अगर गौतम गंभीर से मैंने लड़ाई नहीं की होती तो आज मेरे पास भी काफी पैसे होते...प्रमुख क्रिकेटर ने चौंकाने वाला खुलासा किया

CLT20 2012 Match 2 Group A - Kolkata Knight Riders v Delhi Daredevils
CLT20 2012 Match 2 Group A - Kolkata Knight Riders v Delhi Daredevils

हाल ही में रणजी ट्रॉफी से संन्यास लेने वाले बंगाल के क्रिकेटर मनोज तिवारी (Manoj Tiwary) ने अपने आईपीएल (IPL) करियर को याद करते हुए चौंकाने वाली प्रतिक्रिया दी है। मनोज तिवारी ने कहा है कि अगर उन्होंने गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) से लड़ाई ना की होती तो फिर आज उनके पास भी काफी पैसे होते। मनोज तिवारी के मुताबिक गौतम गंभीर से लड़ाई की वजह से उन्हें केकेआर से रिलीज कर दिया गया था।

मनोज तिवारी की अगर बात करें तो वो आईपीएल में केकेआर टीम का हिस्सा रहे थे। केकेआर ने जब 2012 में टाइटल जीता था, तब मनोज तिवारी ने उस सीजन 26 की औसत से 260 रन बनाए थे। मनोज तिवारी ने बड़ा खुलासा करते हुए बताया कि उनकी गौतम गंभीर के साथ लड़ाई हो गई थी और इसी वजह से फ्रेंचाइजी ने उन्हें 2014 के सीजन से पहले रिलीज कर दिया था।

गौतम गंभीर के साथ मेरी लड़ाई हो गई थी - मनोज तिवारी

मनोज तिवारी के मुताबिक ड्रेसिंग रूम में गौतम गंभीर के साथ उनका विवाद हो गया था। उन्होंने आनंदबाजार पत्रिका से बातचीत के दौरान कहा,

केकेआर में खेलने के दौरान मेरी गौतम गंभीर से ड्रेसिंग रूम में काफी लड़ाई हो गई थी। बात काफी आगे बढ़ चुकी थी। केकेआर 2012 में चैंपियन बनी। उस समय मैंने चौका लगाया था और टीम जीत गई थी। मुझे केकेआर के लिए एक साल और खेलने का मौका मिला। अगर मैंने 2013 के सीजन के दौरान गौतम गंभीर से झगड़ा ना किया होता तो शायद मैं दो-तीन साल और टीम के लिए खेलता। इसका मतलब ये है कि मेरे कॉन्ट्रैक्ट के पैसे भी और ज्यादा होते। हालांकि मैंने इस बारे में कभी नहीं सोचा।

आपको बता दें कि मनोज तिवारी ने बिहार के खिलाफ अपना आखिरी रणजी मुकाबला खेला और इसके बाद उन्होंने क्रिकेट को अलविदा कह दिया। इससे पहले उन्होंने एम एस धोनी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि शतक लगाने के बावजूद उन्हें टीम से ड्रॉप कर दिया गया था।

Quick Links

Edited by सावन गुप्ता