Create

विराट का प्रदर्शन अच्छा रहा तो भारत को विश्वकप जीतने से कोई नहीं रोक सकता: रिकी पोंटिंग

Enter caption

ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान रिकी पोंटिंग को लगता है कि अगर विराट कोहली का प्रदर्शन विश्वकप के दौरान बेहतर रहा तो भारत को तीसरी बार विश्व विजेता बनने से कोई रोक नहीं सकता है। अपनी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया को तीन बार विश्वकप का खिताब दिलवाने वाले रिकी का कहना है कि भारत विश्वकप में कैसा प्रदर्शन करेगा, यह विराट कोहली के प्रदर्शन पर निर्भर करेगा। विराट कोहली का वनडे रेकॉर्ड गजब का है। उन्हें कोई भी टीम हल्के में नहीं लेना चाहेगी। उनके पास अच्छे शॉट्स लगाने और बड़ी पारी खेलने की क्षमता है इसलिए इंग्लैंड में होने वाले विश्वकप का भारत मजबूत दावेदार हो सकता है।

रिकी पोंटिंग ने कहा कि विराट के रनों के आंकड़ों पर गौर करें तो पता चलेगा कि वो एक महान बल्लेबाज बनने की ओर तेजी से अग्रसर हैं। उनकी उम्र बस 30 साल ही है। मुझे लगता है कि वो अभी 200 मैच और खेलेंगे। रही बात सचिन और कोहली में बेस्ट चुनने की तो विराट का करियर अभी जारी है तो इस निष्कर्ष पर नहीं पहुंचा जा सकता है। विराट का करियर जब तक खत्म होगा तब तक तस्वीर साफ हो चुकी होगी। फिलहाल, सचिन क्रिकेट के लेजेंड हैं। पोंटिंग ने आगे कहा कि जब भी मैं विराट को खेलते हुए देखता हूं तो मुझे उनमें अपना अक्स नजर आता है। मेरे हिसाब से उनके काफी हाव-भाव मुझसे मिलते-जुलते हैं। फील्ड पर वह बहुत एग्रेसिव रहते हैं। कई बार लगता है कि वह आपे से बाहर हो रहे हैं, जो मुझे पसंद आता है। मैं भी ऐसा ही था।

Enter caption

रिकी पोंटिंग ने विश्वकप में भारत के साथ इंग्लैंड, न्यूजीलैंड और आस्ट्रेलिया के सेमीफाइनल तक पहुंचने की संभावना भी जताई है। पोटिंग ने कहा है कि ये टीमें मुझे अभी सबसे ज्यादा मजबूत नजर आ रही हैं। हालांकि, विश्वकप की कोई भी टीम पाकिस्तान और वेस्टइंडीज को कमतर नहीं आंकना चाहेगी। पोटिंग ने टीम इंडिया को नंबर चार पर बल्लेबाज के लिए श्रेयस अय्यर का नाम सुझाया है। उन्होंने कहा कि भारत ने कई खिलाड़ियों को नंबर चार पर खेलने का मौका दिया। उन्हें श्रेयस को भी मौका देना चाहिए। वो अच्छे खिलाड़ी हैं। भारत केएल राहुल को भी इस नंबर पर फिट कर सकती है।

Hindi cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

Quick Links

Edited by निशांत द्रविड़
Be the first one to comment