दक्षिण अफ्रीका दौरे के लिए चुनी गयी भारतीय टीम को लेकर गौतम गंभीर ने दी बड़ी प्रतिक्रिया  

भारतीय टीम को दक्षिण अफ्रीका का मुश्किल दौरा करना है
भारतीय टीम को दक्षिण अफ्रीका का मुश्किल दौरा करना है

दक्षिण अफ्रीका दौरे (IND vs SA) के लिए चुनी गयी भारतीय टीम को लेकर पूर्व दिग्गज खिलाड़ी गौतम गंभीर (Gautam Gambhir) ने भी अपने विचार व्यक्त किये हैं। गंभीर का मानना है कि भारतीय चयन समिति ने आगामी दक्षिण अफ्रीका सीरीज के लिए एक अच्छी और संतुलित 18 सदस्यीय टेस्ट टीम का चयन किया है।

भारतीय टीम को विराट कोहली की अगुवाई में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज खेलनी है। इस सीरीज की शुरुआत 26 दिसंबर से सेंचुरियन में होने वाले टेस्ट से होगी। टीम की उपकप्तानी की जिम्मेदारी अजिंक्य रहाणे की बजाय रोहित शर्मा को सौंपी गयी है। इससे पहले यह भूमिका रहाणे के पास हुआ करती थी, जिनका बल्ले के साथ पिछले कुछ समय से निराशाजनक प्रदर्शन रहा है।

स्टार स्पोर्ट्स शो फॉलो द ब्लूज़ पर बोलते हुए गंभीर ने कहा कि भारत के पास बाएं हाथ का स्पिनर नहीं है क्योंकि अक्षर पटेल और रविंद्र जडेजा चोटों के कारण बाहर हो गए, लेकिन भारत के पास एक चैंपियन ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन है। उन्होंने कहा,

यह एक अच्छी टीम है। यह काफी संतुलित टीम है। जाहिर है, आपके पास बाएं हाथ का स्पिनर नहीं है। आपके पास दो ऑफ स्पिनर और छह तेज गेंदबाज हैं। निश्चित तौर पर परिस्थितियां तेज गेंदबाजों की मदद करेंगी और साथ ही आपके पास रविचंद्रन अश्विन भी हैं, जो आपके नंबर 1 स्पिनर हैं।

संजय बांगर ने भारत के 18 सदस्यीय टीम को लेकर प्रतिक्रिया दी

पूर्व भारतीय बल्लेबाजी कोच संजय बांगर दौरे के लिए 18 सदस्यीय टेस्ट टीम को देखकर खुश हैं क्योंकि उन्हें लगता है कि 22 सदस्यीय टीम के साथ टीम की एनर्जी और फोकस को नियंत्रित करना मुश्किल हो जाता है। उन्होंने कहा,

दक्षिण अफ्रीका के लिए भारत की टीम का चयन किया गया है और एक 18 सदस्यीय टीम का चयन किया गया है, यह सबसे अच्छी बात है क्योंकि खिलाड़ियों की संख्या अधिक हो जाती है, काम अधिक हो जाता है और टीम प्रबंधन को टीम की एनर्जी और फोकस को नियंत्रित करने में कुछ कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है। तो 22 के बजाय 18 खिलाड़ियों को लेना सबसे अच्छी बात है।

बांगर ने टीम के कॉम्बिनेशन से संतुष्टि जताई और कहा,

इसके अलावा, मुझे लगता है कि कॉम्बिनेशन भी सही है। पांच तेज गेंदबाज, एक तेज गेंदबाजी आलराउंडर, दो ऑफ स्पिनर और मध्यक्रम में ढेर सारे विकल्प रखे गए हैं।
इसलिए, मेरा मानना है कि यह एक बहुत अच्छी टीम है, जिसमें दक्षिण अफ्रीका की तेज और उछाल वाली पिचों के लिए गेंदबाजी के दृष्टिकोण से पर्याप्त विकल्प हैं।

Quick Links

Edited by Prashant Kumar