आईपीएल 2019: 3 कारण क्यों चेन्नई सुपर किंग्स की टीम अपने घरेलू मैदान में अजेय दिखती है

Enter caption

आईपीएल 2019 का रोमांच अपने पूरे चरम पर है, चेन्नई इस सीज़न में ख़िताब की प्रबल दावेदार मानी जा रही है। फ़िलहाल धोनी की आर्मी प्वाइंट टेबल में टॉप पर चल रही है। ये टीम बाक़ी सभी टीम से कहीं ज़्यादा संतुलित नज़र आ रही है। जब होम ग्राउंड में मैच खेलने की बात आती है जब चेन्नई टीम का दबदबा देखने को मिलता है। पिछले साल राजनीतिक कारणों से सुपरकिंग्स के सभी होम गेम पुणे में शिफ़्ट हो गए थे, लेकिन इस साल धोनी की टीम अपने घर चेपक में वापस आ चुकी है।

चेन्नई ने अब तक एमए चिदंबरम स्टेडिम में आयोजित इस सीज़न के सभी मैचों में जीत हासिल की है। अगर चेन्नई टीम ऐसा ही प्रदर्शन जारी रखती है तो उसे उसके घर में हराना बेहद मुश्किल हो जाएगे। आईपीएल 2019 का पहला क्वार्टर फ़ाइल मैच चेन्नई में ही खेला जाएगा, हांलाकि क्रार्यक्रम में बदलाव संभव है। इस हालात में चेन्नई को ट्रॉफ़ी जीतने से रोक पाना किसी भी टीम के लिए आसान नहीं होगा। हम यहां उन 3 वजहों की चर्चा करेंगे जिसके आधार पर हम कह सकते हैं कि चेन्नई टीम को उसके घर में हराना बेहद मुश्किल है।


#3 चेन्नई का स्पिन अटैक

Enter caption

हांलाकि चेपक मैदान के हालात का अनुमान लगाना मुश्किल होता है, लेकिन यहां पर स्पिन अटैक को सबसे मज़बूत हथियार माना जाता है। स्पिन गेंदबाज़ी के क्षेत्र में चेन्नई टीम बेहद मज़बूत नज़र आती है। अगर विदेशी गेंजबाज़ों की बात करें तो इमरान ताहिर को टी-20 का काफ़ी अनुभव है। 38 टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों में इमरान ने 63 विकेट हासिल किए है। आईपीएल में अब तक उन्होंने 60 से ज़्यादा विकेट लिए हैं। इमरान के अलावा चेन्नई टीम में हरभजन सिंह हैं जो अपनी काबिलियत हमेशा से साबित करते आए हैं। इसके अलावा रवींद्र जडेजा इस टीम के बेहतर स्पिन गेंदबाज़ हैं। वक़्त पड़ने पर धोनी कर्ण शर्मा और मिचेल सेंटनर का भी बेहतर इस्तेमाल कर सकते हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#2 बल्लेबाज़ी के लिए मददगार हालात

Enter caption

चेन्नई सुपरकिंग्स के पास भले ही युवा और उभरते हुए बल्लेबाज़ नहीं हैं, लेकिन इस टीम के पास जैसे भी बैट्समैन हैं वो होम ग्राउंड के लिए बेहद कारगर हैं। सुरेश रैना आईपीएल की शुरुआत से ही चेन्नई सुपरकिंग्स से जुड़े हुए हैं। उन्होंने इस टूर्नामेंट में 5000 से ज़्यादा रन पूरे कर लिए हैं। फ़ॉफ़ डुप्लेसी साल 2011 से चेन्नई टीम का हिस्सा रहे हैं, उन्हें चेपक स्टेडियम में खेलने का भरपूर अनुभव हासिल है।

इसके अलावा अंबाती रायडू भी बेहतरीन बल्लेबाज़ी करते हैं और स्पिन गेंदबाज़ी पर अच्छे शॉट लगाना जानते हैं। रायडू पिछले साल चेन्नई के तरफ़ से सबसे ज़्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे। शेन वॉटसन भी धमाकेदार बल्लेबाज़ी के लिए जाने जाते हैं। चेन्नई के लोकल खिलाड़ी मुरली विजय और नारायण जगदीशन को भी चेपक मैदान में बल्लेबाज़ी करने का भरपूर अनुभव हासिल है। ऐसे हालात में चेन्नई को रोक पाना मुश्किल है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

#1 धोनी की बेहतरीन कप्तानी

Enter caption

कहा जाता है कि एक अच्छी टीम तभी तैयार हो पाती है जब उसका कप्तान अच्छा हो। चेन्नई सुपरकिंग्स में जिस तरह के अनुभवी खिलाड़ियों की जमात है उस हिसाब से टीम के पास एक बेहतरीन कप्तान होना ही चाहिए। ऐसे हालात में महेंद्र सिंह धोनी से अच्छा विकल्प कोई और हो ही नहीं सकता। जब से आईपीएल की शुरुआत हुई है तब से माही चेन्नई टीम के कप्तान हैं। उन्होंने अपनी इस टीम को हमेशा प्लेऑफ़ में पहुंचाया है।

चेन्नई सुपरकिंग्स ने धोनी की कप्तानी में 3 बार आईपीएल ख़िताब अपने नाम किया है। फ़िलहाल कोई भी दूसरा कप्तान चेन्नई के मैदान में धोनी से बेहतर नतीजा नहीं दे सकता। हांलाकि किंग्स XI पंजाब के कप्तान रविचंद्रन अश्विन ने चेपक मैदान में कई मैच खेले हैं। केकेआर के कप्तान दिनेश कार्तिक भी चेन्नई की पिच के मिज़ाज से वाकिफ़ हैं। इसके बावजूद इस मैदान में धोनी ने ज़्यादा कामयाबी हासिल की है। धोनी को स्थानीय जनता का पूरा समर्थन मिलता है, इसका सीधा फ़ायदा टीम को हासिल होता है।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Quick Links

App download animated image Get the free App now