Create
Notifications

"अगर मैं कप्तान होता तो इन खिलाड़ियों को अभी तक 2-3 बार थप्पड़ जड़ चुका होता"

निरोशन डिकवेला
निरोशन डिकवेला
SENIOR ANALYST

इंग्लैंड दौरे पर बायो-बबल तोड़ने वाले खिलाड़ियों को लेकर श्रीलंका (Sri Lanka Cricket) के पूर्व वर्ल्ड कप विजेता कप्तान अर्जुन रणातुंगा ने बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा है कि अगर वो इस वक्त श्रीलंकाई टीम के कप्तान होते तो इन खिलाड़ियों को अब तक 2-3 बार थपड़ जड़ चुके होते।

दरअसल इंग्लैंड दौरे पर गए तीन प्रमुख खिलाड़ियों निरोशन डिकवेला, कुसल मेंडिस और दनुश्का गुनातिलका ने बायो-बबल प्रोटोकॉल का उल्लंघन किया और रात में घूमने निकल गए। यही नहीं निरोशन डिकवेला और कुसल मेंडिस का एक वीडियो भी सामने आया है जिसमें वो सिगरेट पीने का मौका तलाश रहे हैं।

ये भी पढ़ें: सैम करन ने खतरनाक गेंदबाजी के दम पर वनडे में बड़ी उपलब्धि हासिल की, इयोन मोर्गन और जो रूट ने बल्लेबाजी में किया कमाल

Daily Mirror.lk में छपी खबर के मुताबिक अर्जुन रणातुंगा ने कहा,

मैं खिलाड़ियों को सोशल मीडिया का प्रयोग करने की इजाजत नहीं देता। ये खिलाड़ी फेसबुक और इंस्टाग्राम समेत हर चीज का प्रयोग करते हैं सिवाय क्रिकेट खेलने के। क्रिकेट एडमिनिस्ट्रेशन इस बारे में कुछ भी नहीं कर रहा था। ये खिलाड़ी केवल पब्लिसिटी चाहते हैं। अगर मैं होता तो इन खिलाड़ियों को शायद अभी तक दो या तीन बार थप्पड़ जड़ चुका होता।

तीनों खिलाड़ियों को एक साल के लिए किया गया सस्पेंड

आपको बता दें कि इस घटना के बाद श्रीलंका क्रिकेट ने तीनों ही खिलाड़ियों को एक साल के लिए क्रिकेट से निलंबित कर दिया है। ये सभी खिलाड़ी सालों बाद इकॉनमी क्लास में सफ़र कर श्रीलंका लौटे हैं और अब 14 दिन तक क्वारंटाइन में रहेंगे। लेकिन बोर्ड ने जल्दी फैसला लेते ही इन खिलाड़ियों को क्रिकेट से एक साल के लिए निलंबित कर दिया है।

श्रीलंकाई टीम इस समय इंग्लैंड में एकदिवसीय सीरीज खेल रही है टी20 सीरीज 3-0 से गंवाने के बाद दो एकदिवसीय मैच में भी श्रीलंका को हार मिली है।

ये भी पढ़ें: किरोन पोलार्ड ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ खेली धुआंधार पारी, ड्वेन ब्रावो की घातक गेंदबाजी ने जिताया मैच

Edited by सावन गुप्ता
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now