Create

भारतीय महिला टीम के, बिना प्रैक्टिस डे-नाईट टेस्ट मैच खेलने को लेकर आई बड़ी प्रतिक्रिया

भारतीय महिला टीम
भारतीय महिला टीम
सावन गुप्ता

पूर्व क्रिकेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने भारतीय महिला टीम (India Womens Team) के डे-नाईट टेस्ट मैच खेलने को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि इंडियन टीम बिना किसी प्रैक्टिस के पहली बार पिंक बॉल से मुकाबला खेलने जा रही है जो सही नहीं है।

आपको बता दें कि भारतीय महिला टीम पहली बार डे-नाईट टेस्ट मुकाबला खेलेगी। टीम इंडिया ऑस्ट्रेलिया दौरे पर जाएगी और वहीं पर दोनों टीमों के बीच डे-नाईट टेस्ट मुकाबला होगा। इंडियन वुमेंस टीम ने 2014 के बाद से ही कोई टेस्ट मैच नहीं खेला है, लेकिन इस साल टीम दो टेस्ट खेलेगी। इनमें से एक टेस्ट मैच उन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ डे-नाईट खेलना है और एक मुकाबला इंग्लैंड के खिलाफ अगले महीने होगा। डे-नाईट टेस्ट मुकाबला 30 सितंबर से 3 अक्टूबर तक पर्थ में खेला जाएगा।

ये भी पढ़ें: डेविड वॉर्नर और ग्लेन मैक्सवेल समेत कई ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी प्रमुख टूर्नामेंट से अपना नाम वापस ले सकते हैं

अपने यू-ट्यूब चैनल पर बातचीत के दौरान आकाश चोपड़ा ने इंडियन टीम को लेकर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा,

मेरे हिसाब से वुमेंस टीम ने आखिरी बार 2014 में टेस्ट मुकाबला खेला था। हमने वो मुकाबला जीता था लेकिन उसके बाद टेस्ट मैचों में खेलने का मौका नहीं मिला था। अब उन्हें ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पिंक बॉल टेस्ट मैच खेलना है। हम केवल औपचारिकता पूरी करने जा रहे हैं क्योंकि हमारी कोई तैयारी ही नहीं है। हम ना तो पिंक बॉल से फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलते हैं और ना ही हमारी लड़कियों ने आज तक गुलाबी गेंद से कोई मुकाबला खेला है। अब अचानक आपको ऑस्ट्रेलिया जैसी वर्ल्ड चैंपियन टीम के खिलाफ डे-नाईट टेस्ट मुकाबला खेलना है।

आकाश चोपड़ा के मुताबिक भारतीय टीम को पूरा आईपीएल और टेस्ट क्रिकेट का सीजन मिलना चाहिए ताकि उनकी तैयारी बेहतर हो सके।

ये भी पढ़ें: "पाकिस्तान टीम में कोच और कप्तान अपने-अपने पसंद के प्लेयर्स को आगे बढ़ाने की कोशिश करते हैं"


Edited by सावन गुप्ता

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...