Create

"मैं दो दिन तक नहीं सोया" - T20I वर्ल्ड कप में मैथ्यू वेड का कैच छोड़ने वाले हसन अली ने किया खुलासा 

हसन अली की कैच छोड़ने को लेकर काफी निंदा हुई थी
हसन अली की कैच छोड़ने को लेकर काफी निंदा हुई थी

पाकिस्तान के तेज गेंदबाज हसन अली (Hasan Ali) ने खुलासा किया है कि ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टी20 वर्ल्ड कप 2021 के सेमीफाइनल में मैथ्यू वेड का कैच छोड़ने के बाद वह दो दिनों तक सो नहीं पाए थे। हसन ने इसे अपने करियर का अब तक का सबसे मुश्किल लम्हा भी करार दिया।

177 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी पाकिस्तान की टीम आखिरी कुछ ओवरों में अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई थी। हसन ने शाहीन अफरीदी की गेंद पर वेड का एक आसान कैच छोड़ दिया। उसके बाद ऑस्ट्रेलियाई विकेटकीपर-बल्लेबाज ने पाकिस्तान को वर्ल्ड कप से बाहर करने के लिए शाहीन की लगातार तीन गेंदों पर तीन छक्के जड़ दिए। वेड के इस बेहतरीन प्रदर्शन के कारण ऑस्ट्रेलिया ने फाइनल में अपनी जगह बना ली थी और वहां ऑस्ट्रेलिया ने न्यूज़ीलैंड को हराते हुए पहली बार टी20 वर्ल्ड कप अपने नाम किया।

वेड का कैच छोड़ने पर हसन का सोशल मीडिया पर काफी मजाक बनाया गया। अब इस पर इस तेज गेंदबाज ने क्रिकेट पाकिस्तान क यूट्यूब चैनल पर कहा,

यह मेरे करियर का अब तक का सबसे मुश्किल पल था और इन चीजों को जल्दी भूलना बहुत मुश्किल है। बेशक, एक पेशेवर खिलाड़ी होने के नाते आपको आगे बढ़ना होगा। सच कहूं तो मैंने अब तक यह बात किसी को नहीं बताई लेकिन मुझे दो दिन तक नींद नहीं आई थी। मेरी पत्नी मेरे साथ थी और वह तनाव में थी क्योंकि मैं सो नहीं रहा था।
youtube-cover

27 वर्षीय गेंदबाज ने कहा कि इससे उबरने के लिए उन्होंने वास्तव में कड़ी मेहनत की, जिसका नतीजा बाद में बांग्लादेश सीरीज के दौरान दिखाई दिया। हसन ने कहा,

मैं शांत था और साइड में बैठा था क्योंकि जो कैच मैंने छोड़ा था वो मेरे दिमाग में लगातार आ रहा था लेकिन बांग्लादेश रवाना होते समय समय मैंने खुद से कहा कि मुझे आगे बढ़ना चाहिए। बांग्लादेश में, मैंने तीन दिनों में 500 कैच लिए और नो बॉल की समस्या पर भी काम किया। मैं टीम की जीत में सुधार और योगदान देना चाहता हूं।

ढाका में बांग्लादेश के खिलाफ पहले टी20 इंटरनेशनल मैच में हसन अली ने 4 ओवर में 22 रन देते हुए 3 विकेट लिए। उनके इस बेहतरीन प्रदर्शन के लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द मैच चुना गया।

मैं और शाहीन रो रहे थे - हसन अली

बातचीत के दौरान, हसन ने पिछले साल टी20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में ऑस्ट्रेलिया से पाकिस्तान की हार के बाद ड्रेसिंग रूम के माहौल पर भी खुलकर बात की। उन्होंने खुलासा किया कि वे और अफरीदी दोनों फूट-फूट कर रो पड़े। उन्होंने कहा,

मेरे सभी साथी इस बात को जानते है कि मैं गेम्स को कैसे अप्रोच करता हूं और मैं मैचों को हल्के में नहीं लेता। मैं अच्छी तैयारी करता हूं और मैं हमेशा पाकिस्तान के लिए प्रदर्शन करने की कोशिश करता हूं। मैं अपना 120 प्रतिशत देता हूं। मैच के बाद, मैं रो रहा था और शाहीन भी, यह बेहद दुखद पल था।

हसन ने आगे कहा,

आपने देखा होगा कि मैच के दौरान शोएब भाई (मलिक) मेरे पास आए। उन्होंने मुझसे कहा कि तुम एक टाइगर हो और मुझे नहीं गिरना चाहिए। खिलाड़ियों ने मेरा बहुत समर्थन किया। इसके अलावा, मुझे एक पुरस्कार भी मिला। सोशल मीडिया पर ढेर सारा समर्थन जिसने मुझे इस दर्द से उबरने में मदद की।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment