Create

आईपीएल 2019: 3 तरीके जिनसे रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर अभी भी प्लेऑफ के लिए क्वालिफाई कर सकती है

Virat Kohli

इंडियन प्रीमियर लीग के 11 सत्रों में एक बार भी ट्रॉफी नहीं जीतने के बावजूद, रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर एमएस धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स (सीएसके) और रोहित शर्मा की मुंबई इंडियंस (एमआई) के साथ टूर्नामेंट की सबसे पसंदीदा टीमों में से एक है।

हालांकि पिछली बार की तरह इस बार भी वे टूर्नामेंट जीतने के प्रबल दावेदार नहीं हैं लेकिन कुछ मैचों में उन्हें बहुत नज़दीकी हार मिली है जिसकी वजह से उनके प्रशंसक ज़रूर निराश होंगे।

लगातार 6 मैचों में हार के साथ, यह निस्संदेह आईपीएल इतिहास में रॉयल चैलेंजर्स की सबसे खराब शुरुआत है। हालाँकि, वे अभी भी अपने बाकी बचे आठों मैच जीतकर प्लेऑफ में जगह बना सकते हैं।

विराट बिग्रेड निश्चित रूप से 2014 में मुंबई इंडियंस के प्रदर्शन से प्रेरणा ले सकती है, जहां उन्होंने अपने पहले 5 मैच गंवाने के बावजूद शानदार वापसी की थी और प्लेऑफ में जगह बनाने में कामयाब रहे थे। लेकिन, पहले 6 मैच गंवाने के बावजूद रॉयल चैलेंजर्स में वापसी करने की पूरी क्षमता है।

तो आइए जानते हैं जिनकी वजह से आरसीबी प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई कर सकती है:

#3. विराट कोहली-एबी डिविलियर्स का खेल

AB De Villiers and Virat Kohli

इस सीजन में अब तक, केवल दो मौकों पर ही आरसीबी ने बड़ा स्कोर बनाया है (181 बनाम एमआई और 205 बनाम केकेआर) जब इन दोनों बल्लेबाजों ने शानदार पारियां खेली हैं। हालांकि, टीम में पार्थिव पटेल, मोइन अली और मार्कस स्टोइनिस जैसे पावरफुल हिटर्स भी हैं लेकिन आरसीबी अभी भी विराट कोहली और डीविलियर्स पर बहुत अधिक भरोसा कर रही है।

इस आईपीएल में भी रॉयल चैलेंजर्स को वापसी दिलाने का सारा दारोमदार इन दो खिलाड़ियों पर होगा। यह जोड़ी किसी भी विपक्षी गेंदबाज़ी आक्रमण की बखिया उधेड़ने की ताकत रखती है। तो बिना किसी शक के यह दोनों बल्लेबाज़ आरसीबी की सफलता की कुंजी हैं।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज़ स्पोर्ट्सकीड़ा पर पाएं

#2. गेंदबाजी आक्रमण पर होगा दारोमदार

Yuzvendra Chahal

हालांकि टी-20 को बल्लेबाजों का खेल माना जाता है और यह हमेशा ही गेंदबाजों की क़ब्रगाह साबित होता आया है लेकिन इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि आईपीएल जैसे मेगा टूर्नामेंट में बल्लेबाजों के साथ-साथ गेंदबाजों की भी उतनी ही अहमियत है।

दुर्भाग्य से, बल्लेबाजी की तरह, आरसीबी का गेंदबाजी आक्रमण भी फिलहाल अपने रंग में नज़र नहीं आ रहा।उनके पास इस समय ऐसा कोई गेंदबाज़ नहीं है जो विपक्षी बल्लेबाज़ी लाइन-अप को तहस-नहस कर सके। कुछ मुकाबलों में वे बड़े स्कोर का बचाव करने में भी विफल रहे हैं और विशेषकर डेथ ओवरों में बेहतर स्थिति में होने के बावजूद हार गए हैं।

लेकिन इस सबके बावजूद उनके पास कुछ बेहतरीन गेंदबाज़ हैं जो अपने दिन में अकेले दम पर मैच का पासा पलट सकते हैं। रॉयल चैलेंजर्स के पास टिम साउदी, उमेश यादव, मोईन अली, युजवेंद्र चहल के अलावा अब, मार्कस स्टोइनिस भी हैं जो आरसीबी की किस्मत बदल सकते हैं।

#1. विराट को दिखानी होगी नेतृत्व क्षमता

Image result for rcb

जैसा कि हमेशा होता रहा है और जो कुछ हद तक सही भी है कि निराशाजनक प्रदर्शन के बाद कप्तान को ही सबसे ज़्यादा आलोचना का शिकार होना पड़ता है। तो लगातार 6 मैच हारने वाली आरसीबी के कप्तान विराट कोहली को भी नहीं बख्शा गया।

गौतम गंभीर सहित दुनिया भर के क्रिकेट विशेषज्ञों ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर शानदार रिकॉर्ड के बावजूद विराट के नेतृत्व कौशल की खुलकर आलोचना की है। लेकिन यह आलोचना विराट एंड कंपनी के लिए कैटालिस्ट का काम भी कर सकती है।

यह महत्वपूर्ण है कि विराट एमएस धोनी की नेतृत्व क्षमता से सीख लें। बस रूटीन टीम का चयन, सामान्य फील्ड सेटिंग और साधारण बॉलिंग बदलाव आरसीबी को प्लेऑफ में नहीं पहुंचाएंगे, बल्कि उन्हें जीतने के लिए एक व्यापक रणनीति तैयार करने की आवश्यकता है।

इसके अलावा उन्हें सूझबूझ से गेंदबाजी परिवर्तन करने होंगे। साथ ही, मैच की स्थिति के आधार पर बल्लेबाजी क्रम को लचीला बनाना होगा। टी- 20 जैसे फटाफट क्रिकेट के प्रारूप में एक गलत निर्णय पूरे मैच का पासा पलट सकता है इसलिए कप्तान कोहली को पिछली हार के ग़म को भुलाकर नए सिरे से शुरुआत करनी होगी और टीम में जीत की भूख पैदा करनी होगी।

लेखक: शशांक श्रीवास्तव अनुवादक: आशीष कुमार

Quick Links

Edited by Naveen Sharma
Be the first one to comment