Create
Notifications
Favorites Edit
Advertisement

विराट कोहली से बहस के बाद अंपायर नाइजल लॉन्ग को आया गुस्सा, लात मारकर तोड़ दिया दरवाजा

Richa Gupta
ANALYST
न्यूज़
2.49K   //    Timeless

Enter caption

जिस तरह से क्रिकेट तेज होने के साथ एडवांस हो रहा है, उस लिहाज से खिलाड़ियों और अंपायरों के बीच तल्खी भी बढ़ती जा रही है। अब पता चला है कि रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर और सनराइजर्स हैदराबाद के बीच हुए आखिरी लीग मुकाबले में विराट कोहली से बहस के बाद अंपायर नाइजल लॉन्ग बेहद नाराज हो गए थे। उन्होंने हैदराबाद की पारी खत्म होने के बाद अपने रूम का गुस्से में दरवाजा तोड़ डाला था।

दरअसल, पूरा मामला तब उठा, जब अंपायर नाइजल लॉन्ग ने उमेश यादव की एक गेंद को नो-बॉल करार दे दिया था। उस फैसले में उनसे गलती हो गई थी क्योंकि वो नो-बॉल नहीं थी। टीवी-रीप्ले में फुटेज आया तो उसमें साफ था कि उमेश का पिछला पैर लाइन के पीछे ही पड़ा था। नियमों के मुताबिक वो नो-बॉल नहीं थी। इस पर उमेश यादव ने अंपायर से बहस की। इतने में आरसीबी कप्तान विराट कोहली भी आ गए और उन्होंने फैसले पर विरोध जताया। फिर भी अंपायर ने अपना निर्णय वापस नहीं लिया। मालूम हो कि इस तरह का गलत फैसला 50 वर्षीय अंपायर नाइजल लॉन्ग के लिए शोभा नहीं देता है क्योंकि वह आईसीसी के एलीट पैनल में शामिल हैं।

मैदान में कोहली और अंपायर लॉन्ग के बीच में काफी गहमागहमी हो गई। ग्राउंड स्टाफ का कहना है कि सनराइजर्स हैदराबाद की पारी जब खत्म हुई तो लॉन्ग साथी अंपायर के साथ पवेलियन में अपने रूम में गए। वहीं अंपायर ने गुस्से में दरवाजे पर जोर से लात मार दी, जिससे वो टूट गया। इस पर कर्नाटक राज्य क्रिकेट असोसिएशन (केएससीए) ने मामले की जानकारी मैच रैफरी नारायम कुट्टी को दी। वहीं, अंपायर लॉन्ग ने दरवाजे को सही करवाने के लिए अपने पास से पांच हजार रुपये भी दिए। फिलहाल अब केएससीए इस मामले की जानकारी बीसीसीआई की प्रशासकों की समिति (सीओए) को देगा।

Hindi Cricket News, सभी मैच के क्रिकेट स्कोर, लाइव अपडेट, हाइलाइट्स और न्यूज स्पोर्टसकीड़ा पर पाएं

Tags:
Advertisement
Advertisement
Fetching more content...