Birthday Special - गौतम गंभीर की सबसे यादगार पारी रही है नेपियर टेस्ट की मैराथन पारी

गौतम गंभीर ने 137 रनों की मैराथन पारी खेली, जिसमें उन्होंने 436 गेंदों का सामना किया
गौतम गंभीर ने 137 रनों की मैराथन पारी खेली, जिसमें उन्होंने 436 गेंदों का सामना किया

भारतीय टीम (Indian Cricket Team) के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) आज अपना 39वां जन्मदिन मना रहे हैं। भारत के लिए टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) 2007 में 75 रनों की मैच जीताऊ पारी और वर्ल्ड कप (ICC World Cup) 2011 में 97 रनों की ऐतिहासिक पारी खेल गौतम गंभीर ने भारतीय क्रिकेट में अपना दबदबा बनाया। इन दो महत्वपूर्ण पारियों को भारत का हर एक क्रिकेट प्रेमी जीवन भर याद रखेगा। गौतम गंभीर के लिए यह पारियां महत्वपूर्ण थी लेकिन उनकी सबसे मेमोरेबल इनिंग्स इन दोनों के अलावा कोई और है।

गौतम गंभीर को एक शो के दौरान पूछा गया था कि वर्ल्ड कप 2011 में आपके द्वारा खेली गई 97 रनों की पारी आपके लिए सबसे यादगार पारी होगी? इस सवाल के जवाब में गौतम ने कहा कि हाँ यह पारी मेरे लिए यादगार है लेकिन इससे पहले साल 2009 में मैंने न्यूज़ीलैंड के खिलाफ नेपियर टेस्ट में शानदार शतक लगाया था। उस दौरान मैंने 16 घंटो तक बल्लेबाजी की थी और वो पारी मेरे लिए सबसे यादगार है। भारत उस टेस्ट में हार की कगार पर था लेकिन मैंने धैर्य रखते हुए टीम के लिए मैच बचाया। मैं कभी नहीं सोच सकता कि मैं इस तरह की पारी टेस्ट क्रिकेट में खेल पाऊंगा। इसलिए मेरी सबसे यादगार पारियों में से सबसे ऊपर नेपियर टेस्ट को पारी रहेगी।

भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच साल 2009 की टेस्ट सीरीज के दौरान दूसरे टेस्ट में गौतम गंभीर ने 137 रनों की मैराथन पारी खेली, जिसमें उन्होंने 436 गेंदों का सामना किया और 16 घंटे से अधिक वो क्रीज़ पर जमे रहे। गौतम गंभीर की इस पारी के चलते भारत यह टेस्ट मैच ड्रॉ कराने में सफल रहा और सीरीज को 1-0 से अपने नाम कर इतिहास रच दिया। गौतम गंभीर ने माना है कि टेस्ट क्रिकेट उनका सबसे फेवरेट फॉर्मेट है। वनडे और टी20 क्रिकेट आपको मनोरंजन दे सकता है लेकिन एक ख़िलाड़ी के तौर पर आपकी क्षमता टेस्ट क्रिकेट खेलने से ही पता चलती है।

Quick Links

App download animated image Get the free App now