Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

AUS vs SA: दक्षिण अफ्रीका ने एकमात्र टी20 में ऑस्ट्रेलिया को 21 रनों से हराया

FEATURED WRITER
न्यूज़
2.44K   //    17 Nov 2018, 18:17 IST


Enter caption

दक्षिण अफ्रीका ने क्वींसलैंड में खेले गए एकमात्र टी20 अंतर्राष्ट्रीय मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया को 21 रनों से हराया। बारिश के कारण मुकाबला देरी से शुरू हुआ और अंत में इस मुकाबले को 10-10 ओवर का कर दिया गया था। दक्षिण अफ्रीका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 10 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 108 रन बनाए, जिसके जवाब में ऑस्ट्रेलिया की टीम 10 ओवरों में 7 विकेट के नुकसान पर सिर्फ 87 रन ही बना पाए। तबरेज शमसी (2-12-1) को उनकी शानदार गेंदबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। दक्षिण अफ्रीका को क्विंटन डी कॉक (22) और हीजा हेंड्रिक्स (19) ने शानदार शुरूआत दिलाई और पहले विकेट के लिए 3.2 ओवरों में 42 रन जोड़े और 5 ओवरों तक टीम का स्कोर 60 तक पहुंच गया था। हालांकि अंतिम 5 ओवरों में ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों ने दमदार वापसी की और मेहमान टीम को विशाल स्कोर नहीं खड़ा करने नहीं दिया। दक्षिण अफ्रीका के लिए कप्तान फाफ डू प्लेसी ने सबसे ज्यादा 27 रन बनाए, इसके लिए उन्होंने 15 गेंदों का सामना किया और 4 चौके भी लगाए। उनके लिए डेविड मिलर (11) और हेनरिक क्लासेन(12) के नहीं चल पाने के कारण दक्षिण अफ्रीका सिर्फ 108 रन ही बन पाए। ऑस्ट्रेलिया के लिए एंड्रू टाय और नाथन कूल्टर नाइल ने दो-दो विकेट तो ग्लेन मैक्सवेल और बिली स्टैनलेक को एक-एक विकेट मिला।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी ऑस्ट्रेलिया की शुरूआत बेहद खराब रही। मेजबान टीम ने 37 के स्कोर तक कप्तान आरोन फिंच (7), डार्सी शॉर्ट (0), क्रिस लिन (14) और मार्कस स्टोइनिस (5) के विकेट सस्ते में गंवा दिए थे। सिर्फ ग्लेन मैक्सवेल ही दक्षिण अफ्रीका के गेंदबाजों का सामना कर पाए और उन्होंने अपनी टीम के लिए सबसे ज्यादा 38 रन बनाए। मैक्सवेल ने अपनी पारी में 23 गेंदों का सामना किया, जिसमें 2 चौके और 2 छक्के शामिल थे। वो मैच की आखिरी गेंद पर आउट हुए। दूसरे बल्लेबाजों का समर्थन नहीं मिल पाने के कारण ऑस्ट्रेलिया सिर्फ 87 रन ही बना पाई। दक्षिण अफ्रीका के लिए क्रिस मॉरिस, एन्डाइल फेलुकवायो और लुंगी एनगिडी ने दो-दो विकेट लिए।

संक्षिप्त स्कोर

दक्षिण अफ्रीका: 108-6

ऑस्ट्रेलिया: 87-7

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...