Create
Notifications

प्रमुख खिलाड़ी के अचानक संन्यास का ऐलान करने से गुस्से में आया बांग्लादेश बोर्ड

Photo Credit - twitter
Photo Credit - twitter
SENIOR ANALYST

जिम्बाब्वे के खिलाफ हरारे टेस्ट मैच में 150 रनों की पारी खेलने वाले महमदुल्लाह (Mahmudullah) के संन्यास की खबरें आने के बाद बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने नाराजगी जताई है। बीसीबी प्रेसिडेंट ने कहा है कि महमदुल्लाह को इस तरह से संन्यास का ऐलान नहीं करना चाहिए था।

महमदुल्लाह ने 17 महीने बाद टेस्ट क्रिकेट में वापसी की थी और अपने चयन को सही भी साबित किया। उन्होंने बांग्लादेश की पहली पारी के दौरान 150 रनों की मैराथन पारी खेली और 9वें विकेट के लिए 191 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी कर बांग्लादेश को मुश्किल स्थिति से निकाला। हालांकि इसके बाद उनके संन्यास लेने की खबरें आईं।

ये भी पढ़ें: सुरेश रैना को फैंस ने किया ट्रोल, एम एस धोनी के साथ IPL खेलने को लेकर दिया था चौंकाने वाला बयान

क्रिकबज्ज में छपी खबर के मुताबिक महमदुल्लाह ने अपनी टीम के खिलाड़ियों को बता दिया है कि अब वो आगे टेस्ट क्रिकेट नहीं खेलना चाहते हैं। उनके इस फैसले से टीम मैनेजमेंट और खिलाड़ी सभी हैरान हैं।

बीच टेस्ट मैच के दौरान महमदुल्लाह के रिटायरमेंट की खबरों से बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड खुश नहीं है। बोर्ड का मानना है कि अगर उन्हें संन्यास लेना ही था तो मैच के बाद ऐलान करते। इस तरह से अचानक रिटायरमेंट का ऐलान करने से टीम पर गलत प्रभाव पड़ेगा।

बंगाल डेली प्रथोम एलो के मुताबिक बीसीबी प्रेसिडेंट नजमुल हसन ने कहा,

मुझे अधिकारिक तौर पर तो कोई जानकारी नहीं मिली लेकिन किसी ने फोन करके कहा कि महमदुल्लाह आगे टेस्ट मैच नहीं खेलना चाहते हैं। उन्होंने ड्रेसिंग रूम को इस बारे में जानकारी दी है। मेरे हिसाब से ये ठीक नहीं है क्योंकि मैच अभी खत्म नहीं हुआ है। मुझे लगता है कि भावनाओं में आकर उन्होंने ये फैसला लिया है। इस तरह के ऐलान से टीम पर निगेटिव असर पड़ेगा। ये कतई स्वीकार नहीं है। अगर कोई खेलना नहीं चाहता है तो मुझे उससे कोई प्रॉब्लम नहीं है लेकिन बीच सीरीज के दौरान इस तरह से अफरा-तफरी नहीं मचानी चाहिए।

महमदुल्लाह ने खुद टेस्ट क्रिकेट खेलने के लिए कहा था - बीसीबी प्रेसिडेंट

नजमुल हसन ने ये भी बताया कि जिम्बाब्वे टूर से पहले महमदुल्लाह ने खुद कहा था कि उन्हें टेस्ट क्रिकेट में खेलना है और इसी वजह से उनका चयन भी हुआ था। मैंने उन्हें दो बार बुलाकर पूछा था और उन्होंने कहा था कि मैं टेस्ट क्रिकेट में खेलना चाहता हूं।

ये भी पढ़ें: स्मृति मंधाना की शानदार पारी के बावजूद भारतीय टीम को पहले टी20 में मिली हार

Edited by सावन गुप्ता
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now