Create

ICC Women's T20 World Cup 2020- भारतीय टीम को फाइनल में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ मिली शर्मनाक हार के बाद क्रिकेट जगत की प्रतिक्रियाएं

भारत का वर्ल्ड कप जीतने का सपना फिर टूटा
भारत का वर्ल्ड कप जीतने का सपना फिर टूटा

मेलबर्न में खेले गए आईसीसी विमेंस टी20 वर्ल्ड कप के फाइनल में भारतीय टीम का निराशाजनक प्रदर्शन रहा। ऑस्ट्रेलिया महिला टीम ने भारतीय महिला टीम को 85 रनों से करारी शिकस्त देते हुए अपने खिताब को सफलतापूर्वक डिफेंड किया। ऑस्ट्रेलिया टीम ने पांचवीं बार विमेंस टी20 वर्ल्ड कप का खिताब जीता है। पूरे मैच में भारतीय टीम ने काफी गलतियां की, जिसके कारण उन्हें हार का सामना करना पड़ा।

मैच के पहले ओवर में कैच छोड़ने से लेकर पावरप्ले में कप्तान हरमनप्रीत कौर और स्मृति मंधाना समेत 4 विकेट गंवाना टीम की हार का मुख्य कारण बना। ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवरों में 184-4 का स्कोर बनाया, जिसके जवाब में भारतीय महिला टीम 99 रनों पर ढेर हो गईं।

यह भी पढ़ें: दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज के लिए भारतीय टीम का ऐलान, दिग्गज खिलाड़ियों की हुई वापसी

भारत की इस करारी हार के बाद ट्विटर पर काफी जबरदस्त प्रतिक्रियाएं देखने को मिली। आइए जानते हैं फाइनल मुकाबले के बाद किसने क्या कहा:

(भारतीय महिला टीम का सफर टी20 वर्ल्ड कप में शानदार रहा। मैं हरमनप्रीत कौर और टीम को बधाई देना चाहती हूं। सभी से यह अनुरोध है कि वो महिला क्रिकेट को सपोर्ट करते रहे।)

(भारत और ऑस्ट्रेलिया टूर्नामेंट सिर्फ एक मैच हारे। दोनों टीमें एक दूसरे से ही हारी। भारत ने पहले मैच में ऑस्ट्रेलिया को हराया, तो ऑस्ट्रेलिया ने फाइनल में भारत को हराया)

(मुझे पता है जब वर्ल्ड कप के इतने करीब आकर आप नहीं जीत पाते, तो कैसा लगता है। हमेशा रिजल्ट की बात नहीं होती, आपने आने वाली जनरेशन को प्रेरित किया है। आपको अपने सफर पर गर्व होना चाहिए। ऑस्ट्रेलिया को भी टी20 वर्ल्ड कप जीतने के लिए बधाई।)

(आपने जो एफर्ट डाला है, उसके ऊपर हमें गर्व हैं। मुझे विश्वास है कि आप इससे मजबूत तरीके से वापसी करेंगे।)

(कुछ फोटो को कैप्शन की जरूरत नहीं होती)

(दिल तोड़ देने वाले सीन। रोहित शर्मा, यशस्वी जैसवाल और शैफाली वर्मा, तीनों वर्ल्ड कप के स्टार, लेकिन कप तीनों की पहुंच से दूर)

(दिन की दिल तोड़ देने वाली तस्वीर। पूरे टूर्नामेंट में बेहतरीन प्रदर्शन किया, लेकिन टीम को फाइनल नहीं जिता पाईं। शैफाली आप सिर्फ 16 साल की हैं और हमें आपके ऊपर गर्व हैं।)

(जब भी भारत किसी भी बड़े टूर्नामेंट में चोक करती है, तो गंभीर की यह पारी काफी याद आती है। जब दबाव सबसे ज्यादा था, तो गंभीर ने सर्वश्रेष्ठ वर्ल्ड कप पारी खेली। 2011 वर्ल्ड कप जीत के हीरो)

Quick Links

Edited by मयंक मेहता
Be the first one to comment