Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

युवराज सिंह के प्रमुख बयान से गौतम गंभीर ने जताई असहमति, बड़ी प्रतिक्रिया दी

युवराज सिंह और गंभीर
युवराज सिंह और गंभीर
SENIOR ANALYST
Modified 21 May 2020, 15:19 IST
न्यूज़
Advertisement

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी युवराज सिंह के एक बयान से गौतम गंभीर ने असहमति जताई है। कुछ दिनों पहले युवराज सिंह ने भारतीय टीम के बैटिंग कोच विक्रम राठौड़ पर सवाल उठाए थे और कहा था कि उनके पास अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट खेलने का ज्यादा अनुभव नहीं है, ऐसे में वो एक बेहतरीन कोच कैसे हो सकते हैं। लेकिन युवराज सिंह के इस बयान से गौतम गंभीर इत्तेफाक नहीं रखते हैं। उनका कहना है कि एक सफल कोच बनने के लिए जरुरी नहीं कि आपने काफी सारा क्रिकेट खेला हो।

ये भी पढ़ें: पार्थिव पटेल का बड़ा खुलासा, कहा मैंने विराट कोहली से कहा था कि वो आईपीएल में जसप्रीत बुमराह को खरीदें

स्टार स्पोर्ट्स के क्रिकेट कनेक्टेड शो में गौतम गंभीर ने कहा कि जरुरी नहीं है कि अगर आपको एक सफल क्रिकेटर बनना है तो उसके लिए आपको काफी सारा क्रिकेट खेलना पड़ेगा। ऐसा नहीं है कि अगर किसी ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट या फिर ज्यादा क्रिकेट नहीं खेला है वो एक सफल कप्तान नहीं बन सकता है। गंभीर ने कहा कि टी20 फॉर्मेट में एक कोच यही करता है कि वो आपकी मानसिकता में बदलाव लाता है और आपको बड़े शॉट्स खेलने के लिए प्रेरित करता है। ये कोई नहीं बताता कि आप जाकर लैप शॉट कैसे खेलें, रिवर्स कैसे खेलें। ये काम कोई भी कोच नहीं कर सकता है। अगर कोई किसी खिलाड़ी के साथ ऐसा करने की कोशिश करता है तो फिर वो उल्टा उस खिलाड़ी को नुकसान ही पहुंचा रहा है, ना कि उसे एक अच्छा क्रिकेटर बना रहा है।

ये भी पढ़ें: टेस्ट क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले सभी भारतीय गेंदबाजों की लिस्ट

View this post on Instagram

Too many colours is not my thing. #KeepingItSimple!!

A post shared by Gautam Gambhir (@gautamgambhir55) on

युवराज सिंह ने विक्रम राठौड़ पर उठाए थे सवाल

एक इंस्टाग्राम सेशन के दौरान युवराज सिंह ने कहा था कि विक्रम राठौड़ मेरे दोस्त हैं। क्या आपको लगता है कि वो इस जेनरेशन के टी20 खिलाड़ियों को गाइड कर सकते हैं ? क्या उन्होंने उस स्तर की क्रिकेट खेली है, जिसकी जरुरत है। युवराज सिंह ने कहा कि पर्सनैलिटी के हिसाब से अलग-अलग खिलाड़ियों को अलग-अलग तरीके से हैंडल करने की जरुरत है। युवराज ने कहा कि अगर मैं कोच होता तो जसप्रीत बुमराह को रात के 9 बजे गुडनाइट बोलता और उसके बाद फिर 10 बजे हार्दिक पांड्या को बुलाता। इसी तरह आप खिलाड़ियों को हैंडल करते हैं।

ये भी पढ़ें: आईपीएल कब शुरु होगा, अंशुमान गायकवाड़ ने दिया जवाब

आपको बता दें कि विक्रम राठौड़ ने 1996 से लेकर 1997 तक भारतीय टीम के लिए 6 टेस्ट मैच और 7 वनडे मैच खेले थे। इस समय वो भारतीय टीम के बैटिंग कोच हैं। उससे पहले संजय बांगर टीम के बल्लेबाजी कोच थे।

Published 21 May 2020, 15:19 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit