Create
Notifications

'टी20 क्रिकेट में केएल राहुल को ही रोहित शर्मा के साथ ओपन करना चाहिए'

Australia v India - T20 Game 1
Australia v India - T20 Game 1
Naveen Sharma
FEATURED WRITER

पूर्व भारतीय खिलाड़ी दीप दासगुप्ता ने आगामी टी20 विश्व कप में रोहित शर्मा के जोड़ीदार के रूप में किसे पारी की शुरुआत करनी चाहिए इसको लेकर उन्होंने बड़ी प्रतिक्रिया दी है। उनका मानना है कि टीम इंडिया को विराट कोहली की ओपनिंग करने की इच्छा के बावजूद, अभी भी केएल राहुल को भी रोहित शर्मा के जोड़ीदार के रूप में देखना चाहिए। गौरतलब है कि हाल ही में इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टी20 मैचों की सीरीज के आखरी टी20 में विराट कोहली ने बतौर ओपनर बल्लेबाजी की थी और उन्होंने इसके बाद टी20 विश्वकप में भी भारत के लिए पारी की शुरुआत करने की इच्छा जताई थी।

अपने यूट्यूब चैनल पर सवालों के जवाब देते हुए इस पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा कि अगर केएल राहुल का फॉर्म अच्छा रहता है तो फिर विराट कोहली के ओपनिंग करने का कोई कारण नहीं नजर आता है। इसके अलावा टी20 विश्व कप में केएल राहुल की फॉर्म पर भारत का बल्लेबाजी क्रम काफी हद तक निर्भर करेगा।

दीपदास गुप्ता ने कहा कि खैर, यह संभव है, और पिछली सीरीज के दौरान विराट कोहली ने भी जिक्र किया था कि वह गंभीरता से सोच रहे हैं [रोहित के साथ ओपनिंग के बारे में], वह हो सकता है, या जो कुछ भी उसने कहा। लेकिन मैं नहीं जनता कि क्या यह इस बारे में जाने का सही तरीका है। बहुत कुछ इस बात पर निर्भर करेगा कि केएल राहुल का फॉर्म कैसा है। अगर केएल राहुल वैसी ही बल्लेबाजी करते हैं जैसे वह एक साल पहले कर रहे थे तो फिर मुझे कोई कारण नहीं दिखता कि विराट को ओपनिंग क्यों करनी चाहिए। तब रोहित और केएल पारी की शुरुआत कर सकते हैं और विराट नंबर तीन पर आ सकते हैं। मैं यह नहीं कहूंगा कि विराट और रोहित ओपन करेंगे, मैं कहूंगा कि विकल्प अभी भी खुला है।

आगामी टी20 विश्व कप का नतीजा कोहली की कप्तानी पर प्रभाव डालेगा - दीप दासगुप्ता

दीपदास गुप्ता का मानना है कि टी20 विश्व कप 2021 के नतीजे का असर काफी हद तक कोहली की कप्तानी पर भी देखने को मिलेगा और अगर कुछ गलत होता है तो रोहित शर्मा कप्तान के रूप में विराट की जगह लेने के सबसे प्रबल दावेदार होंगे।

India v England - 5th T20 International
India v England - 5th T20 International

दीपदास गुप्ता ने अपने यूट्यूब चैनल पर कहा कि हालांकि रोहित ने इससे पहले पक्ष का नेतृत्व किया है, लेकिन एक स्टैंड-इन कप्तान और पूर्णकालिक कप्तान के बीच अंतर है क्योंकि पूर्व के रूप में आप बहुत अधिक बदलाव नहीं करना चाहते हैं । जब आप पूर्णकालिक कप्तान होते हैं, तो जाहिर है, आप बदलाव करना चाहते हैं क्योंकि टीम को आप अपने हिसाब से चलाना चाहते हैं।

Edited by Naveen Sharma
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now