Create
Notifications
New User posted their first comment
Advertisement

आईपीएल 2018 ने मेरे करियर को पूरी तरह बदल कर रख दिया-ऋषभ पंत

ऋषभ पंत
ऋषभ पंत
SENIOR ANALYST
Modified 01 Jul 2020, 10:50 IST
न्यूज़
Advertisement

भारतीय क्रिकेट टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने आईपीएल को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि आईपीएल 2018 का सीजन उनके करियर का सबसे अहम सीजन था और उस सीजन ने मेरे पूरे करियर को ही बदल कर रख दिया। आपको बता दें कि आईपीएल के 11वें सीजन में ऋषभ पंत ने दिल्ली कैपिटल्स की तरफ से खेलते हुए काफी रन बनाए थे।

22 साल के ऋषभ पंत ने 2018 के आईपीएल सीजन को अपने करियर का टर्निंग प्वाइंट बताया। उस सीजन के बेहतरीन प्रदर्शन की बदौलत ही उन्हें भारतीय टीम की तरफ से खेलने का मौका मिला और 2019 वर्ल्ड कप में भी वो भारतीय टीम का हिस्सा बने। हालांकि शुरुआत में वो टीम का हिस्सा नहीं थे लेकिन शिखर धवन के चोटिल होने के बाद ऋषभ पंत को वर्ल्ड कप टीम में शामिल कर लिया गया था।

ऋषभ पंत ने दिल्ली कैपिटल्स के साथ इंस्टाग्राम पर लाइव सेशन के दौरान कहा,

उस सीजन ने मेरा करियर पूरी तरह से बदल कर रख दिया, क्योंकि जब भी कोई युवा क्रिकेटर खेलता है तो फिर उसे एक बड़े मौके की तलाश होती है। मैं अच्छा कर रहा था लेकिन मुझे पता था कि मुझे और बेहतर बनना होगा। इसलिए मैं लगातार बेहतरीन प्रदर्शन करने के बारे में सोचता था।

ऋषभ पंत ने आईपीएल 2018 के सीजन में 14 पारियों में 684 रन बनाए थे। ये दिल्ली कैपिटल्स के किसी खिलाड़ी द्वारा सर्वाधिक रन था। इस दौरान पंत ने 5 अर्धशतक और एक शतक भी लगाया था। ऋषभ पंत को भारतीय टेस्ट टीम में जगह मिली, जहां उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया में शतक लगाए।

ये भी पढ़ें: विराट कोहली ने एडिलेड टेस्ट मैच की अपनी पारी को किया याद

ऋषभ पंत ने अपने आईपीएल शतक को लेकर भी दिया बड़ा बयान

ऋषभ पंत
ऋषभ पंत

ऋषभ पंत ने आईपीएल 2018 में सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ दिल्ली में शतकीय पारी खेली थी। उन्होंने सिर्फ 63 गेंद पर 15 चौके और 7 छक्के की मदद से नाबाद 128 रन बनाए थे। हालांकि इसके बावजूद उनकी टीम को हार का सामना करना पड़ा था लेकिन ऋषभ पंत के करियर के लिए वो पारी काफी अहम थी। उन्होंने उस पारी को लेकर कहा '

वो मेरे लिए काफी अलग अनुभव था, क्योंकि विकेट थोड़ा मुश्किल था। शुरु में गेंद भी थोड़ा रुककर आ रही थी और हम कुछ विकेट भी गंवा चुके थे। मुझे लगा कि टीम को संकट से निकालने के लिए मुझे जिम्मेदारी उठानी होगी। हमने सोचा कि उस विकेट पर 150-160 एक अच्छा स्कोर रहेगा लेकिन हमने 190 रन बना दिए।
Published 01 Jul 2020, 10:49 IST
Advertisement
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now
❤️ Favorites Edit