Create
Notifications

3 खिलाड़ी जो अगर आईपीएल में कप्तान नहीं होते तो शायद उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिलती

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL
सावन गुप्ता
visit

आईपीएल (IPL) में कप्तानी की काफी अहम भूमिका होती है। रोहित शर्मा (Rohit Sharma) और एम एस धोनी (MS Dhoni) की चर्चा इसलिए सबसे ज्यादा होती है क्योंकि उन्होंने सबसे ज्यादा बार आईपीएल की ट्रॉफी जीती है। रोहित शर्मा ने 5 बार और एम एस धोनी ने 3 बार आईपीएल की ट्रॉफी अपने नाम की है। इसके अलावा भी कई दिग्गज भारतीय खिलाड़ी रहे जो आईपीएल में कप्तान के तौर पर काफी सफल रहे।

जिस तरह से इस टूर्नामेंट में जल्दी-जल्दी हालात बदलते हैं उसे देखते हुए एक कप्तान को हर वक्त चौंकन्ना रहना होता है। उसे हर गेंद के मुताबिक अपनी रणनीति बनानी होती है। आईपीएल में सभी टीमों के पास बेहतरीन कप्तान होते हैं और इनके ऊपर अपनी टीम को आगे ले जाने की पूरी जिम्मेदारी होती है।

आईपीएल के इस सीजन में भी कई कप्तानों ने अपने रणनीति से सबको प्रभावित किया। कई बेहतरीन टैक्टिस उन्होंने टीम की सफलता के लिए अपनाए। हालांकि एक कप्तान को रणनीति बनाने के अलावा मैदान में खुद भी अच्छा प्रदर्शन करना होता है। क्योंकि अगर कप्तान ही अच्छा परफॉर्मेंस नहीं कर पाएगा तो फिर दूसरे प्लेयर्स के लिए उदाहरण नहीं पेश होगा। हालांकि कई बार एक कप्तान भी फ्लॉप हो जाता है लेकिन कप्तान होने की वजह से उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह मिलती रहती है।

ये भी पढ़ें: 3 चौंकाने वाली रणनीति जो इस आईपीएल सीजन टीमों के लिए काफी कारगर साबित हुई

हम आपको इस आर्टिकल में इस सीजन के उन 3 खिलाड़ियों के बारे में बताएंगे जो अगर कप्तान नहीं होते तो शायद उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह भी नहीं मिलती। आइए जानते हैं कौन-कौन से कप्तान इस लिस्ट में हैं।

3 खिलाड़ी जो अगर आईपीएल में कप्तान नहीं होते तो उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह नहीं मिलती

3.रोहित शर्मा

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL

रोहित शर्मा का नाम इस लिस्ट में देखकर आप चौंक गए होंगे, क्योंकि वो सीमित ओवरों की क्रिकेट के जबरदस्त खिलाड़ी हैं। मुंबई इंडियंस को उन्होंने 5 बार आईपीएल की ट्रॉफी जिताई है और कई लोगों का ये भी मानना है कि विराट कोहली को भारतीय टीम की टी20 कप्तानी से हटाकर रोहित शर्मा को कप्तान बना दिया जाना चाहिए।

रोहित शर्मा का कप्तान के तौर पर मुंबई इंडियंस के साथ रिकॉर्ड काफी बढ़िया रहा और उन्होंने रिकॉर्ड 5वीं बार टीम को आईपीएल चैंपियन बनवाया लेकिन एक खिलाड़ी के तौर पर उनका रिकॉर्ड उतना अच्छा नहीं रहा। उन्होंने इस सीजन 12 मैचों में 27.66 की साधारण औसत से सिर्फ 332 रन बनाए।

मुंबई इंडियंस की टीम में क्रिस लिन, क्विंटन डी कॉक और ईशान किशन जैसे खिलाड़ी ओपनर के तौर पर मौजूद हैं। कह सकते हैं कि अगर रोहित शर्मा इतने बेहतरीन कप्तान नहीं होते तो शायद उन्हें मुंबई की टीम में लगातार इतने मौके नहीं मिलते।

ये भी पढ़ें: 2004 में ऑस्ट्रेलिया से घर में हारने वाली भारतीय टीम के सभी सदस्यों की जानकारी

2.स्टीव स्मिथ

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL

स्टीव स्मिथ इस सीजन राजस्थान रॉयल्स की टीम के कप्तान थे और उनकी कप्तानी में टीम सबसे निचले पायदान पर रही। एक कप्तान के तौर पर और एक खिलाड़ी के तौर पर भी स्मिथ का परफॉर्मेंस अच्छा नहीं रहा। उन्होंने इस आईपीएल सीजन 14 मैचों में 25.91 की औसत से सिर्फ 311 रन बनाए।

राजस्थान रॉयल्स की टीम में कई बेहतरीन विदेशी और भारतीय खिलाड़ी मौजूद हैं। अगर स्मिथ कप्तान नहीं होते तो शायद उन्हें प्लेइंग इलेवन में जगह भी नहीं मिलती।

1.दिनेश कार्तिक

Photo Credit - IPL
Photo Credit - IPL

दिनेश कार्तिक इस आईपीएल आधे सीजन तक केकेआर के कप्तान रहे। लगातार कुछ मुकाबले हारने के बाद उन्होंने कप्तानी छोड़ दी लेकिन एक प्लेयर के तौर पर भी दिनेश कार्तिक का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा।

कार्तिक को इस सीजन सभी 14 मैचों में खेलने का मौका मिला लेकिन वो 14 की औसत से सिर्फ 169 रन ही बना पाए। कह सकते हैं कि अगर कार्तिक कप्तान नहीं होते तो उन्हें इतने मौके नहीं मिलते।

Edited by सावन गुप्ता
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now