Create
Notifications

"मैं नहीं चाहता कि राहुल द्रविड़ नियमित तौर पर भारतीय टीम के हेड कोच बनें"

राहुल द्रविड़ इस वक्त श्रीलंका दौरे पर हेड कोच के तौर पर गए हैं
राहुल द्रविड़ इस वक्त श्रीलंका दौरे पर हेड कोच के तौर पर गए हैं
Nitesh
ANALYST

भारत के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज वसीम जाफर (Wasim Jaffer) ने एक चौंकाने वाली प्रतिक्रिया दी है। एक तरफ जहां लगभग सारे फैंस चाहते हैं कि राहुल द्रविड़ (Rahul Dravid) को नियमित तौर पर भारतीय टीम (Indian Cricket Team) का हेड कोच बना दिया जाए तो वहीं वसीम जाफर की राय इससे अलग है। उनका कहना है कि वो द्रविड़ को परमानेंट तौर पर भारतीय टीम के कोच के रूप में नहीं देखना चाहते हैं। उन्होंने इसके पीछे एक बड़ी वजह बताई है।

वसीम जाफर के मुताबिक राहुल द्रविड़ की ज्यादा जरूरत एनसीए में है जिसके वे वर्तमान में हेड हैं। उन्होंने कहा कि जब कोई प्लेयर इंटरनेशनल लेवल पर पहुंचता है तो उसे ज्यादा कोचिंग की जरूरत नहीं होती है। वो पहले से ही एक फिनिश प्रोडक्ट होता है। राहुल द्रविड़ का सही प्रयोग एनसीए में ही हो सकता है।

अपने यू-ट्यूब चैनल पर वसीम जाफर ने कहा "वो श्रीलंका में इस भारतीय टीम की कोचिंग करेंगे। मुझे पूरा यकीन है कि इससे युवा खिलाड़ियों को काफी फायदा होगा। मेरा व्यक्तिगत तौर पर मानना है कि उन्हें नेशनल टीम का कोच बनने की तरफ नहीं देखना चाहिए। द्रविड़ को एनसीए में अंडर-19 और इंडिया ए प्लेयर्स के साथ काम करना चाहिए। मेरे हिसाब से जो भी इंटरनेशनल प्लेयर इंडिया के लिए खेलते हैं वो पूरी तरह से तैयार प्रोडक्ट होते हैं।"

ये भी पढ़ें: विदेशी खिलाड़ियों के उपलब्ध नहीं होने की वजह से प्रमुख लीग को किया गया कैंसिल

राहुल द्रविड़ को एनसीए में ही लंबे समय तक रहना चाहिए - वसीम जाफर

वसीम जाफर ने आगे कहा "राहुल द्रविड़ के मेंटरशिप और गाइडेंस की ज्यादा जरूरत अंडर-19 और इंडिया ए लेवल पर है। इसलिए मेरा मानना है कि उन्हें लंबे समय तक एनसीए में रहना चाहिए और हमारी बेंच स्ट्रेंथ को मजबूत करना चाहिए।"

ये भी पढ़ें: देवदत्त पडिक्कल के मुताबिक श्रीलंका दौरे पर वो शिखर धवन से काफी कुछ सीख सकते हैं

Edited by Nitesh
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now