Create

लॉर्ड्स टेस्ट में जॉनी बेयरस्टो के खराब प्रदर्शन को लेकर दिग्गज का बड़ा बयान, आईपीएल का भी किया जिक्र  

लॉर्ड्स टेस्ट की दोनों पारियों में जॉनी बेयरस्टो सस्ते में आउट हो गए
लॉर्ड्स टेस्ट की दोनों पारियों में जॉनी बेयरस्टो सस्ते में आउट हो गए

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान ज्योफ्री बॉयकॉट (Geoffrry Bo ycott)ने टी20 क्रिकेट की वजह से टेस्ट को होने वाले नुकसान को लेकर चर्चा की है। उन्होंने अपनी बात के लिए जॉनी बेयरस्टो (Jonny Bairstow) का उदाहरण दिया, जो हाल ही में आईपीएल 2022 (IPL 2022) में हिस्सा लेकर लौटे थे और न्यूजीलैंड के खिलाफ पहले टेस्ट की दोनों पारियों में सस्ते में निपट गए।

बेयरस्टो ने वेस्टइंडीज दौरे पर शानदार बल्लेबाजी की थी और उनसे इंग्लिश समर के पहले टेस्ट में भी काफी उम्मीदें थी लेकिन वह फ्लॉप साबित हुए। वह पहली पारी में 1 और दूसरी पारी में 16 रन बनाकर आउट हुए। दूसरी पारी में उन्होंने तीन चौके जड़े।

द टेलीग्राफ के लिए अपने कॉलम में लिखते हुए, बॉयकॉट ने कहा कि बेयरस्टो का दूसरी पारी का प्रदर्शन 'भयानक' था और उन्हें लगा कि यह टेस्ट क्रिकेट से पहले आईपीएल में खेलने के कारण है। अपने कॉलम में उन्होंने लिखा,

सबसे बेहतरीन उदाहरण जॉनी बेयरस्टो की पारी थी। उन्होंने 15 गेंदों पर 16 रन बनाए और ऐसे खेले जैसे कोई टी20 मैच हो। यह भयानक था। खेल की स्थिति के लिए, यह भयानक था। वह भारत में टी20 के दो महीने से सीधे एक टेस्ट मैच में आया था और फिर भी हमें उम्मीद थी कि वह एक टेस्ट बल्लेबाज की तरह सोचेगा।

जो रूट टी20 नहीं खेलने के कारण बेहतर टेस्ट खिलाड़ी हैं - ज्योफ्री बॉयकॉट

बॉयकॉट ने इस मामले इंग्लैंड के पूर्व कप्तान जो रुट की प्रशंसा की, जिन्होंने अपना पूरा ध्यान टेस्ट क्रिकेट पर लगाया हुआ है। उन्होंने देखा कि रुट फैंसी शॉट खेलने से बचते हैं और अपनी तकनीक पर भरोसा दिखाते हुए शॉट खेलते हैं। उन्होंने कहा,

जो रूट टी20 नहीं खेलने के कारण बेहतर टेस्ट खिलाड़ी हैं। वह सिर्फ टेस्ट क्रिकेट के लिए ट्रेनिंग करते हैं। आपने रूट को स्कूप, रैंप या कोई फैंसी शॉट खेलते हुए कभी नहीं देखा। उसे इसकी आवश्यकता नहीं है क्योंकि वह सभी पुराने शॉट्स में अच्छा है।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment