्स में पहले से ही लुंगी नगदी, डेविड विली, शारदुल ठाकुर, दीपक चहर और कुछ अन्य भारतीय तेज़ गेंदबाज़ों के टीम में होते हुए उनपर इतनी बड़ी राशि ख़र्च करने का फैसला किसी के गले नहीं उतर रहा है।

#3. वरुण चक्रवर्ती - 8.4 करोड़ (किंग्स इलेवन पंजाब)

How will the Kings accommodate Varun in the playing XI?

आईपीएल में हमेशा से रहस्यमई स्पिनरों की मांग सबसे ज़्यादा रही है। मुरुगन अश्विन, केसी करिप्पा जैसे स्पिनर इसके प्रमुख उदाहरण हैं जिन्हें आईपीएल नीलामी में ऊँची कीमत पर खरीदा गया है। इसी कड़ी में तमिलनाडु की स्पिन सनसनी वरुण चक्रवर्ती का नाम भी शामिल हो गया है। इस साल खेले गए तमिलनाडु प्रीमियर लीग में 27 वर्षीय स्पिनर ने 10 मैचों में 4.7 की बढ़िया इकोनॉमी रेट के साथ नौ विकेट लिए थे। इसके साथ ही उन्होंने अपनी टीम सिचम मदुरै पैंथर्स की ख़िताबी जीत में बेहद अहम भूमिका निभाई थी।

इसके अलावा वरुण ने विजय हजारे ट्रॉफी में भी उत्कृष्ट प्रदर्शन किया, जहां वह 9 मैचों में 22 विकेट लेकर टूर्नामेंट के दूसरे सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज़ रहे।

आईपीएल नीलामी में उनको किंग्स इलेवन पंजाब ने 8.4 करोड़ रूपए की भारी कीमत पर खरीदकर सबको हैरान कर दिया। हालाँकि, वरुण ने पिछले एक साल में बेहतरीन प्रदर्शन किया है लेकिन फिर भी उनको इतनी भारी कीमत पर खरीदना चौंकाने वाला है।

#2. कार्लोस ब्रैथवेट - 5 करोड़ (कोलकाता नाइट राइडर्स)

Image result for carlos brathwaite

वेस्टइंडीज़ के धाकड़ आलराउंडर कार्लोस ब्रैथवेट ने 2016 में दिल्ली डेयरडेविल्स की तरफ से अपना आईपीएल डेब्यू किया था। ब्रैथवेट इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 विश्व कप में वेस्टइंडीज़ की जीत के हीरो रहे थे जब फाइनल में उन्होंने आखिरी ओवर में लगातार चार छक्के लगाकर अपनी टीम को विश्व विजेता बनाया था।

हालाँकि, अब तक तीन आईपीएल सीज़न खेल चुके ब्रैथवेट अपनी क्षमता के मुताबिक प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं।

ब्रैथवेट ने अभी तक 3 सत्रों में केवल 14 मैच खेले हैं और 15.45 की औसत से सिर्फ 170 रन बनाए हैं। इसके अलावा, गेंद के साथ भी वह बहुत अधिक प्रभावी नहीं रहे हैं। उन्होंने अभी तक खेले 14 मैचों में 8.89 की महंगी इकोनॉमी रेट से केवल 13 विकेट लिए हैं।

भले ही ब्रैथवेट ने आईपीएल 2018 के अंतिम दौर में कुछ अच्छा प्रदर्शन किया था लेकिन फिर भी उनकी टीम सनराइज़र्स हैदराबाद ने उन्हें नीलामी से पहले रिलीज़ कर दिया था।

हालाँकि, ब्रैथवेट को इस बार की नीलामी में कोलकाता नाइट राइडर्स ने 5 करोड़ की भारी कीमत पर खरीदा है। लेकिन अभी यह देखना बाकी है कि क्या ब्रैथवेट अपने मूल्य-टैग को उचित ठहरा पाते हैं या नहीं।

#1. जयदेव उनादकट - 8.4 करोड़ (राजस्थान रॉयल्स)

Related image

पिछली आईपीएल नीलामी में सबसे महंगे भारतीय खिलाड़ी रहे जयदेव उनादकट को उनकी टीम राजस्थान रॉयल्स ने इस बार की नीलामी से पहले टीम से रिलीज़ कर दिया था लेकिन दोबारा उन्हें खरीद लिया।

उनादकट ने आईपीएल 2017 में राइजिंग पुणे सुपरजायंट को फाइनल तक पहुंचाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। जिसके कारण उन्हें आईपीएल 2018 में राजस्थान रॉयल्स ने 11.5 करोड़ रुपये में खरीदा था। रॉयल्स को उनादकट से टीम के गेंदबाज़ी आक्रमण का नेतृत्व करने की उम्मीद थी लेकिन सौराष्ट्र के यह तेज़ गेंदबाज़ उम्मीद के मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर सके। उन्होंने इस सीज़न में खेले 15 मैचों में 9.65 की इकोनॉमी रेट से सिर्फ 11 विकेट लिए थे।

लेकिन इसके बाद उन्होंने हाल ही संपन्न हुई विजय हजारे ट्रॉफी में बेहतरीन गेंदबाज़ी करते हुए 8 मैचों में 16 विकेट चटकाए थे जिसकी वजह से उनको इस बार की नीलामी में 8.4 करोड़ रूपए की भारी कीमत पर राजस्थान रॉयल्स ने दोबारा अपनी टीम में शामिल कर लिया। हालाँकि, उनके अनियमित प्रदर्शन को देखते हुए यह फैसला थोड़ा चौंकाने वाला था।

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment