ऋषभ पंत का चौंकाने वाला भारतीय रिकॉर्ड, भारत की ऐतिहासिक जीत में बने अनोखे आंकड़े 

Australia v India: 4th Test: Day 5
Australia v India: 4th Test: Day 5

भारत (Indian Cricket Team) ने ब्रिस्बेन टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया (Australian Cricket Team) को तीन विकेट से हराया और चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 2-1 से ऐतिहासिक जीत दर्ज की। ऑस्ट्रेलिया ने पहली पारी में 369 रन बनाये थे, जिसके जवाब में भारतीय टीम ने 336 रन बनाये। दूसरी पारी में ऑस्ट्रेलिया ने 294 रन बनाये और भारत को जीत के लिए 328 रनों का मुश्किल लक्ष्य दिया, जिसे भारतीय टीम ने आखिरी दिन हासिल कर लिया और ऐतिहासिक जीत दर्ज की। ऋषभ पंत को 89 रनों की बेहतरीन पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

आइये नज़र डालते हैं मैच के प्रमुख आंकड़ों पर:

# भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 101 टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलियाई टीम 43-29 से आगे। 28 मैच ड्रॉ हुए हैं, वहीं एक मैच टाई हुआ है।

# भारतीय टीम ने लगातार दूसरी बार ऑस्ट्रेलिया को ऑस्ट्रेलिया में चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-1 से हराया।

# बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी के तहत 15वीं सीरीज। भारत 9-5 से आगे, वहीं एक सीरीज ड्रॉ हुई थी।

# ब्रिस्बेन में 1988 में वेस्टइंडीज के खिलाफ हार के बाद ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम की पहली हार। उसके बाद से गाबा में ऑस्ट्रेलिया का रिकॉर्ड 31 टेस्ट ममें 24 जीत और 7 ड्रॉ का था।

# भारतीय टीम ने टेस्ट क्रिकेट में तीसरी बार चौथी पारी में 300 से ज्यादा रनों का पीछा करते हुए जीत हासिल की। इससे पहले यह रिकॉर्ड 1976 में वेस्टइंडीज के खिलाफ पोर्ट ऑफ स्पेन (406/4) और 2008 में इंग्लैंड के खिलाफ चेन्नई (387/4) में बना था।

# भारतीय टीम - ब्रिस्बेन में टेस्ट जीतने वाली पहली एशियाई टीम।

# भारतीय टीम ने पांचवीं बार पहला टेस्ट हारने के बाद सीरीज में जीत हासिल की।

# ऑस्ट्रेलिया ने टेस्ट क्रिकेट में भारत के खिलाफ तीसरी बार पहली पारी में 33 रनों की बढ़त ली और तीनों मैच गंवाया। ब्रिस्बेन से पहले यह रिकॉर्ड 2003 में एडिलेड और 1979 में कानपुर में बना था।

# टेस्ट क्रिकेट में सिर्फ तीसरी बार मैच के आखिरी दिन किसी टीम ने 325 या उससे ज्यादा रन बनाकर मैच जीता। भारत (325) से पहले ऑस्ट्रेलिया (404 vs इंग्लैंड, 1948) और वेस्टइंडीज (344 vs इंग्लैंड, 1984) ने यह रिकॉर्ड बनाया था।

# ऋषभ पंत ने 27वीं पारी में 1000 टेस्ट रन पूरे किये और भारतीय विकेटकीपर के सबसे तेज़ 1000 टेस्ट रन के मामले में महेंद्र सिंह धोनी (32 पारी) का रिकॉर्ड तोड़ा।

# ऋषभ पंत ने चौथी पारी में नाबाद 89 रन बनाये। चौथी पारी में यह भारत के किसी भी विकेटकीपर का तीसरा सबसे बड़ा स्कोर है। इस मामले में पहले दो रिकॉर्ड स्कोर भी ऋषभ पंत (114 vs इंग्लैंड, 2018 एवं 97 vs ऑस्ट्रेलिया, 2021) के नाम ही है।

# वॉशिंगटन सुंदर ने अपने पहले टेस्ट में अर्धशतक लगाया और साथ ही एक पारी में तीन विकेट भी लिए। उनसे पहले यह रिकॉर्ड भारत की तरफ से सिर्फ दत्तू फडकर (51 एवं 3/14 vs ऑस्ट्रेलिया, 1947) और हनुमा विहारी (56 एवं 3/37 vs इंग्लैंड, 2018) का था। सुंदर ने नंबर 7 बल्लेबाज के तौर पर पहली ही पारी में 62 रन बनाये। इस मामले में भारतीय रिकॉर्ड राहुल द्रविड़ (95 vs इंग्लैंड, लॉर्ड्स 1996) का है।

# अजिंक्य रहाणे - कप्तान के तौर पर पांचवां टेस्ट और चार जीत। इसके अलावा एक मैच ड्रॉ हुआ है।

# शार्दुल ठाकुर ने दूसरे टेस्ट में पहला अर्धशतक लगाया। इसके अलावा उन्होंने मैच में 7 विकेट भी

# मोहम्मद सिराज ने तीसरे टेस्ट में पहली बार पारी में 5 विकेट लिए। अपनी पहली सीरीज में उनके अलावा एक पारी में 5 विकेट लेने का रिकॉर्ड भारत की तरफ से सिर्फ मोहम्मद निस्सार, वामन कुमार, रवि शास्त्री और वेंकटेश प्रसाद ने बनाया था।

# चेतेश्वर पुजारा (6111 रन) - भारत की तरफ से सबसे ज्यादा टेस्ट रन के मामले में 10वें स्थान पर पहुंचे। उन्होंने गुंडप्पा विश्वनाथ (6080 रन) का रिकॉर्ड तोड़ा।

# पुजारा ने 196 गेंदों में अपना 28वां अर्धशतक लगाया और यह उनका सबसे धीमा अर्धशतक है।

# नाथन लायन का 100वां टेस्ट और यह रिकॉर्ड बनाने वाले 13वें ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी।

# मार्नस लैबुशेन ने 18वें टेस्ट में पांचवां शतक लगाया।

# ऑस्ट्रेलिया के मार्नस लैबुशेन ने सीरीज में सबसे ज्यादा 426 रन बनाये, वहीं पैट कमिंस ने सबसे ज्यादा 21 विकेट लिए। भारत की तरफ से सबसे ज्यादा रन ऋषभ पंत (3 मैच 274 रन( ने बनाये, वहीं मोहम्मद सिराज (3 मैच 13 विकेट) ने सबसे ज्यादा विकेट लिए।

# टी नटराजन (300वें खिलाड़ी ) और वॉशिंगटन सुंदर (301वें खिलाड़ी) ने अपना टेस्ट डेब्यू किया।

यह भी पढ़ें - ICC टेस्ट चैंपियनशिप: सबसे ज्यादा रन बनाने और विकेट लेने वाले टॉप 10 खिलाड़ी

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़