Create
Notifications

भारत vs वेस्टइंडीज: चौथे वनडे की 5 अहम घटनाएं 

Enter caption
Modified 30 Oct 2018
टॉप 5 / टॉप 10

पुणे में हुए तीसरे वनडे में हार के बाद भारतीय क्रिकेट टीम बदला लेने के इरादे से मुंबई के ब्रेबॉर्न स्टेडियम में उतरी थी। विराट कोहली की कोशिश थी कि इस मैच को जीतकर 2-1 से अपराजेय बढ़त हासिल की जाए। भारत ने ये मैच 224 रन के बड़े अंतर से जीत लिया। ये रनों के लिहाज़ से भारत की तीसरी सबसे बड़ी जीत है। इससे पहले टीम इंडिया ने साल 2008 में हांगकांग को 256 रन से और साल 2007 में बरमुडा को 257 रन से मात दी थी।

इस जीत के साथ टीम इंडिया ने ये साबित कर दिया कि वो वेस्टइंडीज़ के मुक़ाबले कहीं आगे है। भारत ने कैरिबियाई टीम को चारो खाने चित कर दिया। हालांकि सीरीज़ पर कब्ज़ा करने के लिए कोहली एंड कंपनी को अगला वनडे मैच जीतना ही होगा। इस मैच में रोहित शर्मा, अंबाती रायडू, कुलदीप यादव और ख़लील अहमद का जलवा देखने को मिला। वहीं लगातार अच्छा प्रदर्शन कर रहे कप्तान कोहली इस मैच में कुछ ख़ास नहीं कर पाए। वो 17 गेंदों में महज़ 16 रन बनाकर आउट हो गए। आइए जानते हैं इस मैच की 5 अहम घटनाओं के बारे में जो भारत के पक्ष में गई:


#1 टॉस:

Enter caption
Enter caption

किसी भी मैच के नतीजे को तय करने में टॉस का अहम रोल होता है। भारत और वेस्टइंडीज़ के बीच सीरीज़ के चौथे वनडे मैच में विराट कोहली ने टॉस जीता और पहले बल्लेबाज़ी का फ़ैसला किया। भारतीय कप्तान का ये फ़ैसला हैरान करने वाला था क्योंकि पिच पूरी तरह समतल दिख रही थी और ऐसा लग रहा था कि इस मैच में गेंदबाज़ों के लिए कुछ भी नहीं है। कई क्रिकेट विशेषज्ञों का भी मानना था कि भारत को टॉस जीतने के बाद पहले गेंदबाज़ी करनी चाहिए थी। इसकी वजह ये है कि पहली पारी में कितना भी बड़ी स्कोर बना दिया जाए, उसका पीछा करना आसान लग रहा था। हांलाकि कप्तान विराट ने सारे कयासों को ग़लत साबित कर दिया।

1 / 3 NEXT
Published 30 Oct 2018
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now