Create

INDvSL, तीसरा टेस्ट: तीसरे दिन बने सभी आंकड़ों पर एक नजर

दिल्ली टेस्ट के तीसरे दिन भारतीय गेंदबाजों की शानदार गेंदबाजी के बीच श्रीलंका के एंजेलो मैथ्यूज और दिनेश चांडीमल ने अपनी बल्लेबाजी कौशल का जबरदस्त प्रदर्शन किया। दोनों ने मिलकर न केवल चौथे विकेट के लिए बड़ी साझेदारी की, बल्कि टीम को संकट की स्थिति से भी निकाला। मैथ्यूज शतक बनाने के बाद 111 रनों के निजी योग पर पवेलियन लौट गए लेकिन कप्तान चांडीमल ने अपनी जिम्मेदारी का बखूबी निर्वहन करते हुए दिन का खेल समाप्त होने तक क्रीज पर जमे रहे। तीसरे दिन आंकड़ों के लिहाज से कुछ ख़ास कीर्तिमान बने, उनमें दिनेश चांडीमल के नाम भी कुछ रिकॉर्ड दर्ज हुए।

# चांडीमल और मैथ्यूज ने साझेदारी करते हुए 480 गेंदों का सामना किया, 2014 के बाद भारत में किसी भी जोड़ी द्वारा खेली गई सर्वाधिक गेंदें है, इससे पहले ब्रेंडन मैकलम और बीजे वॉटलिंग ने 2014 में हुए वेलिंग्टन टेस्ट में 738 गेंदों का सामना किया था।

# इस वर्ष दिनेश चांडीमल ने तीसरी बार पारी में 300 गेंदें खेली है, इस मामले में वे पहले बल्लेबाज हैं। इससे पहले उन्होंने कोलम्बो टेस्ट में बांग्लादेश और अबुधाबी में पाकिस्तान के खिलाफ यह कारनामा किया था।

# 2017 में सबसे अधिक बार 250 गेंदें खेलने के मामले में चांडीमल ने चेतेश्वर पुजारा की बराबरी कर ली है। दोनों ने 3 बार ऐसा किया है। दो बार 250 या अधिक गेंदें खेलने वाले खिलाड़ियों में अजहर अली, डीन एल्गर, दिमुथ करुनारत्ने, विराट कोहली, मुशफिकुर रहीम और स्टीव स्मिथ का नाम शामिल है।

# पिछले पांच वर्षों में पहली बार किसी विदेशी टीम की (मैथ्यूज-चांडीमल) जोड़ी ने 400 से अधिक गेंदें खेली है, 2013 में जोनाथन ट्रोट और इयान बेल ने नागपुर टेस्ट में 470 गेंदें खेली थी।

# भारत में एक टेस्ट में दोनों टीमों के कप्तानों द्वारा शतक लगाने का यह सातवां मौका है।

# 10 टेस्ट शतक बनाने में दिनेश चांडीमल श्रीलंका के पहले खिलाड़ी हैं जिन्होंने सबसे कम पारियों में ऐसा किया है। थिलान समरवीरा (84), महेला जयवर्धने (86), तिलकरत्ने दिलशान (91) और मर्वन अट्टापट्टू (97) अन्य चार नाम हैं।

Edited by Staff Editor
Be the first one to comment