Create
Notifications

आईपीएल 2019: रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ चेन्नई सुपरकिंग्स की हार के 3 मुख्य कारण

Enter caption
Neetish Kumar Mishra
visit

इंडियन प्रीमियर लीग 2019 का 39वां मैच रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और चेन्नई सुपर किंग्स के बीच रविवार को एम० चिन्नास्वामी स्टेडियम बैंगलोर में खेला गया। इस मैच में मेजबान टीम रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने मेहमान चैन्नई सुपर किंग्स को 1 रन के छोटे अंतर से हराया। इस मैच को देखने मालदीव के राष्ट्रपति इब्राहिम मोहम्मद सोलिह भी स्टेडियम पहुंचे थे।

Maldives President Ibrahim Mohammad Solih with Virat Kohli & MS Dhoni

मैच में टॉस जीतकर चेन्नई सुपर किंग्स ने पहले गेंदबाजी का फैसला किया और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को बल्लेबाजी करने के लिए आमंत्रित किया। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में 7 विकेट खोकर 161 रन बनाए। जवाब में चैन्नई सुपरकिंग्स 20 ओवरों में 8 विकेट खोकर 160 रन ही बना सकी। मैच में शानदार प्रदर्शन के लिए पार्थिव पटेल को 'मैन ऑफ द मैच' अवार्ड दिया गया।

इस जीत के बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को 2 अंकों का फायदा हुआ लेकिन अब भी यह टीम 10 में से 3 मैच जीतकर 6 अंकों के साथ अंक तालिका में सबसे नीचे है जबकि चैन्नई सुपर किंग्स यह मैच हारने के बाद भी अंक तालिका में सबसे ऊपर बनी हुई है। चेन्नई सुपर किंग्स ने 10 में से 7 मैचों में जीत हासिल की है और 14 अंकों के साथ अंक तालिका में सबसे ऊपर है।

यूं तो इस मैच में चेन्नई की टीम के हार के कई कारण थे लेकिन हम 3 मुख्य कारणों के बारे में बात करने जा रहे हैं।

#3. ऊपरी क्रम के बल्लेबाजों का फ्लॉप होना:

Enter caption

चेन्नई सुपर किंग्स के ऊपरी क्रम के बल्लेबाजों का प्रदर्शन बेहद निराशकजनक रहा। दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज डेल स्टेन ने पहले ओवर की 5वीं एवं 6वीं गेंद पर शेन वॉटसन और सुरेश रैना को ऑउट कर चैन्नई सुपर किंग्स के ऊपरी क्रम बल्लेबाजी की कमर तोड़ दी। फाफ डु प्लेसिस भी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सके और वे 15 गेंदों पर मात्र 5 रन बनाकर ऑउट हुए। उनका विकेट चौथे ओवर में उमेश यादव ने लिया। बल्लेबाजी में अच्छी शुरुआत न मिल पाने के कारण चैन्नई सुपर किंग्स को हार का सामना करना पड़ा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#2. पार्थिव पटेल की अर्धशतकीय पारी:

Enter caption

पार्थिव पटेल ने इस सीजन अपने अच्छे प्रदर्शन से रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के प्रशंसकों को बेहद खुश किया है। वे हमेशा से ही टीम को अच्छी शुरुआत दिलाते हैं। यही काम उन्होंने चैन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ रविवार को हुए मैच में भी किया। उन्होंने 37 गेंदों पर 143.24 की स्ट्राइक रेट से 53 रनों की पारी खेली। इस पारी में उन्होंने 4 छक्के और 2 चौके भी लगाए। पार्थिव पटेल ने अपने आईपीएल करियर का 15वां अर्धशतक लगाया। जिसकी बदौलत उन्हें मैन ऑफ द मैच अवॉर्ड से सम्मानित किया गया।

पार्थिव पटेल की अर्धशतकीय पारी की बदौलत टीम को अच्छी शुरुआत मिली जिससे टीम 161 रनों के सम्मानजनक स्कोर पर पहुंच पाया। साथ ही चेन्नई सुपर किंग्स की ओर से गेंदबाजी तो अच्छी हुई लेकिन एम०चिन्नास्वामी स्टेडियम की पिच पर तेज गेंदबाजों का बोलबाला रहता है और दीपक चाहर को छोड़कर अन्य तेज गेंदबाज थोड़े मंहगे साबित हुए।

#3. धोनी का 19वें ओवर में सिंगल न लेना और पार्थिव पटेल का अंतिम गेंद पर थ्रो:

Enter caption

19वें ओवर में जब नवदीप सैनी गेंदबाजी कर रहे थे तब उसकी पहली और दूसरी गेंद पर धोनी ने अच्छा शॉट लगाने के बावजूद भी सिंगल नहीं लिया जबकि नॉन स्ट्राइक पर हिटर बल्लेबाज ड्वेन ब्रावो मौजूद थे जो बड़े शॉट लगा सकते थे। यही एक रन चेन्नई के हार का कारण बन गया।अंतिम ओवर में चेन्नई को जीतने के लिए 26 रन की जरूरत थी। एमएस धोनी ने उमेश यादव के 5 गेंदों पर 24 रन जड़ दिए थे।

अंतिम गेंद पर मैच बराबरी पर समाप्त करने के लिए एक रन की जरूरत थी, उमेश यादव ने धीमी गति की लेग कटर गेंद फेंकी जो महेंद्र सिंह धोनी के बल्ले से नहीं लगी और धोनी रन दौड़ गए। नॉन स्ट्राइक पर खड़े शार्दुल ठाकुर भी रन के लिए दौड़ पड़े लेकिन विकेटकीपर पार्थिव पटेल ने डाइरेक्ट हिट मारकर उन्हें रन ऑउट कर दिया। अंततः चैन्नई यह मैच एक रन के करीबी अंतर से हार गई।

Edited by Naveen Sharma
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now