Create
Notifications

अक्टूबर से हो सकती है भारत के डोमेस्टिक सीजन की शुरूआत - रिपोर्ट्स

Photo Credit - BCCI
Photo Credit - BCCI
Nitesh
ANALYST

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानि बीसीसीआई (BCCI) अक्टूबर से 2021-22 का डोमेस्टिक सीजन शुरू करने के बारे में विचार कर रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक कोरोना वायरस को देखते हुए बीसीसीआई ने दो तरह की प्लानिंग कर रखी है।

दैनिक जागरण में छपी खबर के मुताबिक अगर भारत में कोरोना के मामले कम हो जाते हैं तो मेंस और वुमेंस कैटेगरी को मिलाकर 2127 डोमेस्टिक मैचों का आयोजन होगा।

पिछले सीजन बीसीसीआई केवल सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी और विजय हजारे ट्रॉफी का ही आयोजन करवा सकी थी। कोरोना वायरस की वजह से रणजी ट्रॉफी का आयोजन नहीं हो पाया था और इसकी वजह से डोमेस्टिक क्रिकेटर्स पर काफी असर पड़ा था।

ये भी पढ़ें: वहाब रियाज ने पाकिस्तान टीम में युवा खिलाड़ियों को ज्यादा महत्व मिलने पर जताई नाराजगी

बीसीसीआई सभी टूर्नामेंट्स का करवाएगी आयोजन

हालांकि इस बार मेंस कैटेगरी में रणजी ट्रॉफी, सैय्यद मुश्ताक अली ट्रॉफी, विजय हजारे ट्रॉफी और सीके नायडू ट्रॉफी का आयोजन होना है। वहीं वुमेंस क्रिकेट की अगर बात करें तो सीनियर लेवल के चारों ही टूर्नामेंट्स का आयोजन कराया जाएगा। इसके अलावा तीन अंडर-19 और दो अंडर-23 टूर्नामेंट्स का आयोजन भी होगा।

अगर दूसरे प्लान की बात करें तो बीसीसीआई इन सभी टूर्नामेंट्स का आयोजन तो करेगी लेकिन इस दौरान कुछ पाबंदियां भी रहेंगी। सभी टीमों को टूर्नामेंट की शुरूआत से पहले 7 दिनों के क्वांरटीन में रहना होगा। टीमों को छह ग्रुप में बांटा जाएगा और जितने मुकाबले कम हुए हैं उसके आधार पर प्वॉइंट सिस्टम को भी एडजस्ट किया जाएगा। क्वार्टर फाइनल, सेमीफाइनल और फाइनल 2020-21 सीजन की तरह ही होंगे।

आपको बता दें कि कोरोना वायरस की वजह से सभी तरह की क्रिकेट पर काफी असर पड़ा और खासकर डोमेस्टिक क्रिकेटर्स को ज्यादा नुकसान उठाना पड़ा।

ये भी पढ़ें: सरफराज अहमद के कॉन्ट्रैक्ट लिस्ट में डिमोट होने को लेकर पूर्व दिग्गज ने दिया बड़ा बयान

Edited by Nitesh
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now