Create
Notifications

ओली रॉबिन्सन के सस्पेंशन को लेकर पूर्व भारतीय क्रिकेटर का बयान, कहा गलती सबसे होती है

ओली रॉबिन्सन
ओली रॉबिन्सन
SENIOR ANALYST

पूर्व भारतीय क्रिकेटर आकाश चोपड़ा (Aakash Chopra) ने इंग्लैंड के गेंदबाज ओली रॉबिन्सन (Ollie Robinson) के सस्पेंशन को लेकर बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि जब कोई युवा होता है तो वो गलती करता है और समझदार होने पर उसे उस चीज के लिए पछतावा भी होता है।

अपने यू-ट्यूब चैनल पर आकाश चोपड़ा ने ओली रॉबिन्सन के सस्पेंशन को लेकर प्रतिक्रिया दी। उन्होंने कहा कि युवावस्था में सबसे गलतियां हो जाती हैं। उन्होंने कहा,

इंटरनेट कभी भी आपको ना भूलता है और ना ही माफ करता है। ओली रॉबिन्सन ने कहा कि उस वक्त वो यंग थे और उसके लिए उन्होंने माफी भी मांग ली है। हम सभी गलतियां करते हैं और 10 साल में हमारी सोच बदल सकती है। ऐसा किसी के भी साथ हो सकता है।

आपको बता दें कि इंग्लैंड क्रिकेट बोर्ड ने पुराने ट्वीट्स के कारण लॉर्ड्स टेस्ट मैच में अपना डेब्यू करने वाले ओली रॉबिन्सन को इंटरनेशनल क्रिकेट से सस्पेंड कर दिया। साल 2012 और 2013 में रॉबिन्सन ने नस्लवादी और सेक्सिस्ट कमेंट किए थे और अब उनका ये पुराना ट्वीट सामने आने के बाद उनके खिलाफ ये बड़ी कार्रवाई की गई है।

ये भी पढ़ें: दिनेश कार्तिक ने अहम मामले को लेकर रविचंद्रन अश्विन का किया समर्थन, कहा उन पर सवाल उठाना सही नहीं है

इंग्लैंड बोर्ड के सामने कोई विकल्प नहीं बचा था - आकाश चोपड़ा

आकाश चोपड़ा ने आगे कहा कि पुराने ट्वीट्स के आधार पर इंग्लैंड बोर्ड के सामने रॉबिन्सन को सस्पेंड करने के अलावा कोई और विकल्प नहीं बचा था। उन्होंने कहा,

ईसीबी काफी मुश्किल स्थिति में फंस गई थी, क्योंकि इन ट्वीट्स के बाहर आने के बाद उनके पास कोई ऑप्शन नहीं बचा था। उनके लिए रॉबिन्सन के खिलाफ कार्रवाई करना जरूरी था। क्योंकि जब कभी ऐसी कोई बात होती है तो फिर एक बोर्ड के तौर पर आपको उस पर कुछ ना कुछ करना होता है। अगर आप कुछ नहीं करते हैं तो लोगों को यही लगेगा कि आप भी उस चीज को सपोर्ट कर रहे हैं। इसलिए इंग्लैंड बोर्ड के पास कोई ऑप्शन नहीं बचा था। उनके हाथ बंधे हुए थे।

ये भी पढ़ें: "WTC फाइनल में ऋषभ पंत भारतीय टीम के लिए सबसे अहम खिलाड़ी होंगे"

Edited by सावन गुप्ता
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now