मिताली राज का बड़ा बयान, अगर भारतीय टीम 2017 में वर्ल्ड कप जीत जाती तो मैं संन्यास ले लेती

मिताली राज
मिताली राज

भारतीय महिला टीम की दिग्गज खिलाड़ी मिताली राज ने चौंकाने वाला बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि अगर भारतीय महिला टीम 2017 में हुए वर्ल्ड कप को जीत जाती तो वो संन्यास ले लेतीं। मिताली राज ने कहा कि इतने सालों तक खेलने के बाद वर्ल्ड कप मेरे करियर के लिए बड़ी उपलब्धि होती।

स्टार स्पोर्ट्स के तेलुगु टीवी सीरीज के दौरान मिताली राज ने अपनी राय रखी। उन्होंने कहा कि मैंने सोचा था कि 2017 वर्ल्ड कप के लिए मुझे ट्राई करना चाहिए। इसके बाद मैंने उस वर्ल्ड कप के लिए काफी कड़ी मेहनत की। एक कप्तान और एक खिलाड़ी के तौर पर मैंने काफी होमवर्क किया। जब हम फाइनल में पहुंच गए थे, तब मैंने सोचा था कि अगर हम फाइनल मुकाबला जीतते हैं तो फिर मैं संन्यास ले लूंगी।

ये भी पढ़ें: रियान पराग ने स्टीव स्मिथ और बेन स्टोक्स के साथ खेलने को लेकर दी प्रतिक्रिया

मिताली राज ने आगे कहा कि इतने सालों तक खेलने के बाद शायद वर्ल्ड कप के अलावा हर एक चीज मेरे पास थी। 2017 और 2020 के संस्करण में हम रनर अप रहे। मैं एक बार और कोशिश करने जा रही हूं। भगवान की इच्छा और सबके आर्शीवाद से मुझे उम्मीद है कि हम इस बार लक्ष्य को हासिल कर लेंगे।

मिताली राज ने वुमेंस आईपीएल को लेकर जताई थी खुशी

इससे पहले मिताली राज ने वुमेंस आईपीएल के आयोजन को लेकर खुशी जताई थी। आईपीएल गवर्निंग काउंसिल की मीटिंग से पहले पीटीआई से बातचीत में बीसीसीआई प्रेसिडेंट सौरव गांगुली ने कहा था कि मैं ये चीज कन्फर्म कर सकता हूं कि वुमेंस आईपीएल की पूरी प्लानिंग है और नेशनल टीम के लिए भी हमारी प्लानिंग है।

ये भी पढ़ें: दिग्गज पाकिस्तानी खिलाड़ी ने यूएई में आईपीएल आयोजन का किया समर्थन

उनके इस बयान पर मिताली राज ने खुशी जताई। मिताली राज ने ट्वीट कर सौरव गांगुली का आभार जताया और कहा कि हमारी वर्ल्ड कप कैंपेन की शुरुआत के लिए ये अच्छा है।

आपको बता दें कि इस साल बीसीसीआई ने वुमेंस टी20 चैलेंज में 4 टीमों के बीच मैच कराने का फैसला किया था। पिछले साल 4 ही मुकाबले खेले गए थे लेकिन इस साल 7 मुकाबले खेले जाने थे। हालांकि कोरोना वायरस के कारण टूर्नामेंट को स्थगित करना पड़ा।

ये भी पढ़ें: आईपीएल 2020 के लिए भारत सरकार से मिली हरी झंडी

Quick Links

App download animated image Get the free App now