Create

आईपीएल नीलामी: 6 मौके जब मुंबई इंडियंस ने खिलाड़ियों को जरूरत से ज्यादा कीमत पर खरीदा

Enter caption
Enter caption
आशीष कुमार

आईपीएल में मुंबई इंडियंस इस टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक मानी जाती है। अब तक आईपीएल में खेले गए 11 सत्रों में उन्होंने निरंतर अच्छा प्रदर्शन किया है। जब आईपीएल नीलामी में खिलाड़ियों की बोली लगाने की बात आती है तो मुंबई इंडियंस ने बड़ी सूझबूझ से उनका चुनाव किया है।

वे नीलामी से पहले खिलाड़ियों को चिह्नित करते हैं और हमेशा उन खिलाड़ियों को खरीदने के लिए अपने वॉलेट से एक बड़ा हिस्सा देने के लिए तैयार रहते हैं। सौभाग्य से उनके लिए कुछ चुनिंदा खिलाड़ियों पर बड़ी रकम खत्म करने की रणनीति एकदम सही रही है।

फिर भी ऐसे भी हुआ है जब मुंबई इंडियंस ने किसी विशेष खिलाड़ी पर ज़रूरत ज़्यादा पैसे ख़र्च किये हैं लेकिन टूर्नामेंट के दौरान उनका उपयोग नहीं किया।

तो इस आर्टिकल में हम जानेंगे ऐसी 6 घटनाओं के बारे में जब मुंबई इंडियंस ने आईपीएल नीलामी में खिलाड़ियों को ज़रूरत से ज़्यादा कीमत पर खरीदा:

#6. नाथू सिंह - 3.2 करोड़ रुपये, 2016

Related image

नाथू सिंह ने घरेलू क्रिकेट में अपनी तेज़ गेंदबाज़ी से सुर्ख़िया बटोरी। उन्होंने लगातार 145 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से गेंदबाज़ी की और 2016 की नीलामी में वह कई आईपीएल टीमों की पसंद बन गए।

मुंबई इंडियंस ने नाथू सिंह के गेंदबाज़ी कौशल को देखते हुए उन्हें साल 2016 की नीलामी में 3.2 करोड़ की भारी कीमत पर खरीदा था। लेकिन दुर्भाग्यवश आईपीएल शुरू होने से पहले ही वह अपने कंधे पर चोट लगा बैठे और मजबूरन पूरे सीज़न में उन्हें बाहर बैठकर मैच देखने पड़े।

जबकि उनका चोट के कारण बाहर बैठना दुर्भाग्यपूर्ण था, फिर भी क्रिकेट पंडितों की राय थी कि उन्हें ज़रूरत से ज़्यादा कीमत पर खरीदा गया। बहरहाल, राजस्थान के इस गेंदबाज़ ने अगले सीज़न में गुजरात लायंस के लिए खेला लेकिन अच्छा प्रदर्शन करने में नाकाम रहे और 2018 की आईपीएल नीलामी में उन्हें किसी भी टीम ने नहीं खरीदा।

#5. थिसारा परेरा - $ 650,000, आईपीएल नीलामी 2012

Perera has played for 6 IPL teams

श्रीलंका के ऑलराउंडर थिसारा परेरा सात आईपीएल खेल चुके हैं और अपने 7 साल के आईपीएल करियर में, परेरा ने 6 अलग-अलग टीमों के लिए खेला है। अपने ऑलराउंड प्रदर्शन से वह हमेशा सभी फ्रेंचाइजियों के आकर्षण का केंद्र रहे हैं। अपनी विस्फोटक बल्लेबाज़ी से वह किसी भी मैच का रुख बदलने में सक्षम हैं। इसके अलावा, परेरा एक उपयोगी गेंदबाज भी हैं जो मैच के डेथ ओवरों में किफायती गेंदबाज़ी कर सकते हैं।

उनके इन्हीं गुणों को देखते हुए मुंबई इंडियंस ने 2012 की आईपीएल नीलामी में उन्हें $ 650,000 की भारी कीमत पर खरीदा था जो कि उनके आधार मूल्य ($ 50,000) से 13 गुना ज़्यादा थी। हालांकि, श्रीलंकाई खिलाड़ी अपने मूल्य टैग का औचित्य साबित करने में नाकाम रहे। उस सीज़न में खेले गए 2 मैचों में, परेरा ने केवल 4 रन बनाए और गेंद के साथ भी असफल रहे। इस तरह से मुंबई इंडियंस ने अगले सीज़न के लिए उन्हें रिटेन नहीं किया।

#4. प्रज्ञान ओझा - 3.25 करोड़ रुपये, आईपीएल नीलामी 2014

Related image

विभिन्न फ्रेंचाइज़ियों के लिए खेलने वाले प्रज्ञान ओझा ने शुरुआत में डेक्कन चार्जर्स के लिए खेलते हुए शानदार प्रदर्शन किया। उसके बाद 2012 में वह मुंबई इंडियंस में चले गए।

हैदराबाद के यह स्पिनर मुंबई इंडियंस के लिए बहुत सफल रहे और उन्होंने आईपीएल सीज़न 2012 और 2013 में मुंबई इंडियंस के लिए बढ़िया प्रदर्शन किया। इसी कारण, मुंबई इंडियंस ने आईपीएल 2014 के लिए उन्हें टीम में बनाए रखने के लिए आरटीएम कार्ड का इस्तेमाल किया। इस प्रक्रिया में उन्होंने 3.25 करोड़ रुपये ख़र्च कर दिए।

लेकिन दुर्भाग्यवश, उस सीज़न में ओझा 8.26 की इकोनॉमी रेट के साथ रन देकर सिर्फ 4 विकेट लेने में कामयाब रहे। ओझा ने मुंबई इंडियंस के लिए एक और सीज़न खेला और उसके भी वह अच्छा प्रदर्शन करने नाकाम रहे। बाद में उन्हें कभी मुंबई इंडियंस के लिए खेलने का मौका नहीं मिला।

#3. आरोन फिंच - 3.2 करोड़ रुपये, आईपीएल नीलामी 2015

Finch was ruled out of the tournament after playing 3 matches

आरोन फिंच दुनिया के सर्वश्रेष्ठ टी -20 बल्लेबाजों में से एक हैं और उनके नाम पर टी -20 अंतरराष्ट्रीय में उच्चतम स्कोर सहित कई रिकॉर्ड दर्ज हैं। फिंच किसी भी गेंदबाज़ी आक्रमण को तहस-नहस करने की क्षमता रखते हैं।

इन गुणों के कारण, फिंच को मुंबई इंडियंस ने 2015 की आईपीएल नीलामी में 3.2 करोड़ रुपये की भारी कीमत पर खरीदा था। फिंच से मुंबई इंडियंस को उनके अभियान में बड़ी भूमिका निभाने की उम्मीद थी लेकिन ऐसा हो ना सका और वर्तमान में ऑस्ट्रेलिया के वनडे और टी-20 प्रारूप के कप्तान सिर्फ 3 मैच खेलकर चोटिल होने की वजह से पूरे टूर्नामेंट से बाहर हो गए। घायल होने से पहले भी, फिंच ने तीन मैचों में सिर्फ 23 रन ही बनाए थे।

हालांकि उनका चोटिल होना दुर्भाग्यपूर्ण था लेकिन फिर भी मुंबई इंडियंस के फिंच पर इतना पैसा खर्च करने का फैसला सही नहीं था, विशेष रूप से तब जब उनका आईपीएल रिकॉर्ड भी कुछ खास नहीं रहा।

#2. ग्लेन मैक्सवेल - $1,000,000, आईपीएल नीलामी 2013

Maxwell played 3 games for MI in IPL 2013

आईपीएल नीलामी में ग्लेन मैक्सवेल हमेशा सभी फ्रैंचाइज़ियों के चहेते रहे है। ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर टी -20 के सबसे बेहतरीन खिलाड़ियों में से एक माने जाते हैं। मैक्सवेल ने 2012 में अपनी आईपीएल करियर की शुरुआत की, जहां उन्होंने दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए कुछ ही मैच खेले थे लेकिन प्रभावशाली प्रदर्शन किया था। 2013 की आईपीएल नीलामी में उन्होंने सभी फ्रैंचाइज़ियों का ध्यान आकर्षित किया।

इस नीलामी में मुंबई इंडियंस ने हर किसी को हैरान करते हुए उन्हें 1 मिलियन डॉलर की भारी कीमत पर इस ऑस्ट्रेलिआई ऑलराउंडर को खरीदा था।

लेकिन सबसे हैरानी की बात यह रही कि मुंबई इंडियंस ने मैक्सवेल को केवल 3 मैचों में ही खिलाया जिसमें उन्होंने 36 रन बनाए। यह काफी आश्चर्यजनक बात थी कि मुंबई ने उन्हें अपनी क्षमता दिखाने के लिए ज़्यादा मौके क्यूँ नहीं दिए। बहरहाल, आईपीएल सीज़न 2016 में मैक्सवेल किंग्स इलेवेन पंजाब में चले गए।

#1. किरोन पोलार्ड - 5.4 करोड़ रुपये, आईपीएल नीलामी 2018

किरोन पोलार्ड और मुंबई इंडियंस एक दूसरे के पर्याय बन चुके हैं। उन्होंने मुंबई इंडियंस के लिए पिछले कुछ सालों से कई मैच जिताऊ पारियां खेली हैं। वेस्टइंडीज के ऑल राउंडर ने मुंबई को अपनी विस्फोटक बल्लेबाज़ी और किफायती गेंदबाज़ी के साथ कई बार संकट से उबारकर जीत दिलाई है। पोलार्ड ने बल्ले और गेंद के साथ-साथ अपनी फील्डिंग से भी टीम की जीत में अहम योगदान दिया है। हालांकि, पिछले दो सालों से उनकी फॉर्म निरंतर गिरती जा रही है।

अब पोलार्ड रन बनाने के लिए संघर्ष करते नज़र आते हैं। आईपीएल नीलामी 2018 में मुंबई ने उन्हें रोहित शर्मा, हार्दिक पांड्या और जसप्रीत बुमराह के साथ टीम में रिटेन किया था। उन्होंने 5.4 करोड़ रुपये में आरटीएम कार्ड का उपयोग करके त्रिनिदाद के इस दिग्गज खिलाड़ी को टीम में बरकरार रखा।

लेकिन दुर्भाग्य से, पोलार्ड ने बहुत ही निराशाजनक प्रदर्शन किया जोकि मुंबई इंडियंस के आईपीएल 2018 से जल्दी बाहर होने का कारण बना। विंडीज़ ऑलराउंडर ने 9 मैचों में महज़ 133 रन बनाए और यह आँकड़ा उनके मूल्य टैग का औचित्य साबित नहीं करता।

Edited by मयंक मेहता

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...