Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

आरसीबी के खिलाफ एमएस धोनी की मंशा पर सवाल नहीं उठाए जा सकते: स्टीफन फ्लेमिंग

Richa Gupta
ANALYST
न्यूज़
1.91K   //    Timeless

Enter caption

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ फंसे हुए मैच में महेंद्र सिंह धोनी का रन न लेना विवादों के घेरे में आ गया है। हालांकि, चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान के फैसले का कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने भरपूर समर्थन किया है। उन्होंने कहा कि वह अंतिम ओवरों में अपने कप्तान की मंशा पर सवाल नहीं उठा सकते हैं। दरअसल, यह विवाद तब पैदा हुआ जब 19वें ओवर में नॉन स्ट्राइकर एंड पर खड़े ब्रावो को धोनी ने एक रन लेकर स्ट्राइकर एंड पर आने से रोक दिया था। ऐसा उन्होंने कई बार किया। 

फ्लेमिंग ने कहा कि महेंद्र सिंह धोनी बहुत अनुभवी कप्तान हैं। उन्हें मालूम है कि कौन, किन परिस्थितियों में कैसा प्रदर्शन करेगा। धोनी हर चीज का आंकलन इतने सटीक तरीके से करते हैं कि अंतिम ओवरों में आप उनकी मंशा पर सवाल नहीं खड़े कर सकते हैं। इसमें कोई शक नहीं कि ब्रावो के पास बड़े शॉट्स खेलने की काबिलियत है लेकिन कप्तान को लगा कि वह इस तरह से आसानी से मैच जिता देंगे। मैं उनके हर कदम का समर्थन करूंगा। उन्होंने कई बार ऐसा किया है और टीम को सफलतापूर्वक जीत हासिल करवाई है। ऐसा नहीं है कि हम जीत के करीब नहीं थे लेकिन दुर्भाग्यवश हार गए। इस वजह से हम उनकी मंशा पर सवाल नहीं उठा सकते हैं।

Enter caption

कोहली बोले, डर गया था धोनी की बल्लेबाजी देखकर

उधर तीसरी जीत हासिल करने वाले आरसीबी के कप्तान विराट कोहली ने कहा कि धोनी की बल्लेबाजी देखकर मैं डर ही गया था। इतने कम अंतर से मैच जीतकर काफी अच्छा लग रहा है। मुझे तो आखिरी गेंद तक नहीं महसूस हो रहा था कि हम मुकाबला जीतेंगे। धोनी जिस तरह आक्रामक बल्लेबाजी कर रहे थे, उससे तो लग रहा था कि हम मैच गंवा देंगे। उन्होंने सबकी सांसे ही थाम दी थीं। अच्छी बात यह रही कि नवदीप सैनी ने सटीक गेंदबाजी करते हुए सीएसके को रोक दिया। 

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...