पहले टेस्ट में नहीं खिलाया तब संन्यास का सोचा- स्टुअर्ट ब्रॉड

स्टुअर्ट ब्रॉड
स्टुअर्ट ब्रॉड

स्टुअर्ट ब्रॉड ने हाल ही में अपने टेस्ट जीवन के 500 शिकार पूरे किये। मैनचेस्टर टेस्ट मैच से पहले स्टुअर्ट ब्रॉड को साउथैम्पटन टेस्ट में नहीं खिलाया गया था। इस पर स्टुअर्ट ब्रॉड ने संन्यास लेने का सोच लिया था। हालांकि बाद में स्टुअर्ट ब्रॉड को वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के बाकी दोनों मैचों में खेलने का मौका मिला था। इसके अंतिम टेस्ट मुकाबले में स्टुअर्ट ब्रॉड ने धाकड़ प्रदर्शन करते हुए इंग्लैंड को जीत दिलाई थी।

द मेल से बातचीत करते हुए स्टुअर्ट ब्रॉड ने कहा कि जब मुझे साउथैम्पटन टेस्ट मैच से बाहर किया गया था तो सौ फीसदी संन्यास लेने का विचार मन में आया था। मैंबहुत डाउन फ़ील कर रहा था। जब मैं कभी ड्रॉ हुआ तो इस तरह निराश फील नहीं किया। मैं यही कह सकता हूं कि वह अच्छा निर्णय था, इस पर मैं बहस नहीं कर सकता।

यह भी पढ़ें: आईपीएल में 3 अलग टीमों से फाइनल खेलने वाले खिलाड़ी

स्टुअर्ट ब्रॉड ने 600 विकेट के सवाल पर दिया जवाब

स्टुअर्ट ब्रॉड ने 500 टेस्ट विकेट पूरे कर लिए और अब उनसे जब 600 विकेट के आंकड़े पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा कि हाँ मैं ऐसा कर सकता हूँ। जब जिमी यानी जेम्स एंडरसन ने 500 विकेट चटकाए थे तब वह 35 साल और एक महीने के थे। मैंने यह आंकड़ा 34 साल और एक महीने में पूरा किया है। इस तरह मैं 600 विकेट प्राप्त कर सकता हूँ। इसके अलावा उन्होंने कहा कि जिमी अब 600 विकेट के आंकड़े के पास हैं इसलिए मैं भी ऐसा कर सकता हूँ।

 स्टुअर्ट ब्रॉड
स्टुअर्ट ब्रॉड

गौरतलब है कि वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के तीसरे टेस्ट मैच में स्टुअर्ट ब्रॉड ने शानदार खेल दिखाया। पहली पारी में फिफ्टी जड़ने के अलावा उन्होंने 6 विकेट भी चटकाए। इसके बाद दूसरी पारी में स्टुअर्ट ब्रॉड ने 4 विकेट झटकते हुए मैच में कुल दस विकेट झटके। उन्होंने क्रैग ब्रैथवेट को अपना 500वां टेस्ट शिकार बनाया। इंग्लैंड ने सीरीज में वेस्टइंडीज को 2-1 के अंतर से हरा दिया था। स्टुअर्ट ब्रॉड की अहम भूमिका इस सीरीज में रही थी। अनोखे कीर्तिमान तक पहुँचने के बाद वर्ल्ड क्रिकेट में उनकी काफी तारीफ देखने को मिली।

Quick Links

App download animated image Get the free App now