Create
Notifications

IPL 2020 : 8 दिग्गज गेंदबाज जो अपनी टीमों के लिए अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं 

केकेआर की टीम के साथ कुलदीप यादव
केकेआर की टीम के साथ कुलदीप यादव
akhilesh.tiwari19
visit

दुनिया की मशहूर इंडियन प्रीमियर लीग ने जसप्रीत बुमराह, नवदीप सैनी, युजवेंद्र चहल और कई गेंदबाजी प्रतिभा को मौका दिया है। हालांकि इस तथ्य से कोई इंकार नहीं है कि लीग में लगातार अच्छा प्रदर्शन करना सभी गेंदबाजों के लिए बेहद मुश्किल है।

यूएई में मौजूदा आयोजित आईपीएल 2020 में बल्लेबाजी के अनुकूल ट्रैक और छोटे मैदानों पर गेंदबाजी करना सभी गेंदबाजी के लिए बड़ी चुनौती साबित हो रहा। फिर चाहे वह पेसर हो या स्पिनर, बल्लेबाज के पाले में जाते ही गेंद सीमा रेखा के पार चली जाती है। ऐसे में सही लाइन-लेंथ और वैरिएशन वाले गेंदबाज ही यूएई के मैदानों पर सफल रहे हैं। इस लेख में, हम प्रत्येक फ्रेंचाइज़ी के एक गेंदबाज के बारे में बात करेंगे जो अपनी गलती से सीख नहीं ले रहे और टीमों के लिए बोझ बन गए हैं।

जानिए कौन हैं वो 8 गेंदबाज:-

#8 उमेश यादव (RCB)

उमेश यादव
उमेश यादव

विराट कोहली की अगुवाई वाली रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर ने अब तक इस सीजन शानदार प्रदर्शन किया है। हालांकि इसके बावजूद उनके गेंदबाजी आक्रमण में खामियां नज़र आ रहीं हैं, जिसकी सबसे बड़ी वजह उमेश यादव हैं।

सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ आरसीबी के पहले मुकाबले में उमेश यादव की जॉनी बेयरस्टो ने जमकर पिटाई की। उन्होंने 4 ओवरों में 10 से ज्यादा की औसत से 48 रन खर्च किए। 163 रनों का लक्ष्य देने के बावजूद बैंगलोर के लिए उमेश की खराब गेंदबाजी एक बड़ी चिंता का विषय था।

वहीं किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ उमेश ने 3 ओवर में बिना विकेट लिए 35 रन दिए। यह मुकाबला आरसीबी ने गंवा दिया था। इसके बाद उमेश को राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ मैच में टीम की प्लेइंग 11 में जगह नहीं मिली।

#7 लुंगी एनगीडी (CSK)

लुंगी एनगीडी
लुंगी एनगीडी

दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज लुंगी एनगीडी ने चेन्नई के लिए पहले मैच में मुंबई इंडियंस के खिलाफ 3 विकेट लेकर जीत में अच्छा योगदान दिया था। हालांकि इस दौरान उन्होंने 4 ओवर में 38 रन लुटाए। लेकिन राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ उनके प्रदर्शन में बड़ी गिरावट आई और 4 ओवर के स्पेल में इस गेंदबाज ने 56 रन दे दिए और सिर्फ 1 विकेट झटका। जिसमें अंतिम ओवर में उन्होंने 30 रन लुटाए, जोकि चेन्नई की हार का बड़ा कारण रहा।

#6 क्रुणाल पांड्या

क्रुणाल पांड्या
क्रुणाल पांड्या

मुंबई इंडियंस के ऑलराउंडर और बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज क्रुणाल पांड्या इस सीजन गेंद से इम्प्रेस करने में नाकाम रहे हैं। अब तक खेले गए 5 मैचों में क्रुणाल ने सिर्फ 3 विकेट लिए हैं और इस दौरान उनका इकॉनमी रेट 8 से भी ज्यादा का रहा है।

चेन्नई के खिलाफ पहले मुकाबले में क्रुणाल पांड्या ने 4 ओवर में 9.25 की औसत से रन लुटाते हुए सिर्फ एक विकेट झटका था। जबकि केकेआर के खिलाफ उन्होंने अपने पहले ही ओवर में 10 रन दे दिए, जिसके बाद रोहित ने मैच में बाएं हाथ के स्पिनर का इस्तेमाल नहीं किया था।

#5 आवेश खान

आवेश खान
आवेश खान

मौजूदा समय में दिल्ली की टीम भले पॉइंट्स टेबल में पहले नंबर पर स्थित है लेकिन गेंदबाजी विभाग में आवेश का प्रदर्शन फ्रेंचाइजी को परेशानी कर रहा है। आवेश खान ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ एकमात्र मैच खेला, जिसमें उन्होंने 4 ओवर में 42 रन दिए और कोई विकेट भी नहीं ले सके। इस मैच में वह दिल्ली की तरफ सबसे अधिक रन लुटाने वाले एकमात्र गेंदबाज थे।

#4 संदीप शर्मा

संदीप शर्मा
संदीप शर्मा

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के खिलाफ पहले मैच में बिना कोई विकेट लिए संदीप शर्मा ने 4 ओवर में 36 रन दिए। उन्होंने बैंगलोर के सलामी बल्लेबाजों को हाथ खोलने का पूरा मौका दिया जो अंत में एसआरएच के लिए महंगा हुआ और आरसीबी ने 10 रन से मैच जीत लिया।

शर्मा ने पिछले कुछ वर्षों में SRH के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है और उनका खराब प्रदर्शन ऑरेंज आर्मी के लिए थोड़ी चिंता का विषय है।

#3 जयदेव उनादकट

जयदेव उनादकट
जयदेव उनादकट

नीलामी में सबसे महंगे बिकने वाले भारतीय खिलाड़ियों में से एक जयदेव उनादकट उम्मीदों के अनुसार प्रदर्शन करने में नाकाम रहे हैं। जो राजस्थान के लिए बड़ी समस्या बन गई है।

उनादकट ने पहले मैच में चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ 4 ओवरों में बिना विकेट लिए 44 रन दिए। किंग्स इलेवन के खिलाफ अगले मैच में, उन्होंने 3 ओवर में बिना कोई विकेट लिए 30 रन दिए। अगले गेम में उनके प्रदर्शन में थोड़ा सुधार हुआ, जहां उन्होंने सुनील नारेन का विकेट लिया, लेकिन केवल दो ओवर फेंके। ऐसे में राजस्थान के लिए उनादकट अब ‘ऊंची दुकान फीके पकवान’ बनकर रह गए हैं।

#2 क्रिस जॉर्डन

क्रिस जॉर्डन
क्रिस जॉर्डन

किंग्स इलेवन पंजाब के बल्लेबाजों के शानदार प्रदर्शन के बावजूद टीम हार को जीत में तब्दील नहीं कर पा रही। इसके पीछे उनकी गेंदबाजी इकाई का बड़ा हाथ हैं। डेथ ओवरों में KXIP के स्ट्राइक बॉलर के तौर पर क्रिस जॉर्डन को टीम से जोड़ा गया है, जिनसे सिर्फ निराश मिली है।

उन्होंने दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ पहले मैच में 4 ओवर में एक भी विकेट लिए बिना 56 रन दिए, जिसके बाद उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया।

उन्होंने अंतिम ओवर में 30 रन पर लुटाए, जो दिल्ली की जीत में बड़ा फैक्टर रहा। विदेशी खिलाड़ी होने के नाते किंग्स इलेवन पंजाब को उनसे बड़ी उम्मीदें हैं जो अब बोझ में तब्दील हो गई है।

#1 कुलदीप यादव

कुलदीप यादव
कुलदीप यादव

इस लिस्ट में कुलदीप यादव का नाम भले चौंकाने वाला है लेकिन आंकड़ों की मानें तो चाइनमैन गेंदबाज का फ्लॉप शो केकेआर को परेशान कर रहा।

कुलदीप ने बिना कोई विकेट लिए मुंबई के खिलाफ 4 ओवर में 39 रन दिए। अगले गेम में उन्होंने 15 रन खर्च करके एक विकेट लिया, लेकिन केवल 2 ओवर फेंके। राजस्थान के खिलाफ मैच में, उन्होंने 3 ओवरों में 1 विकेट लेकर 20 रन दिए। हालांकि, आश्चर्यजनक बात यह थी कि कप्तान दिनेश कार्तिक ने यादव को 16वें ओवर में गेंदबाजी दी, जब मैच लगभग केकेआर के हाथ से निकल गया था।

कुलदीप पर कप्तान दिनेश कार्तिक ने अब तक पर्याप्त विश्वास नहीं दिखाया है। वह लगभग उन्हें अपने 5वें या 6ठे गेंदबाजी विकल्प के रूप में उपयोग करते हैं। जिसका मतलब है कि कप्तान उनके खराब फॉर्म को बोझ मानने लगे हैं।

Edited by निशांत द्रविड़
Article image

Go to article

Quick Links:

More from Sportskeeda
Fetching more content...
App download animated image Get the free App now