Create

दिनेश कार्तिक ने आलोचनाओं से घिरे भारतीय क्रिकेटर का बचाव किया, दिया बड़ा बयान

दिनेश कार्तिक ने ऋषभ पंत का साथ दिया
दिनेश कार्तिक ने ऋषभ पंत का साथ दिया
Vivek Goel

टीम इंडिया (India cricket team) के अनुभवी विकेटकीपर बल्‍लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने आलोचनाओं से घिरे ऋषभ पंत (Rishabh Pant) का बचाव किया है। कार्तिक ने कहा कि इंग्‍लैंड (England cricket team) के खिलाफ आखिरी दो टेस्‍ट मैच के लिए पंत को अपनी सोच और तकनीक में बड़े बदलाव की जरूरत नहीं है।

पंत के लिए अब तक मौजूदा सीरीज अच्‍छी नहीं रही है और पांच पारियों में उनका सर्वश्रेष्‍ठ स्‍कोर 37 रन है। बाएं हाथ के बल्‍लेबाज ने इससे पहले ऑस्‍ट्रेलिया दौरे पर दमदार प्रदर्शन किया था। इसके अलावा घरेलू जमीन पर भी पंत ने अच्‍छा प्रदर्शन किया था।

इन सबको देखने के बाद इंग्‍लैंड दौरे पर पंत से काफी उम्‍मीदें थी। हालांकि, वह उम्‍मीदों पर खरे नहीं उतरे और सीरीज में गलत तरीके से अपना विकेट गंवाया।

दिनेश कार्तिक ने कहा कि पंत को खुलकर खेलने के लिए कुछ समय देने की जरूरत है। कार्तिक ने कहा, 'पंत ने जल्‍दी शॉट खेलकर तेजी से रन बनाए। उन्‍होंने ऑस्‍ट्रेलिया में शतक जमाया और आपको उसे समय देने की जरूरत है ताकि वह स्थितियों को समझकर खेले। वह मैच विनर है और मुझे विश्‍वास है कि वो अच्‍छा प्रदर्शन करेगा।'

पंत को अपने शॉट सेलेक्‍शन पर ध्‍यान देने की जरूरत: दीप दासगुप्‍ता

पूर्व भारतीय विकेटकीपर दीप दासगुप्‍ता ने भी ऋषभ पंत के खराब फॉर्म पर टिप्‍पणी की है। दासगुप्‍ता का मानना है कि जो खिलाड़ी अकेले के दम पर पूरे मैच का रुख बदलना जानता है, उसे इस समय अपने शॉट सेलेक्‍शन पर ध्‍यान देने की जरूरत है।

टाइम्‍स ऑफ इंडिया से बातचीत में दासगुप्‍ता ने कहा, 'यह जरूरी है कि पंत की सोच प्रक्रिया में उलझन न बढ़े। अगर पंत एक पारी में भी चले तो संभवत: वो आपको टेस्‍ट मैच जिता सकता है। तो आप उनके साथ थोड़ा चांस ले सकते हो। मगर ऋषभ पंत को अपने शॉट सेलेक्‍शन को लेकर सतर्क रहने की जरूरत है।'

भारत और इंग्‍लैंड के बीच 2 सितंबर से चौथा टेस्‍ट शुरू होगा। ऋषभ पंत ने इंग्‍लैंड में इसी स्‍थान पर अपना पहला टेस्‍ट शतक जमाया था। तब पंत ने 146 गेंदों में 114 बनाए थे। तब भारतीय टीम 464 रन के मुश्किल लक्ष्‍य का पीछा कर रही थी।


Edited by Vivek Goel

Comments

Quick Links

More from Sportskeeda
Fetching more content...