Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले राजिंदर गोयल का हुआ निधन 

  • राजिंदर गोयल ने फर्स्ट क्लास क्रिकेट में लिए 750 विकेट
  • 1974-75 में भारत के लिए डेब्यू करने के काफी करीब आए थे
FEATURED COLUMNIST
न्यूज़
Modified 22 Jun 2020, 09:38 IST
राजिंदर गोयल का 77 साल की उम्र में हुआ निधन  (फोटो: Indian Express)
राजिंदर गोयल का 77 साल की उम्र में हुआ निधन (फोटो: Indian Express)

भारतीय घरेलू क्रिकेट के दिग्गज खिलाड़ी राजिंदर गोयल का रविवार को बीमारी के कारण निधन हो गया। घरेलू क्रिकेट में सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले राजिंदर गोयल 77 साल के थे और घर में उनकी पत्नी और बेटा भी है। घरेलू क्रिकेट में शानदार रिकॉर्ड होने के बावजूद वो कभी भी भारत के लिए नहीं खेल पाए, लेकिन 1974-75 में डेब्यू के करीब आए थे। हालांकि उन्हें खेलने का मौका नहीं मिला था।

बीसीसीआई के पूर्व प्रेसिडेंट रंबीर सिंह महेंद्र ने राजिंदर गोयल के निधन के बाद पीटीआई के हवाले से कहा,

"यह क्रिकेट के लिए बहुत बड़ा नुकसान है और मेरे लिए बहुत बड़ा झटका है। वो सबसे शानदार गेंदबाजों में से एक थे। फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 750 विकेट दिखाता है कि उनमें कितनी ज्यादा काबिलियत थी। वो रणजी ट्रॉफी में हरियाणा, दिल्ली और पंजाब के लिए खेले थे।"

राजिंदर गोयल के नाम है रणजी ट्रॉफी में सबसे ज्यादा विकेट लेने का रिकॉर्ड

राजिंदर गोयर 1957 में खबरों में आए, जब उन्होंने नॉर्थ जोन के लिए खेलते हुए ऑल इंडिया स्कूल टूर्नामेंट के फाइनल में उन्होंने 4 विकेट चटकाए थे। उन्होंने टूर्नामेंट का बेस्ट गेंदबाज घोषित किया गया था। अगले ही साल राजिंदर गोयल ने पटियाला के लिए रणजी ट्रॉफी में डेब्यू किया।

यह भी पढ़ें: 5 मौके जब युवराज सिंह ने मुश्किल परिस्थितियों में शानदार पारी खेली

एक दशक बाद वो दिल्ली चले गए और हरियाणा के लिए खेलने लगे। इसी के बाद वो ऑलटाइम बेस्ट गेंदबाज बने थे। हालांकि बिशन सिंह बेदी उस भारतीय टीम के प्रमुख स्पिनर थे, इसी वजह से राजिंदर गोयल को भारत के लिए खेलने का मौका नहीं मिल पाया।

हरिंदर गोयल ने अपने रणजी ट्रॉफी करियर में 637 विकेट लिए, इसके अलावा फर्स्ट क्लास क्रिकेट में उन्होंने 157 मुकाबलों में 750 विकेट लिए, जिसमें 59 बार पारी में 5 विकेट और 18 बार मैच में 10 विकेट लेने का कारनामा किया। उन्हें 2017 में सीके नायडू लाइफटाइम अचीवमेंट अवॉर्ड दिया गया था। राजिंदर गोयल घरेलू क्रिकेट में खेलने के अलावा भारतीय जूनियर क्रिकेट टीम और हरियाणा टीम के मुख्य चयनकर्ता भी रहे थे

यह भी पढ़ें: युवराज सिंह द्वारा वनडे में खेली गई 3 जबरदस्त पारियां जिसके बावजूद भारत को मिली हार

Published 22 Jun 2020, 09:38 IST
Advertisement
Fetching more content...
Get the free App now
❤️ Favorites Edit