Create

अजिंक्य रहाणे की खराब फॉर्म को लेकर चेतेश्वर पुजारा ने दी बड़ी प्रतिक्रिया 

अजिंक्य रहाणे लम्बे समय से बड़ी पारी नहीं खेल पाए हैं
अजिंक्य रहाणे लम्बे समय से बड़ी पारी नहीं खेल पाए हैं

न्यूजीलैंड के खिलाफ गुरुवार (25 नवंबर) से शुरू होने वाली टेस्ट सीरीज (IND vs NZ) कुछ भारतीय खिलाड़ियों के लिए काफी महत्वपूर्ण होगी और उनमें से एक नाम अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) का भी है। रहाणे लम्बे समय से बल्ले के साथ कुछ खास योगदान नहीं दे पाए और यह सीरीज उनके लिए निर्णायक साबित हो सकती है। हालांकि टीम के साथ बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने उम्मीद जताई है कि रहाणे आगामी सीरीज में अच्छा करते हुए फॉर्म में वापसी करेंगे।

अजिंक्य रहाणे को भारतीय मध्यक्रम की सबसे मजबूत कड़ी माना जाता है लेकिन यह बल्लेबाज पिछले कुछ समय से बड़े स्कोर बनाने में लगातार असफल हुआ है। रहाणे के बल्ले से आखिरी बार शतकीय पारी पिछले साल ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर देखने को मिली थी।

वहीं इस साल उनके बल्ले से महज दो अर्धशतक आये हैं। बात की जाए इस साल के आंकड़ों की तो रहाणे ने 19 पारियों में 19.58 की साधारण औसत से 372 रन बनाये हैं।

वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब चेतेश्वर पुजारा से रहाणे की खराब फॉर्म को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा दिग्गज बल्लेबाज बस एक पारी दूर है। उन्होंने कहा,

वह एक शानदार खिलाड़ी हैं। कई बार ऐसा होता है जब कोई खिलाड़ी कठिन समय से गुजरता है। यही इस खेल का हिस्सा है। उतार-चढ़ाव रहेगा। लेकिन मुझे लगता है कि वह एक आत्मविश्वास से भरे खिलाड़ी हैं, वह ऐसे व्यक्ति हैं जो अपने खेल पर कड़ी मेहनत करते हैं। मुझे पूरा यकीन है कि वह सिर्फ एक पारी दूर है। एक बार जब वह बड़ा स्कोर या बड़ा शतक बना लेंगे तो उनकी फॉर्म में वापसी हो जाएगी।

पुजारा ने आगे कहा कि रहाणे नेट्स में अच्छी बल्लेबाजी कर रहे और शानदार लय में हैं। अब बस उन्हें इसे मैदान में रनों में तब्दील करना होगा। पुजारा ने अपनी बात को जारी रखते हुए कहा,

वह नेट्स में कड़ी मेहनत कर रहा है, मैंने देखा है कि वह जिस तरह से बल्लेबाजी कर रहा है। वह अच्छी लय में है और उम्मीद करता है कि वह इस सीरीज में ढेर सारे रन बनाएगा।

कानपुर टेस्ट में रहाणे करेंगे कप्तानी

25 नवंबर से शुरू होने वाले टेस्ट में नियमित टेस्ट कप्तान विराट कोहली नहीं होंगे। ऐसे में टीम की कमान सँभालने की जिम्मेदारी अजिंक्य रहाणे पर होगी। रहाणे पहले भी यह जिम्मेदारी सफलतापूर्वक निभा चुके हैं। हालांकि इस बार उन पर बल्ले के साथ भी कमाल दिखाने का दबाव होगा।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment