स्टंप माइक पर विराट कोहली के कमेंट्स को लेकर ऑस्ट्रेलियाई दिग्गजों ने दी प्रतिक्रिया 

स्टंप माइक पर विराट कोहली ने ब्रॉडकास्टर्स पर निशाना साधा था
स्टंप माइक पर विराट कोहली ने ब्रॉडकास्टर्स पर निशाना साधा था

दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच (IND vs SA) में विराट कोहली (Virat Kohli) ने एक डीआरएस मामले को लेकर जो रिएक्शन दिया उसके बाद से लगातार वो आलोचकों के निशाने पर हैं। विराट कोहली ने डीआरएस मामले को लेकर सीधे तौर पर स्टंप माइक के माध्यम से ब्रॉडकास्ट चैनल पर ही गलत करने का आरोप लगा दिया, जिसे पूरी दुनिया ने देखा। इसके बाद कई पूर्व खिलाड़ियों ने अपनी प्रतिक्रिया दी। इसी क्रम में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी शेन वॉर्न और एडम गिलक्रिस्ट ने भी अपने विचार व्यक्त किये हैं।

दरअसल साउथ अफ्रीका की पारी के 21वें ओवर में रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर डीन एल्गर को फील्ड अंपायर ने पगबाधा आउट करार दिया। हालांकि एल्गर ने इस फैसले को रिव्यू किया। रीप्ले में दिखा कि गेंद एकदम स्टंप के ऊपर से निकल रही थी और इसी वजह से ऑन फील्ड अंपायर को अपना फैसला पलटना पड़ा।

इसके बाद विराट कोहली ने स्टंप माइक पर हॉक-आई को लेकर ब्रॉडकास्टर्स पर पक्षपात का आरोप लगाया, साथ ही ब्रॉडकास्टर को गेंद को चमकाने के दौरान घरेलू टीम पर कैमरे लगाने के लिए कहा और इससे कई लोगों को 2018 सैंडपेपर घटना की याद आ गई।

यह पहले से ही योजनाबद्ध लगता है - एडम गिलक्रिस्ट

विराट कोहली के कमेंट्स पर पूर्व दिग्गज विकेटकीपर एडम गिलक्रिस्ट ने शेन वॉर्न से चर्चा करते हुए कहा,

मैं जिस आरोप में दिलचस्पी ले रहा हूं वो ये कि ये सब पहले से प्लान किया लगता है। ये काफी समय से हो रहा था और फिर उस दिन ये एक ब्रेकिंग प्वाइंट पर पहुंच गया है। गेंद को चमकाने वाली टीमों को कैमरा पर दिखाने के आरोप को मैं मान रहा हूं, ये सभी उस मामले की तरफ वापस जाता है जब ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी कैमरे पर पकड़े गए थे।

वहीं ऑस्ट्रेलिया के स्पिन महान स्पिन गेंदबाज शेन वॉर्न ने कहा कि

देखो ये एक दिलचस्प मामला है, मुझे यकीन नहीं है कि एक अंतरराष्ट्रीय टीम के कप्तान को ऐसा करना चाहिए। लेकिन कभी-कभी निराशा बढ़ जाती है, आप बस इतना निराश हो जाते हैं और इसलिए मैंने कहा कि मुझे आश्चर्य है कि क्या इस सीरीज में ऐसा तीन या चार बार हुआ है और फिर उन्हें लगा कि बहुत हो गया, अब ऐसा और नहीं हो सकता।

Quick Links