कोच और कप्तान आपस में बात ही नहीं करते थे...एबी डीविलियर्स ने प्रमुख टीम को लेकर किया बड़ा खुलासा

AB de Villiers Joins Brisbane Heat Media Opportunity
AB de Villiers Joins Brisbane Heat Media Opportunity

साउथ अफ्रीका के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज एबी डीविलियर्स (AB de Villiers) ने अपनी टीम को लेकर एक चौंकाने वाला खुलासा किया है। उन्होंने कहा कि जब वो प्रोटियाज टीम की तरफ से खेलते थे तो एक वक्त ऐसा था जब कप्तान ग्रीम स्मिथ और हेड कोच रे जेनिंग्स आपस में बात तक नहीं करते थे और जब बात करते थे तो इनकी लड़ाई हो जाती थी।

दरअसल एंडी फ्लावर को हाल ही में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर का हेड कोच नियुक्त किया गया है। वो अब फाफ डू प्लेसी के साथ मिलकर काम करेंगे। एंडी फ्लावर और फाफ डू प्लेसी इससे पहले कोच और कप्तान के तौर पर सीपीएल में काम कर चुके हैं। एबी डीविलियर्स के मुताबिक कोच और कप्तान के बीच का रिश्ता काफी अच्छा होना चाहिए। अपने यू-ट्यूब चैनल पर बातचीत के दौरान उन्होंने कहा,

मैंने देखा कि एंडी फ्लावर ने सोशल मीडिया पर कहा कि वो फाफ डू प्लेसी के साथ काम करना चाहते हैं और इसके लिए एक्साइटेड हैं। ये हमेशा ही काफी अच्छी चीज होती है। जब कोच और कप्तान मिलकर एकसाथ काम करते हैं तो फिर इससे टीम काफी अच्छी हो जाती है। खिलाड़ियों के अंदर वो विश्वास होना जरूरी है कि कोच और कप्तान की राय एक ही है।

ग्रीम स्मिथ और रे जेनिंग्स आपस में बात नहीं करते थे - एबी डीविलियर्स

डीविलियर्स के मुताबिक जब वो साउथ अफ्रीका टीम में थे तो कोच और कप्तान आपस में बात ही नहीं करते थे। उन्होंने आगे कहा,

जब ग्रीम स्मिथ कप्तान थे और रे जेनिंग्स कोच थे तो दोनों आपस में बात ही नहीं करते थे। जब करते थे तो लड़ाई हो जाती थी। हालांकि टीम पर इससे फर्क नहीं पड़ा और खिलाड़ी ज्यादा स्मिथ से बात करते थे। मुझे रे जेनिंग्स की कोचिंग पसंद थी लेकिन ग्रीम स्मिथ खिलाड़ियों के फेवरिट थे।

आपको बता दें कि रे जेनिंग्स की 2004-05 के दौरान थोड़े समय के लिए साउथ अफ्रीका टीम के कोच रहे। वहीं ग्रीम स्मिथ को 22 साल की उम्र में ही साउथ अफ्रीका का कप्तान बना दिया गया था और एक दशक तक उन्होंने टीम की कमान संभाली।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता
Be the first one to comment