IND vs ENG: रविंद्र जडेजा की निरंतर बल्‍लेबाजी से भारत को बड़ी मदद मिली, पूर्व कप्‍तान ने की ऑलराउंडर की जमकर तारीफ

India  v England - 1st Test Match: Day Two
रविंद्र जडेजा ने इंग्‍लैंड के खिलाफ दूसरे दिन शानदार अर्धशतकीय पारी खेली

भारतीय टीम (India Cricket Team) के पूर्व कप्‍तान अनिल कुंबले (Anil Kumble) ने रविंद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) की जमकर तारीफ की। कुंबले ने कहा कि जडेजा ने बल्‍ले से निरंतर बेहतर प्रदर्शन किया और अपने करियर के दौरान भारत को ऊंचाइयां हासिल करने में मदद की।

रविंद्र जडेजा ने शुक्रवार को इंग्‍लैंड के खिलाफ हैदराबाद में जारी पहले टेस्‍ट के दूसरे दिन 155 गेंदों में सात चौके और दो छक्‍के की मदद से नाबाद 81 रन बनाए। भारतीय टीम ने जडेजा की पारी की बदौलत दूसरे दिन स्‍टंप्‍स तक 110 ओवर में 7 विकेट खोकर 421 रन बनाए। मेजबान टीम ने पहली पारी के आधार पर इंग्‍लैंड पर 175 रन की बढ़त बना ली है, जबकि उसके तीन विकेट शेष हैं।

रविंद्र जडेजा टेस्‍ट क्रिकेट में 3000 रन पूरे करने से केवल 115 रन पीछे हैं। वो कपिल देव और रविचंद्रन अश्विन के बाद तीसरे भारतीय ऑलराउंडर बन जाएंगे, जिन्‍होंने टेस्‍ट क्रिकेट में 3000 रन और 250 से ज्‍यादा विकेट लिए।

अनिल कुंबले ने कहा कि जडेजा ने अपनी बल्‍लेबाजी में सुधार किया, जिससे उन्‍हें भारतीय टीम में बढ़ावा मिला। जहां उन्‍होंने अपने करियर में अधिकांश छठे, सातवें या आठवें नंबर पर बल्‍लेबाजी की, वहीं पिछले साल विश्‍व टेस्‍ट चैंपियनशिप के फाइनल में भारत ने उन्‍हें नंबर-5 पर उतारा था।

कुंबले ने जियो सिनेमा से बातचीत में कहा, 'रविंद्र जडेजा ने शानदार प्रदर्शन किया। मेरा मतलब है कि उन्‍हें हमेशा से पता है कि उनके पास यह प्रतिभा है। वो प्रथम श्रेणी क्रिकेट में तिहरे शतक लगा चुके हैं। सौराष्‍ट्र के लिए खेलते हुए ऐसा किया तो आपको हमेशा से पता है कि उनमें बल्‍लेबाजी की कद्र है।'

कुंबले ने साथ ही कहा, 'जडेजा ने केवल निरंतरता दिखाई। भारत में हो या फिर विदेश में, वो छठें नंबर पर खेलें या सातवें नंबर पर। कभी उन्‍हें पांचवें नंबर पर भी आजमाया गया। इस तरह की क्षमता जडेजा में है। सिर्फ गेंद से ही नहीं, उनके बैटिंग प्रदर्शन से भी भारत को काफी फायदा मिला है।'

Quick Links

Edited by Prashant Kumar