Create

दक्षिण अफ्रीका की पहले टेस्‍ट में करारी हार के बाद पूर्व खिलाड़ी ने जमकर निकाली भड़ास

डैरिल कलिनन ने दक्षिण अफ्रीका की खराब बल्‍लेबाजी पर जमकर भड़ास निकाली
डैरिल कलिनन ने दक्षिण अफ्रीका की खराब बल्‍लेबाजी पर जमकर भड़ास निकाली

भारत (India Cricket team) के खिलाफ पहले टेस्‍ट में खराब बल्‍लेबाजी प्रदर्शन को देखते हुए दक्षिण अफ्रीका (South Africa Cricket team) के पूर्व बल्‍लेबाज डैरिल कलिनन (Daryll Cullinan) ने जमकर भड़ास निकाली है। सुपरस्‍पोर्ट पार्क में क्रमश: 197 और 191 रन पर ऑलआउट होने वाली प्रोटियाज टीम को पहली बार सेंचुरियन में भारत के हाथों शिकस्‍त मिली।

पहली पारी में 30 रन पर शीर्ष चार बल्‍लेबाज गंवाना और फिर पांचवें दिन 66 रन पर छह विकेट खोने से दक्षिण अफ्रीका की बल्‍लेबाजी की कमजोरी उजागर हुई। पूर्व बल्‍लेबाज कलिनन ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के बल्‍लेबाजी क्रम में बड़ी तकनीकी खामी दिखी।

54 साल के कलिनन ने ईएसपीएनक्रिकइंफो से बातचीत में लाल गेंद क्रिकेट में टीम की सोच की आलोचना की है। उन्‍होंने कहा, 'दक्षिण अफ्रीका ने दो बार खराब बल्‍लेबाजी की। मेरे ख्‍याल से बड़ी तकनीकी खामी है। मुझे नहीं लगता कि दक्षिण अफ्रीका बल्‍लेबाजी ईकाई के रूप में टेस्‍ट क्रिकेट को अप्रोच करता है। इस स्‍थान पर एक शतक आपको सेटअप कर देता (केएल राहुल के शतक का जिक्र करते हुए)।'

कलिनन का मानना है कि टेस्‍ट क्रिकेट के बेसिक सिद्धांत दक्षिण अफ्रीका ने नहीं अपनाएं। कलिनन ने कहा, 'मुझे नहीं लगता कि दक्षिण अफ्रीका ने लाल गेंद क्रिकेट के बेसिक सिद्धांत अपनाएं। यह थ्‍योरी और दक्षिण अफ्रीका का इसमें विश्‍वास कि ऑफ स्‍टंप पर खेलो और क्रीज के बाहर बल्‍लेबाजी करो। मैं कई सालों से देख रहा हूं कि यह थ्‍योरी खत्‍म हो गई है। परेशानी यह है कि आपकी दृष्टि जा चुकी है कि आपका ऑफ स्‍टंप कहा है। आप एलबीडब्‍ल्‍यू काट नहीं सकते क्‍योंकि गेंदबाज के पास डीआरएस है।'

सफेद गेंद क्रिकेट का टेस्‍ट पर पड़ा असर: कलिनन

डैरिल कलिनन का मानना है कि सफेद गेंद क्रिकेट ने टेस्‍ट क्रिकेट पर भारी प्रभाव छोड़ा है। उन्‍होंने इंग्‍लैंड क्रिकेट का हवाला दिया, जिनका सफेद गेंद क्रिकेट के कारण लाल गेंद क्रिकेट पर असर पड़ा। कलिनन ने कहा कि मौजूदा युग में पर्याप्‍त फर्स्‍ट क्‍लास मैच नहीं खेले जाते हैं।

उन्‍होंने कहा, 'हमने कुछ महीने पहले टेस्‍ट क्रिकेट खेला था। इस बीच हमने काफी सफेद गेंद क्रिकेट खेला। हमारे युग में काफी फर्स्‍ट क्‍लास क्रिकेट खेला जाता था। अब ऐसा देखने को नहीं मिलता है। हां, सफेद गेंद क्रिकेट का टेस्‍ट पर गहरा प्रभाव पड़ा है, देखिए ऑस्‍ट्रेलिया में इंग्‍लैंड के साथ क्‍या हुआ।'

भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच सीरीज का दूसरा टेस्‍ट 3 जनवरी से जोहानिसबर्ग में शुरू होगा।

Quick Links

Edited by Vivek Goel
Be the first one to comment