Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

Hindi Cricket News: पूर्व दक्षिण अफ़्रीकी खिलाड़ी गुलाम बोदी को स्पॉट फिक्सिंग के लिए 5 साल जेल की सजा हुई

  • उन्हें पंद्रह साल तक की सजा भी हो सकती थी
Naveen Sharma
FEATURED WRITER
न्यूज़
Modified 21 Dec 2019, 00:47 IST

 गुलाम बोदी
गुलाम बोदी

दक्षिण अफ्रीका के पूर्व खिलाड़ी गुलाम बोदी को मैच स्पॉट फिक्सिंग मामले में पांच साल जेल की सजा सुनाई गई है। प्रिटोरिया कमर्शियल क्राइम कोर्ट ने शुक्रवार को यह फैसला दिया। 2015 में घरेलू क्रिकेट के दौरान हुए स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण के लिए उन्हें इतनी बड़ी सजा दी गई है। वे पहले दक्षिण अफ़्रीकी खिलाड़ी हैं जिन पर 2004 के भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम रोकथाम के तहत मुकदमा चला। यह अभिनियम हैन्सी क्रोनिए मैच फिक्सिंग प्रकरण के बाद लाया गया था। बोदी ने इसके खिलाफ अपील दायर की।

खेल सम्बंधित गतिविधियों में लिप्त रहने के कारण पिछले साल नवम्बर में उन्हें आठ कोर्ट ने दोषी माना था। उन्हें पंद्रह साल तक की सजा होने की सम्भावना के बारे में बताए जाने पर उन्होंने कोर्ट से दया करने की मांग की थी। उनकी सजा में देरी इसलिए भी हुई क्योंकि वकील ने बोदी के पास फंड की कमी होने के कारण केस से किनारा कर लिया था। बोदी ने दक्षिण अफ्रीका के घरेलू टूर्नामेंट रैम/स्लैम में स्पॉट फिक्सिंग की थी। वे खाने के आउटलेट और कॉफ़ी शॉप पर फिक्सरों से मिलते थे। कोर्ट के कागजातों में उनसे 2014 में भारतीय बुकीज से संपर्क की बात भी कही गई है।

यह भी पढ़ें:युएई क्रिकेट के चार खिलाड़ियों को आईसीसी एंटी करप्शन चार्ज के तहत निलंबित किया गया

इस चालीस वर्षीय खिलाड़ी ने 2007 में जिम्बाब्वे के खिलाफ वन-डे खिलाफ वन-डे करियर की शुरुआत की। अपने करियर में उन्हें महज दो वन-डे और एक टी20 मैच खेलने का मौका मिला। वेस्टइंडीज के खिलाफ बोदी ने अपने करियर का एकमात्र टी20 मैच खेला।

जांच के शुरुआती समय में एक बार पत्रकारों ने बोदी से जब पूछा कि उन्होंने ऐसा क्यों किया। तब बोदी का जवाब था 'हाथ में पैसा था भाई पैसा'।

Hindi Cricket Newsसभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं।

Published 18 Oct 2019, 17:18 IST
Advertisement
Fetching more content...