Create

अश्विन और चहल की वजह से क्वालीफ़ायर 1 में राजस्थान रॉयल्स को फायदा बताते हुए आरसीबी के पूर्व कप्तान ने दी प्रतिक्रिया

युजवेंद्र चहल और आर अश्विन की जोड़ी ने बल्लेबाजों को काफी परेशान किया है
युजवेंद्र चहल और आर अश्विन की जोड़ी ने बल्लेबाजों को काफी परेशान किया है

आईपीएल 2022 (IPL 2022) का पहला क्वालीफ़ायर मुकाबला गुजरात टाइटंस (GT) बनाम राजस्थान रॉयल्स (RR) खेला जायेगा। इस मुकाबले को लेकर प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो गया है। इसी कड़ी में न्यूजीलैंड और आरसीबी के पूर्व कप्तान का नाम जुड़ गया है। विटोरी के मुताबिक युजवेंद्र चहल (Yuzvendra Chahal) और रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) की स्पिन जोड़ी की वजह से राजस्थान की टीम को थोड़ा फायदा है।

लीग चरण में नंबर 1 और नंबर 2 के रूप में रहने वाली गुजरात टाइटंस और राजस्थान रॉयल्स के बीच 24 मई को कोलकाता के ईडन गार्डन्स में पहला क्वालीफ़ायर खेला जायेगा। गुजरात को अपने आखिरी मैच में आठ विकेट से हार मिली थी। वहीं राजस्थान रॉयल्स ने सीएसके को पांच विकेट से हराकर लीग मैचों का समापन किया था।

गुजरात और राजस्थान के मुकाबले का प्रीव्यू करते हुए डेनियल विटोरी ने संजू सैमसन की टीम को गेंदबाजी के मामले में बेहतर बताया। ईएसपीएन क्रिकइंफो पर उन्होंने कहा,

मुझे लगता है कि वे (दोनों गेंदबाजी आक्रमण) काफी संतुलित हैं। मुझे अश्विन-चहल का कॉम्बिनेशन पसंद है। मुझे लगता है कि यह राजस्थान को थोड़ा ख़ास बनाता है। इसलिए मुझे लगता है कि राजस्थान सिर्फ उन दोनों और ट्रेंट बोल्ट की वजह से आगे है। हालाँकि गुजरात का गेंदबाजी लाइन-अप भी अच्छा है। लेकिन मुझे लगता है कि राजस्थान के पास बढ़त है।

राजस्थान रॉयल्स के युजवेंद्र चहल 14 मैचों में 7.67 की इकॉनमी रेट से 26 विकेट लेकर टूर्नामेंट के सबसे सफल गेंदबाज हैं। वहीं उनके जोड़ीदार अश्विन 14 मैचों में 7.14 की इकॉनमी से 11 विकेट हासिल कर चुके हैं।

दोनों ही टीमों को अपने आखिरी लीग वाली ही प्लेइंग XI खिलानी चाहिए - डेनियल विटोरी

डेनियल विटोरी का मानना है कि क्वालीफ़ायर 1 में दोनों ही टीमें वही प्लेइंग XI खिलाएंगी जो उन्होंने अपने-अपने आखिरी लीग मैच में उतारी थी। जहाँ राजस्थान ने शिमरोन हेटमायर को शामिल किया था, वहीं गुजरात टाइटंस ने लोकी फर्ग्युसन को जगह दी थी। पूर्व कीवी खिलाड़ी से जब दोनों ही टीमों में किसी बदलाव के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा,

बिल्कुल नहीं। हेटमायर के आने से राजस्थान ने पिछले मैच में अपनी मजबूत टीम उतारी। और गुजरात ने लोकी फर्ग्यूसन को वापस लाने के लिए कुछ बदलाव किए। मुझे विश्वास है कि वे उन्हीं टीमों के साथ जायेंगे।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment