Create

केएल राहुल के पारी की शुरुआत करने के फैसले को लेकर पाकिस्तान से आई बड़ी प्रतिक्रिया 

केएल राहुल बतौर ओपनर खेलते हुए नजर आएंगे
केएल राहुल बतौर ओपनर खेलते हुए नजर आएंगे

भारतीय वनडे कप्तान केएल राहुल (KL Rahul) के दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे सीरीज (IND vs SA) में पारी की शुरुआत करने के फैसले का पाकिस्तान के पूर्व कप्तान सलमान बट (Salman Butt) ने समर्थन किया है। बट ने इसे एक सकारात्मक कदम बताया।

पार्ल में खेले जाने वाले पहले वनडे से पहले, मंगलवार को वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान, केएल राहुल ने कहा कि रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में वह भारतीय पारी की शुरुआत करेंगे।

केएल राहुल के इस कदम के बारे में अपने यूट्यूब चैनल पर सलमान बट ने कहा,

केएल राहुल ने कहा है कि वह अलग-अलग क्रम पर खेले हैं क्योंकि टीम को उनकी जरूरत थी। लेकिन अब रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में वह बल्लेबाजी की शुरुआत करेंगे। मुझे लगता है कि यह एक अच्छा कदम है। टीम के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों को वनडे क्रिकेट में अधिकतम ओवरों का उपयोग करना चाहिए। मुझे लगता है कि यह एक बहुत ही सकारात्मक और सही कदम है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में केएल राहुल ने अपने बल्लेबाजी क्रम को लेकर कहा,

मैंने पिछले 14-15 महीनों में अलग-अलग क्रम पर बल्लेबाजी की है। लेकिन रोहित के नहीं होने पर मैं ओपनिंग करूंगा।

भारत को दो स्पिनर खिलाने चाहिए - सलमान बट

केएल राहुल ने पार्ल में स्पिन गेंदबाजों को मदद मिलने की वजह से दो स्पिनर खिलाने के भी संकेत दिए हैं। सलमान बट से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा,

मुझे लगता है कि भारत को दो स्पिनरों के साथ खेलना चाहिए। वनडे क्रिकेट में पिचें अच्छी होती हैं। लेकिन स्पिन भारत की ताकत है और दक्षिण अफ्रीका धीमी गेंदबाजी का सामना करने में अच्छे नहीं हैं। दक्षिण अफ्रीका (2017-18) में भारत की पिछली वनडे सीरीज के दौरान, युजवेंद्र चहल और कुलदीप यादव ने मिलकर 6 मैचों की सीरीज में 33 विकेट लिए थे। इसलिए, भारत को इस पर सोचना चाहिए। दक्षिण अफ्रीका की बल्लेबाजी थोड़ी अनुभवहीन है और भारत के स्पिनर इसका फायदा उठा सकते हैं।

इसके अलावा बट ने सीरीज के सभी मैचों में मोहम्मद सिराज और जसप्रीत बुमराह की जोड़ी का अतिरिक्त गति तथा आक्रामकताा की वजह से खिलाये जाने का समर्थन किया है। पूर्व कप्तान ने कहा,

भारत को वनडे टीम में सिराज और बुमराह दोनों की जरूरत है। उनके पास गति है और उनका रवैया भी अलग है। बाकी सभी मध्यम तेज गेंदबाज हैं। टी20 वर्ल्ड कप में टॉस फैक्टर के अलावा गति की कमी के कारण वे शुरुआत में फायदा उठाने में नाकाम रहे। मेरे हिसाब से सिराज और बुमराह भारत के दो विकेट लेने वाले गेंदबाज होंगे, जो दबाव बना सकते हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar
Be the first one to comment